38 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: 37 वीक में सीढ़ी ऊपर निचे जाने आने से कोई प्रॉब्लम हो सकती है क्या

2 Answers
सवाल
Answer: हाय डियर अब आप सीढ़ियों पर ज्यादा ऊपर नीचे ना जाया करें क्योंकि इससे प्रॉब्लम हो सकती है ज्यादा सीढ़ियों से उतरना चढ़ना आपके लिए अब ठीक नहीं है|
Answer: depend on ur body agr ap weak ho to ..dr. se consult kare to jyada sahi hoga muje koi problem fac nahi hui
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: क्या लेट टीथ आने से कोई प्रॉब्लम हो सकती है
उत्तर: हेलो डियर जी नहीं , छोटे बच्चों को देर बाद दांत आने से कोई भी प्रॉब्लम नहीं होती है , हर बच्चे का विकास अलग होता है और उनकी ग्रोथ की अलग अलग होती है , आमतौर पर छोटे बच्चों को दांत 6 से 15 महीनों के बीच आ जाते हैं , आपकी बेबी को भी teeth जल्दी आ जाएंगे , देर बाद दांत आने से बच्चों को कोई भी प्रॉब्लम नहीं होती है .
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: 37 वीक में मेरे बेबी का वेट 2.287 है . क्या ये ठीक है . या कोई प्रॉब्लम हो सकती है
उत्तर: 37 वीक में बच्चे का वजन 2.9केजी के आसपास होना चाहिए यह लगभग वजन है थोड़ा बहुत कम या ज्यादा भी हो सकता है आपके बच्चे का वजन थोड़ा सा कम है इसके लिए घबराइए नहीं और पौष्टिक आहार लेते रहिए बच्चे का वजन ठीक हो जाएगा।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मुझे सीढ़ी ज़्यादा चढ़ना रहता है तो क्या इस्से प्रेग्नेन्ट होने में कोई प्रॉब्लम हो सकती है
उत्तर: प्रेग्नेन्सी के दौरान सीढ़ियों का प्रयोग कम से कम करना चाहिए या नहीं करना चाहिए क्योंकि इससे प्रेगनेंसी पर बुरा प्रभाव पड़ता है और कभी-कभी ब्लीडिंग होने की भी संभावना रहती है इसलिए प्रेग्नेंसी के समय सीढ़ियों को अवॉइड करें।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरी पत्नि dry fruits ले रही है तो क्या दिन में दही या ओर कोई अन्य खठा पेय ले सकती है क्या ??
उत्तर: Hello Dear ड्राई फ्रूट में प्रचुर मात्रा में पौष्टिकता होती है जैसे फोलिक एसिड, मैग्नीशियम, पोटैशियम, फ़ास्फ़रोस, विटामिन ए , बी6 , सी, डी आदि.ड्राई फ्रूट  में प्रोटीन होता है जो शरीर के विकास के लिए बहुत जरुरी होता है साथ ही बच्चे के मानसिक विकास के लिए भी ये जरुरी होता है. जूस सेहत के लिए लाभकारी होता है लेकिन गर्भवती महिलाओं को ठेलों पर बिकने वाले जूस को पीने से बचना चाहिये। क्योंकि वह स्वच्छ तरीके से नहीं बनाया जाता। ऐसे समय में उन्हें घर का बना जूस पीना चाहिए। नारियल पानी निर्जलीकरण (डिहाइड्रेशन) को रोकने में मदद करता है। पसीने के जरिये जो प्राकृतिक लवण शरीर से निकल जाते हैं, उनकी भरपाई करके यह थकान में राहत देता है। नींबू पानी आपको हाइड्रेटेड रखता है और आपके शरीर में इलेक्ट्रोलाइट को भर देता है। यह विटामिन सी सामग्री में उच्च है। विटामिन सी शरीर को आरबीसी के गठन के लिए बेहतर लोहे को अवशोषित करने में मदद करता है।सुबह बीमारी से निपटने में मदद करता है। बेहतर राहत के लिए इसे टकसाल और अदरक से भस्म किया जा सकता है। दूध विटामिन बी 12, कैल्शियम और प्रोटीन का एक प्राकृतिक स्रोत है, जिससे गर्भावस्था के दौरान इसे पीना चाहिए। दूध आधारित पेय आपकी ऊर्जा को बढ़ावा देते हैं। आप ताजा मीठे दही (लस्सी) या ठंडा स्किम्ड दूध पी सकते हैं, जो शीतलक हैं। सॉफ्ट ड्रिंक ग्रीन टी का सेवन न करें
»सभी उत्तरों को पढ़ें
Healofy Proud Daughter