12 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: स्टार्टिंग के मंथ एम ऍब्डोमेन एम पेन क्यू होता ह

1 Answers
सवाल
Answer: हेलो ऍब्डोमेन पेन आपको हो रहा है .आपने यह नहीं बताया कि आपको पेट के किस हिस्से में दर्द होता है.अगर आपको कोई हेल्थ कॉम्प्लिकेशन नही है तब प्रेग्नसी में हलका पेट दर्द होना नॉर्मल है जैसे जैसे आपकी प्रेगनेंसी आगे बढ़ती है गर्भाशय भी बढ़ता है और आपके मांसपेशियों नसो जोड़ों में खीचाव होता है जिस कारण निचले पेट में दर्द होता है। जब आप अचानक अपनी स्थिति बदलती हैं तो दर्द तेज या बहुत तेज़ हो सकता है। ये दर्द कुछ समय बाद अपने आप ठीक हो जाते है आप लेफ्ट साइड करवट ले कर दर्द को कम कर सकती है आप क्रॉस लेग ना बैठे आप आराम करे थकान वाले काम ना करे अगर आपको दर्द ज़्यादा हो रहा है तो आप डॉक्टर से सलाह ले पानी भरपूर पीये कभी कभी ये दर्द कब्ज़ गैस के कारण भी हो सकता है कोशिश करें कि ज्यादा देर खड़ी भी ना रहे एक ही पोजीशन में ना बैठे , अपनी पोजीशन बदलते रहे साथ ही अगर आप हील वाली चप्पल या सैंडल पहनती हैं तो अवॉयड करें जब भी आप सो कर उठे तो एकदम से ना उठे हैं पहले करवट ले फिर उठे हैं. अपना ध्यान रखें अपने खाने-पीने का ध्यान रखें.
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: मुजे पेट के निचले हिस्से में पेन क्यू होता ह मुजे 8तो मंथ चल रहा ह
उत्तर: हेलो डियर प्रेगनेंसी के दौरान पेट के निचले हिस्से में दर्द कभी भी हो सकता है डियर इसमें घबराने की कोई बात नहीं है यह दर्द लगभग सभी महिलाओं में होता रहता है इसलिए आप टेंशन मत लीजिए . आप अपना पेट का दर्द कम करने के लिए गर्म पानी की बोतल से सिकाई कर सकते हो डियर या फिर आप इस वक्त गर्म पानी से भी नहा सकते हो इससे आपको राहत मिलेगी और प्रेगनेंसी में कभी-कभी पेट दर्द भूख लगने की वजह से भी होती रहती है डियर इसीलिए आप अपना खाना पीना टाइम पर करें . अगर आपक पेट दर्द सहन करने जैसा ना हो तो आप डॉक्टर से कंसल्ट करें . ख्याल रखें .
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मुझे पेल्विक पेन हो रह ह ओर पेट एम भी रुक रुक के पेन होता ह एम क्या करु
उत्तर: डियर परेगेंसी में हलक फूलक पेन होना to कोई बड़ी bat नहीं है पर अगर आपको पेन कुछ ज्यादा है to आप अपने डॉक्टर से मिले
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: ऍब्डोमेन पेन क्यों होता hai
उत्तर: हेलो डियर प्रेग्नेन्सी में हल्का फुल्का पेट में दर्द होना नॉर्मल है प्रेग्नेन्सी में होने वाले हार्मोनल परिवर्तन की वजह से ऐसा होता है ।आप परेशान ना हो।कभी कभी पेट दर्द गैस और कब्ज की वाजह से भी होने लगता है इसलिए आप सन्तुलित और पौष्टिक फ़ूड खाइए ज़्यादा से ज्यादा मात्रा में पानी पीजीए ।तनाव मुक्त रहिए।कोई भी भारी समान ना उठाये ।ज्यादा देर तक एक ही जगह पर खडे ना रहे और ना ही बैठे।रात मे एक ही करवट लेकर ना सोए।अगर ज्यादा तेज पेट मे दर्द होता है तो डॉक्टर से सलाह लीजिए।
»सभी उत्तरों को पढ़ें