20 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: प्लैसेन्टा लो लाइंग का मतलब क्या ह

1 Answers
सवाल
Answer: प्लेसेंटा के किनारे को आंतरिक ओएस से कम से कम 2.5 सेमी दूर होना चाहिए। जब यह गर्भाशय से 2.5 सेमी से कम होता है, तो काम के दौरान रक्तस्राव का जोखिम बहुत अधिक होता है। इसलिए सी सेक्शन के चांसेस बढ़ जाते हैं। इस बारे में आप कुछ भी नहीं कर सकते हैं। यह देखने के लिए कि क्या यह अभी अब 2.5 सेमी से अधिक दूर है, तो आपके डॉक्टर लगभग 35-36 सप्ताह में एक और एंडोवाजिनल अल्ट्रासाउंड करवाएंगे जिससे सारी चीजें क्लियर हो लगते यदि आपका प्लेसेंटा लो लाइन है तो आपको बहुत ही ज्यादा सावधानी रखने की जरूरत है । इसके लिए सबसे पहले आपको प्रॉपर बेड रेस्ट करना है। चलना फिरना बिल्कुल बंद कर दीजिए । बेड पर लेटे सिरहाना नीचे रखिए और पैरों की तरफ थोड़ा ऊंचा कर लीजिए पैरों के नीचे तकिया लगा कर रखिए । जमीन पर बिल्कुल भी नहीं बैठना है । सीढ़ियां बिल्कुल भी नहीं चढ़ना उतरना है । खाने में हल्का भोजन लेना है ताकि आसानी से पच जाए । पानी खूब सारा पीछे 8 से 12 गिलास पानी दिन भर में । नारियल पानी टेंडर कोकोनट का प्रयोग ज्यादा कीजिए यदि पानी आपको अच्छा नहीं लगता है तो आप उसमें रूहअफजा या अन्य कुछ मिलाकर पीजिए जो आपको अच्छा लगता हो । अपने डॉक्टर अनुसार बताएं दवाइयों का सेवन कीजिए
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: प्लैसेन्टा लो लाइंग का क्या मतलब होता ह
उत्तर: हेलो डियर आप परेशान ना हो प्रेगनेंसी में प्लेसेंटा मतलब की गर्भनाल जो कि हमेशा गर्भ के बगल में होना चाहिए कभी-कभी फालसे के नीचे स्थित हो जाता है जिससे ब्लडिंग होने का डर रहता है उसी को लौ लाइंग प्लेसेंटा मतलब की प्लेसेंटा नीचे कहां जाता है अपरा का नीचे स्थित होना हो सकता है की बेबी के वज़न बढ़ने से बड़ा हुआ गर्भाशय प्लेसेन्टा को उपर की ऑर खीच लेगा यदि प्रेग्नेन्सी के लास्ट में प्लेसेन्टा आपकी ग्रीव को dhnk लता है तो नॉर्मल डिलेवरी हो सकती है ऑर यदि ग्रेव प्लेसेन्टा को दहन्क ले तो सेसेरिएन डिलेवरी होगी आपका प्लेसेन्टा निचे है तो आपको पूरे प्रेग्नेसी में सेक्स नही करना चाहिए ऑर ना ही भारी सामान उठा सकती है बेड रेस्ट करें अकेले ना रहें कोई ना कोई अपने पास रखें ताकि ज़रूरत पड़ने पर तुरन्त डॉक्टर के पास जा सकें थोड़ा भि खुन जाए जाए या दर्द हो तो डॉक्टर के पास जाए डॉक्टर के कहने से 35 से 36 हफ़्ते में ही आपरेशन करवा लें ताकि आपका बेबी स्वस्थ आ जाए
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: प्लैसेन्टा का लो लाइंग होना क्या ह ओर इशके क्या इफ़ेक्ट ह
उत्तर: हैलो डियर--लो प्लेसेंटा की स्थिति में अधिकतर आराम करने की सलाह दी जाती है।इस स्थिति में जादा झुक कर थकने सफर करने और ज्यादा देर खड़े रहकर काम नहीं करना चाहिए ज्यादा थखने वाले एक्सरसाइज और योगा और वाकिंग भी नहीं करनी चाहिए।डॉ इस समय पर सेक्स करने से भी हमेशा मना करते हैं पूरी प्रेगनेंसी में आपको अपना खास ध्यान रखना पड़ता है लो प्लेसेंटा ज्यादातर स्कैन के द्वारा शुरुआती महीनों में ही पता चल जाता है यह प्रेगनेंसी के अंत अंत तक ठीक भी हो जाता है। क्योंकि हमारी यूटरस का साइज़दं बढ़ता है और प्लेसेंटा नीचे से साइड की तरफ शिफ्ट हो जाता है।इसमें घबराने की कोई बात नहीं है इसमें आपको हमेशा नॉर्मल डिलीवरी अवॉइड करने की सलाह देते हैं क्यूकी प्लेसेंटा सर्विक्स को कवर करके रखता है और नॉर्मल डिलीवरी के केस में बच्चा पहले निकलना चाहिए उसके बाद प्लेसेंटा लेकिन लो प्लेसेंटा के केस में प्लेसेंटा पहले होता है और बच्चा बाद में इसलिए हमेशा सी सेक्शन करने की सलाह दी जाती है।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: हेलो मेम प्लैसेन्टा पॉस्टिरीएर,नोट लो लाइंग ग्रेड-2 मट्युरिटी का क्या मतलब होता है प्लीज रिप्लाई
उत्तर: नाम इसका मतलब है कि आप की प्रेगनेंसी बिल्कुल सही चल रही है और बेबी की ग्रोथ भी सही हो रही है
»सभी उत्तरों को पढ़ें