4 साल का बच्चा

Question: 4 साल के बच्चे की डायट

1 Answers
सवाल
Answer: हेलो डियर आपका बेटा 4 साल का हो गया है ।आपकौ उसकी बढ़ती उम्र के साथ-साथ उसके खान-पान पर भी ध्यान देना चाहिए । इस उम्र में बच्चों को प्रतिदिन 1300 कैलोरी की डाइट देनी चाहिए। उनकी डाइट में दलिया, घी-रोटी, मैश्ड चिकन करी के साथ चावल, खिचड़ी व दलिया आदि होना चाहिए। इस दौरान उनकी डाइट में गेंहू, ओट्स, रागी, हरी सब्जियां, फल, मीट, अंडे, बीन्स, नट्स आदि होना जरूरी है। इसके अलावा यह भी ध्यान रखना चाहिए कि उनकी डाइट में नमक, शक्कर और सैच्युरेटेड फैट्स वाले तत्वों की बहुत अधिक ना हो । आप अपने बेटे के लिए निम्न डायट चार्ट भी फॉलो कर सकती है सुबह दूध के साथ भिगोये हुए बादाम या बनाना,पोहा,उपमा दे सकती है। लंच दाल,हरी सबजी,रोटी,चावल,सलाद स्नैक्स मे फ्रूट चार्ट या सैंडविच किसी भी प्रकार के मिल्क शेक के साथ जो आपके बेबी को पसंद हो । डिनर मे सब्जी ,दाल,रोटी।
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: 2 साल के बच्चे की डायट bataiye
उत्तर: हलों आप 2 साल के बचे को बोहोत कुछ दें सकते है . जैसे - मलाई वाला दूध पिलाना सही माना जाता है। अगर दूध पीने से बच्चा मना करें तो शेक, खीर बना कर देना चाहिए। अंडे प्रोटीन से भरपूर होते हैं, मगर ये आप 8 महीने से शुरु करे. आलू वजन बढ़ाने के लिए लाभदायक होते हैं। केला दूध में मैश कर इसे देने से बच्चों के वजन में वृद्धि आती है। दाल दही के साथ कुछ फलों का मिश्रण बना कर अपने बच्चो को दीजिए। घर का बना पनीर अथवा कोटेज चीज़ वजन बढ़ाने के लिए अच्छा है देसी घी  मूंगफली का मक्खन वजन बढ़ाने के लिए एक बहुत अच्छा स्रोत है हरी सब्जियां खिलाने की आदत डालें  जिंक से भरपूर भोजन बच्चों के विकास के लिए जिंक एक बेहद अहम पोषक तत्व होता है। जिंक की कमी के कारण बच्चों को भूख कम लगती है। कोशिश करें कि बच्चें को जिंक से भरपूर भोजन दें जैसे तरबूज के बीज, मूंगफली, बींस, पालक, मशरूम और दूध आदि। प्रोटीन व कार्बोहाइड्रेट वजन बढ़ाने के लिए प्रोटीन का सेवन जरूरी है इसलिए अपने आहार में चिकन, मछली, अंडा, दूध, बादाम व मूंगफली आदि को शामिल करें। इसके अलावा कार्बोहाइड्रेट भी वजन बढ़ाने में मददगार होता है जैसे पास्ता, ब्राउन राइस, ओटमील आदि। इन सबके साथ फलों व सब्जियों का सेवन भी जरूर करें। सोने से पहले या नाश्ते में दूध के शहद का सेवन आपका वजन बढ़ा सकता है जैतून का तेल में अच्छा वसा होता है। आप जैतून का तेल में बच्चे के भोजन को पका सकते हैं। सूप, खीर और हलवा  सब्जियों का पतला सूप या टमाटर का सूप बच्चों के लिए बेहद फायदेमंद होता है। इसके साथ सूजी का हलवा भी बेहद पौष्टिक और वजन बढ़ाने में मददगार होता है।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: 4 साल के बचे की डायट
उत्तर: अपने बच्चे को प्रोटीन, कैल्शियम और ओमेगा 3 फैटी एसिड युक्त भोजन दें। जैसे पनीर, टोफू, सोयाबीन, दाल, राजमा, चिकन, अंडे, मछली, एवोकैडो, बादाम, अखरोट, केला आदि। यह सब आपके बच्चे के आहार में शामिल करने से उसकी लम्बाई, वजन और मस्तिष्क का अच्छी तरह से विकास होगा। रोज़ाना उसे कम से कम दो गिलास दूध पिलायें , आप उसे केले या एवोकाडो वाले मिल्कशेक भी दे सकती हैं।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: पाच साल के बच्चे के लिए डायट
उत्तर: हेलो डिअर ,आप अपने बच्चे को 3 बार प्रॉपर खाना जो भी आप लेते हैं नाश्ते में आप दलिया ओट्स बेसन चीला सूजी चीला पोहा , आलू भर के पराठा , पनीर भर के पराठा , कभी सादा पराठा ये सब नास्ता में दे , फिर थोड़ा ब्रेक देकर फल में तरबूज , सेब , आम , केला दे , फिर लंच में आप अपने बेबी को दाल चावल सब्जी रोटी , खिचड़ी दे , फिर दोपहर में , दही जरूर दे फिर अपने बेबी को सूला दे कुछ बेबी दोपहर मे सोते समय दूध लेते है तो कुछ इवनिंग टाइम खेलने के बाद लेते हैं इस बीच आप छोटा अई स्नॅक्स लाइक उबल हुआ आलु , बनाना शेक , ब्राउन ब्रेड पर बटर लाग कर दि सकते है ये सब फ़िर 3घण्टे का ब्रेक दे ताकि बच्चा डिनर करे और रात में बीच मे ना उठें डिनर मे आप दाल रोटी जो आपने अपने लिए बनाया हो दे सकते हो हर चीज़ की आदत डाले रात अगर आप दूध देते हैं तो दूध दे
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: 2 साल के बच्चे का डायट chart
उत्तर: आप अपने बच्चे को इस प्रकार से भोजन करा सकती हैं बच्चे को प्रतिदिन ताजे फल और सब्जियों को जरूर खिलाएं और हर दिन बदल कर भोजन दें,। सोमवार सुबह का नाश्ता - Sandwich और एक गिलास दूध दोपहर का खाना - मुंग की दाल की खिचड़ी   शाम का नाश्ता - एक केला रात का खाना - एक कटोरा दाल और रोटी मंगलवार सुबह का नाश्ता - दलीय और एक गिलास दूध  दोपहर का खाना - मटर-गाजर की सब्जी और रोटी   शाम का नाश्ता - एक आम  रात का खाना - पनीर की सब्जी और रोटी बुधवार सुबह का नाश्ता -  सूजी का हलुवा और दूध  दोपहर का खाना - पांच दालों से बनी खिचड़ी    शाम का नाश्ता -  एक संतरा  रात का खाना - मसूर की दाल और रोटी  गुरुवार सुबह का नाश्ता -  आलू पराठा और दही   दोपहर का खाना -  veg-पुलाव और रायता    शाम का नाश्ता -   एक सेब  रात का खाना -  पनीर की रोटी और सब्जी  शुक्रवार सुबह का नाश्ता - सूजी का उपमा और ग्लास दूध     दोपहर का खाना - राजमा और चावल      शाम का नाश्ता - एक अमरुद     रात का खाना -  भिंडी की सब्जी और रोटी  शनिवार सुबह का नाश्ता - मुंग दाल का चीला और दही     दोपहर का खाना - पुलाव और पनीर की सब्जी      शाम का नाश्ता - नाशपाती      रात का खाना -  आलू मटर की सब्जी और रोटी  रविवार सुबह का नाश्ता -  पोहा और एक गिलास दूध   दोपहर का खाना - पौष्टिक दाल और सब्जी की खिचड़ी       शाम का नाश्ता - अंगूर     रात का खाना - रोटी और मुंग की दाल  
»सभी उत्तरों को पढ़ें