Planning for pregnancy

Question: मेंरे लेफ्ट ओवॅरी में सिस्ट है इस्से प्रेग्नेन्सी में कोई दिक्कत तो नही होगा ना ?

1 Answers
सवाल
Answer: हेलों आपके ओवरी में सिस्ट है .ये कोई बीमारी नही है कि आपको प्रेग्नसी ना हो पाये . आज की लाइफ स्टाइल में ओवरी में सिस्ट हो जाना बहुत ही कॉमन हो गया है .अब इसके लिए घबराए नहीं बस अपने रूटीन लाइफ में कुछ चेंज करें .समय से खाएं ,समय से सोएं ,समय से उठे, समय से एक्सर्साइज करे, सबसे ज्यादा जरूरी है कि तनाव लेना कम करें . डॉक्टर से सलाह लेकर सिस्ट कम करने की दवाई खाएं .सवेरे शाम 30 मिनट वॉक करें खाने में हरी सब्जियां और फल शामिल करें मैदा फूड बारी खाना मिर्च मसाला oily स्पाइसी खाना अवॉइड करें
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: क्या ओवॅरी सिस्ट से प्रेग्नेन्सी में प्रॉब्लम आती है
उत्तर: ओवेरी मे सिस्ट होना आजकल बहुत कॉमन हो गया है , बहुत सी महिलाओ को होता है , ये कोई बहुत बाडी बीमारी नही है जिसकी वजह से आप कन्सिव ना कर पाये .. आप बस अपनी लाइफ स्टाइल बदले , रोज सुबा और शाम 30-30 मिनट वॉक करे , वज़न जयाद है तो कम करे , कोशिश करे की कोई भि सफ़ेद चीज़ जैसे मैदा , ब्रेड शक्कर राइस कम से कम खायें , मुल्तिग्रऐन रोटी खायें . फ्रूट खायें . जितना हो सकें ऑयल से बनी चीज़ें ना खायें . इन सब से pcod कंट्रोल होगा और आप कन्सिव कर पाएगी . सबसे ज़रूरी बात स्ट्रेस कम करे स्ट्रेस मे कन्सिव करना मुश्किल होता है , मेरे को भि है pcod , 11 साल से . मुश्किल था कन्सिव करना , अब मेरे 2 प्यारे बच्चे है . और कोई सावाल हो या डाउट हो तो सावाल ज़रूर पूछें .
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मुझे दो दीन से सर्दी बुखार है इस्से प्रेग्नेन्सी पर कोई साइड इफेक्ट तो नही होगा ना
उत्तर: जैसे ही महिलाएं गर्भवती होती हैं उन्हें जल्दी इन्फेक्शन हो जाता है। क्योंकि उनकी बॉडी बहुत ही सेंसिटिव हो जाती है प्रतिरोधक क्षमता कम हो जाती है 1) सर्दी खांसी से खुद को बचाने और गर्भावस्था में प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए आपको अपने डायट में ताजे फल सब्जियां और साबुत अनाज शामिल कर सकती हैं। 2) तरल पदार्थों का अधिक से अधिक सेवन करना चाहिए जैसे अदरक वाली चाय हर्बल चाय और फलों का जूस 3) ज्यादा थके नहीं आराम करें आप जितने आराम से रहेंगे आपको इन्फेक्शन उतना ही कम होगा 4)खासी आने पर ईलायची मुंह में लेखर चुसें। उपाय-- सर्दी होने पर अक्सर नाक बंद हो जाता है तो आप गर्म पानी गर्म पानी का मशीन से भाप ले सकती हैं इसमें आप दो तीन बूंद नीलगिरी का तेल डाल ले इससे सिर के ऊपर तो लिया ढक कर अपना सर बर्तन के ऊपर झुकाकर भाप लें इससे आपकी बंद नाक खुल जाएगी और सर दर्द कम हो जायेगा और सर्दी से भी राहत मिलेगी साथ ही अगर गले में भी दरद या टांसील हो तो गरम पानी में नमक डालकर दीन में चार पांच बार तो राहत मिलेगी आप तुलसी अदरक का रस आधा आधा चम्म्च लेकर शहद मीलाकर पी सकती हैं।इससे सर्दी खांसी में राहत मीलेगी। गुनगुने गर्म पानी में शहद और नींबू डालकर आप इसे पी सकती हैं अगर आपकी सर्दी खांसी ठीक नहीं हो रही है और आप को तेज बुखार है तो आप को बिल्कुल भी देर नहीं करना चाहिए डॉक्टर से कंसल्ट करें और अपनी मर्जी से कोई भी दवाई ना ले . और सबसे इम्पोर्टेन्ट बात की आपके ख़ासी सर्दी से बेबी को कोई असर नहीं होता है इसलिए इस बात को लेकर बिलकुल चिंता ना करें .
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: में 35 वीक प्रेगनेट हूँ मेरा खुन 7.5 है इस्से कोई डिलिवरी में दिक्कत तो नही
उत्तर: आप ब्लड बढ़ाओ warna deliveey के टाइम आपको प्रॉब्लम हो सकती है इसके लिए आप चुकुन्दर खाओ अनार खेओ गाजर खेओ isse ब्लड badhega apka
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरा पेट में लेफ्ट साइड में सुन्न लगता है हो गया है कोई दिक्कत बाली बात नही है ना pls
उत्तर: hello शरीर के किसी भाग पर अगर ब्लड सप्लाई अच्छे से नहीं हो पाता तब झुनझुनी चढ़ती है या सुन्न होता है और वाइब्रेशन सा होता है। एक ही पोजीशन पर ज्यादा देर बैठे रहने से या सोने से उस साइड के हाथ पैरों में ब्लड की सप्लाई अच्छे से नहीं हो पाता जिसके कारण झुनझुनी होती है और वह अंग सुन्न लगता है।या वहां जलन होने लगती है अगर आपको यह प्रॉब्लम ज्यादा हो रही हो तो आप सुबह शाम वाॅक पर जाइये। और ज्यादा से ज्यादा पानी पीजिए। आप रात में खाना खाने के बाद थोड़ी देर वॉक पर जाएं सोने से पहले गुनगुना दूध जरूर पिए। आपको नींद अच्छी आएगी और झुनझुनी या शरीर में दर्द नहीं होगा।
»सभी उत्तरों को पढ़ें