11 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: सोते समय मीयर पाव की बहुत जलन hoti हे.

2 Answers
सवाल
Answer: हेलो डिअर , आपको अगर प्रेग्नेंसीय में पैरो में जलन हार्मोन चेंज होने की वजह से होता है ऐसे में आप अपने पैरो में होने वाले जलन के लिए आप अपने पैरों को ठंडे पानी मे डाले और निकाल ले ये प्रक्रिया दिन में 2 से 3 बार करे पैरो की जलन ठीक हो जाएगी , अपने पैरों के तलुए पे कड़ी पत्ता का पेस्ट लगाए जलन कम हो जाती है , पानी मे हल्दी डाल कर पैरो को धोएं, आप अपने पैरों की मालिश नारियल के तेल में कपूर डाल कर करे पैरो में कम जलन होगी , रोज सुबह नंगे पैर भीगी घास पे walk करे जलन में आराम होगा!
  • avatar
    Pratiksha Wavhal95 days ago

    Thank u

Answer: . वो नॉर्मल हे क्युकी बेबी की ग्रोथ के वजेसे होता he
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: मेरा बेबी सोते समय बहुत आवाज करता हे
उत्तर: आप उनके गले को सीधा करके सुलाएं ज़्यादातर बच्चे गले से अवाज तभी करते हैं जब हमारा गला किसी गलत पोजीशन में दबा हुआ हो या हम किसी गलत पोजीशन में सर रखकर सो गए हैं इसलिए आप अपने बच्चे का सिर बीच बीच मे हिलाते रहिए और सीधा भी सुलाते रहिए इससे अपने आप अवाज की समस्या कम हो जाएगी ध्यान रखें कि बच्चे को सर्दी खांसी ना हो नहीं तो कभी-कभी कफ का जम जाने से भी स्नोरिंग होती है जिसके लिए बच्चे को भाप दे सकती हैं।लेकिन अगर aram नहीं मिल रहा है तो आप बच्चे को जरूर डॉ को दिखाए।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मज़े सोते समय पैरो के तलबो मे बहुत जलन होती hai
उत्तर: गर्भावस्था के दौरान हम जितनी भी le उतना ही कम होता है ज्यादातर गर्भावस्था के दौरान खून की कमी हो जाने के कारण हमारे तलवे पर जलन महसूस होती है विटामिन बी और विटामिन बी12 की कमी के कारण भी हमारे हाथ पैर में जलन महसूस होती है क्योंकि विटामिन बी12 कोशिकाओं के नए निर्माण में सहायक होते हैं और लाल रक्त कोशिकाओं के निर्माण में भी सहायक होते हैं और अगर हमारे शरीर में खून अच्छी तरह से नहीं बन पाते हैं जिसकी वजह से पूरे शरीर में ब्लड का सरकुलेशन सही मात्रा में नहीं हो पाता जिसके कारण पैरों में झनझनाहट और तलवे पर जलन महसूस होती है इसलिए आप अपना हिमोग्लोबिन चेक कराने के साथ-साथ कुछ घरेलू उपचार भी कर सकते हैं जैसे 2 गिलास गर्म पानी में एक चम्मच सरसों का तेल मिलाकर अपने पैरों को 10 मिनट तक इस पानी पर रखें और फिर धो लें इसे आपके पैरों पर ब्लड का सरकुलेशन अच्छी तरह से होगा और यह जलन कम होती है lauki ya ghiya ke guda को भी पैरों के तलवे पर लगाने से पैरों की जलन दूर होती है अगर पैरों की जलन बहुत ज्यादा हो तो आप करेले के पत्ते को पीसकर इसका लेप लगाने से भी पैरों की जलन ठीक होते हैं आप अदरक के रस के साथ नारियल का या फिर जैतून का तेल मिलाकर उसे talve पर लगाएं आप ice को भी अपने पैरों पर रगड़ सकते हैं जिसे कि ब्लड का सरकुलेशन अच्छी तरह से हो
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरा बाबु मेरा दूध नही पीती हे बहुत रोती हे दूध पीते समय बस सोते समय पीती हे क्या karu
उत्तर: स्तनपान करने के बाद या बोतल से दूध पिलाने के बाद माँ को खड़े होकर बच्चे को अपने गोद में ले लेना चाहिए। गोद में बच्चे की स्थिति ऐसे होनी चाहिए की औरत की छाती से बच्चा चिपका हुआ हो। चूँकि बच्चे का सर बहुत कमजोर होता है इसीलिए बच्चे का सर माँ के कंधे पे रखें सहारे के लिए। बच्चे की पीट पे हलके से थपकी लगते हुए या बिलकुल धीरे-धीरे रगड़ते हुए बच्चे को डकार दिलाए।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मुजे ना बहुत सोते समय बहुत तकलीफ होती हें
उत्तर: hello dear प्रेग्नंसी के दौरांन आपको सही तरीके से सौना चाहिए।आप कभी भी एक पोजीशन में लगातार ना सोए। थोड़ी थोड़ी देर पर करवट बदलते रहिए। गर्भावस्था में बायीं करवट लेकर सोना फायदेमंद होता है।पेट के बल तो कभी भी नहीं सोना चाहिए क्योंकि इससे पेट पर दबाव पड़ता है जिससे आपकी बेबी को नुकसान पहुंच सकता है।और ज्यादा देर तक पीठ के बल सोने से भी आपकी पीठ मे दर्द होने लगेगा।आप अपने पैरो के बीच मे तकिया लगाकर भी सो सकती है जिससे आपको आराम्ं मिलेगा
»सभी उत्तरों को पढ़ें