3 साल का बच्चा

Question: से कैसे पर उसी का क्या इलाज है ओ सी का क्या इलाज है रूसी क्या इलाज है

1 Answers
सवाल
Answer: आप रात क्या टाइम मैं नारियल tel may नींबू का रस मिक्स करके बालों की रूट्स may लगा लीजिए इससे कुछ ही दिन may रुसी सही हो जाती है.
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: पी सी ओ डी कैसे ठीक होगा
उत्तर: हेलो डियर Pcod ya pcos एक ऐसी मैडिकल कंडीशन है जो महिलाओं मे होर्मोनल असन्तुलन के कारण पाई जाती है। इसमे महिला के शरीर मे पुरुष होर्मोन का स्तर बढ़ जाता है। और ओवरी मे एक से ज्यादा सिस्ट हो जाती हैं। इसको पोल्य्सिस्टिक ओवरी सिंड्रोम या पोल्य्सिस्टिक ओवरी डिसऑर्डर के नाम से जानते हैं। इसके सिम्पटम्स वजन बढ़ना, अनियमित पीरियड होना, शरीर पर ज्यादा बालो की ग्रोथ होना, मुहासे हो सकते हैं। वैसे तो इसका इलाज डॉक्टर से करवाना ठीक रह्ता है लेकिन आप कुछ घरेलु उपाय भी कर सकती हैं। सबसे पहले अपनी जीवन शैली मे थोड़ा बदलाव करे। मसालेदार और जंक फूड बिल्कुल ना लें। साथ मे दालचीनी गरम पानी मे मिलाकर रोज पिये। अलसी को भी पानी मे मिलाकर पिया जा सकता है। मेथी को रात भर पानी मे भिगो दें सुबाह मेथी दाना शहद के साथ खाएं। एप्पल साइडर विनेगर सुबह २ स्पून १ ग्लास पानी मे मिलाकर पियें।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: पी सी ओ डी का कोई सफल इलाज बताये
उत्तर: खराब Lifestyle ,नींद का ठीक प्रकार से पुरा ना होना ,जंक फूड का सेवन अधिक करना , पानी का सेवन कम करना androzen होर्मोन का secretion अधिक होना । यह सारे कारण है जिसकी वजह से आपको पीसीओडी हो जाता है अतः पीसीओडी से छुटकारा पाने के लिए आपको अपनी जीवनशैली बहुत अच्छी बनानी होगी साथ में आपको प्रतिदिन व्यायाम करना होगा सुबह शाम टहलना होगा और अधिक से अधिक पानी पिएं कम से कम 10 से 12 गिलास पानी प्रतिदिन पीना चाहिए जंक फूड का सेवन बिल्कुल बंद कर दें सादा और सात्विक भोजन ले एक घरेलू उपाय है जिसे आप अपना सकते हैं दालचीनी यानी सिनेमन को पीसकर रख लें और सुबह आधा चम्मच सिनेमन पाउडर को गुनगुने पानी के साथ पी जाए इससे भी पीसीओडी से आपको छुटकारा मिल जाएगा लेकिन इसके साथ-साथ ऊपर दी गई बातों को जरूर फॉलो करें।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेडम क्या पी सी ओ एस ओर पी सी ओ डी का पत्ता अल्ट्रसाउंड से पत्ता चल सकता हें
उत्तर: hello पीसीओएस और पीसीओडी का पता अल्ट्रासाउंड से ही लगाया जाता है। अल्ट्रासाउंड कराने से ही पता चलता है कि ओवरी में कितने सिस्ट हैं और फिर इनका ट्रीटमेंट किया जाता है
»सभी उत्तरों को पढ़ें