14 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: मै 4month प्रेगनेंट हु और मरे कमर के राइट said मे दर्द हों रहा है .2 डिन से मूव भी लगाया लेकीन आराम नही है क्या करू

1 Answers
सवाल
Answer: गर्भावस्था में पीठ ,साइड की मांसपेशियोंव कमर दर्द होना एक आम बात है। अगर, आपका वजन सामान्य से अधिक है या फिर आप पहले भी गर्भवती हो चुकी हैं, तो आपको पीठ दर्द होने की संभावना अधिक रहती है। लंबे समय तक खड़े रहने के कारण भी यह दर्द बढ़ता है,व्यायाम से आप पीठ दर्द होने की संभावना कम कर सकती हैं। अगर, आपको व्यायाम करने की आदत नहीं है, तो धीरे-धीरे इसकी शुरुआत करें। मालिश करने से थकी मांसपेशियों को आराम मिलता है।एक गुनगुना स्नान, एक गुनगुना पैक या फिर शावर से गुनगुना पानी का तेज प्रवाह, ये सभी पीठ दर्द कम करने में मदद कर सकते हैं।
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: मेरे कमर के राइट साइड मे हल्का दर्द है ऐसा क्यु हों रहा h
उत्तर: hello dear शिशु के जन्‍म के दौरान मां के पेट का भार लगातार नीचे की ओर होता है। इसलिए इस समय मांसपेशियों का पर दबाव ज्‍यादा होता है तभी गर्भवती महिला को अपना पोस्‍चर हमेशा बनाएं रखना चाहिये। टहलना, सीधे बैठना, पैरा खीचना और नीचे की ओर न झुकना आपकी कमर पर बिल्‍कुल भी दबाव नहीं डालेगें। दर्द को अगर कम करना है तो रात को सोते समय पीठ के बजाय करवट लेकर ही सोएं। ताकिया लगाकर सोएं आपके बैड के गद्दे जितने अच्‍छे होंगे आपको नींद भी उतनी ही अच्‍छी आएगी। कमर पर कम दबाव पडें, इसके लिए अपने घुटनों के नीचे तकिया लगाकर सोएं। अपने घुटनों के बीच तकिया लगाकर सोने से भी आप कमर दर्द से बच सकते हैं। मसाज इस दौरान अगर पीठ या कमर में दर्द हो रहा हो तो गरम तेल या बाल्‍म से मसाज करने से फायदा होता है। तेल शरीर में सर्कुलेशन को तेज़ करता है जिससे मांसपेशियों में कोई मोंच और दर्द नहीं होता। एक बात हमेशा ध्‍यान रखें की जब आपकी डिलीवरी डेट पास में हो तो, न ज्‍यादा टहलें और ना ही ज्‍यादा व्‍यायाम करें। अगर मासपेशियों पर दबाव को कम करना है तो एक्‍यूपंचर या एक्‍यूप्रेशर का सहारा लें। व्‍यायाम प्रेगनेंसी के दौरान महिलाओं को हल्‍के फुल्‍के व्‍यायाम करने चाहिये। टहलने और स्‍ट्रैचिंग करने से नीचे का शरीर कडा होने से बच जाता है। पर ध्‍यान रहे की इसे करते वक्‍त आपके लिगामेंट्स में ज्‍यादा खिचाव न हो। इस दौरान स्‍विमिंग एक अच्‍छा व्‍यायाम है क्‍योंकि इससे आपका वजन कम होगा और हाथ-पैर भी स्‍ट्रैच होगें। इसके साथ ही योगा भी काफी फायदेमंद होगा। ढीले कपड़े पहने इस समय हल्‍के तथा ढीले-ढाले कपड़े पहनने चाहिये। टाइट कपड़े पहनने से शरीर में खून का दौरा कम होने लगता है और इसी कारण मांसपेशियां दर्द होने लगती हैं। इसलिए सूती के आरामदायक कपड़े ही पहनने चाहिये। इसी के साथ हाई हील चप्‍पलें या जूते भी कमर की मांसपेशियों पर असर डालते हैं, जिस कारण दर्द होता है। बर्फ से सिकाई करें अगर बैक पेन हो रहा हो तो गरम पानी की बोतल या बर्फ के पैक से सिकाईं करें। इस दौरान बिल्‍कुल भी झुकना नहीं चाहिये। ज्‍यादा देर बैठने से बचे प्रेगनेंसी में सबसे अधिक भार आपकी कमर पर पड़ता है। ऐसे में कमर दर्द की समस्‍या से बचने के लिए लम्‍बे समय तक बैठने से बचें। अगर आपका काम ज्‍यादा देर तक बैठे रहने का है तो स्‍टूल पर पैर रखकर बैठें।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मरे गम मे सुजन हो गेइ है और बहुत दर्द भी है मै क्या करू
उत्तर: हेलो डियर कम शिया मसूड़े की सूजन को दूर करने के लिए आप घरेलू उपाय अपनाएं ये सूजन को कम करने के लिए कुछ घरेलू टिप्स निम्न प्रकार से हैं जिन्हें अपनाकर आप अपने मसूड़ों के दर्द और सूजन को कम कर सकती हैं... 1.नमक के पानी से कुल्ला करने से मुंह में होने वाले संक्रमण से बचाव होता है जो मसूड़ों में सूजन आने का एक कारण है.. 2. लौंग में यूगेनोल होता है जिसमें एंटीऑक्सीडेंट तथा सूजन को दूर करने का गुण होता है जो सूजन से आराम दिलाने में बहुत प्रभावी होता है.. 3. आप बबूल की छाल को पानी में उबालकर माउथवॉश भी बना सकते हैं तुरंत राहत पाने के लिए दिन में दो से तीन बार इस घरेलू माउथवॉश से गरारे करें.. 4. कैस्टर ऑइल ko दर्द वाले भाग पर इसे लगाने से दर्द तथा सूजन से आराम मिलता है.. 5. मुंह के संक्रमण से बचाव के लिए अदरक एक प्राचीन उपचार hai.. 6. मसूड़ों की सूजन से आराम पाने के लिए प्रतिदिन सुबह नीबू के पानी से कुल्ला करें.. 7. एलोविरा एक हरफनमौला औषधि है जो मसूड़ों की सूजन को दूर करने, मसूड़ों से खून आने तथा मुंह के संक्रमण जैसी समस्याओं को दूर करने में सहायक होती है.. 8. सरसों के तेल में थोडा नमक मिलाएं तथा इस मिश्रण को मसूड़ों पर लगायें.. इस उपचार का बार बार उपयोग करने से आपको जल्द ही संक्रमण से छुटकारा मिल जाएगा..ok
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मरे कमर मै दर्द क्यू हो रहा है मे 13 हफ्ते प्रेगनेट हु क्या करु जिसकी वजह से कमर दर्द ना हों
उत्तर: हैलो डियर-गर्भावस्था में जैसे जैसे आपकी बैली साइज बढ़ती है यह समस्या बढ़ती जाती है मेडिटेशन के जरिए आप अपने कमर दर्द की समस्या से राहत पा सकती है इसके लिए आप किसी शांत जगह पर लेट जाएं और अपने सांस पर अपना ध्यान केंद्रित करें इससे आपके हारमोंस भी नियंत्रित होंगे कमर दर्द से बचने के लिए आप ज्यादा देर तक एक ही अवस्था में ना रहे और ना ही ज्यादा देर तक खड़े रहे दर्द से राहत के लिए हमेशा करवट लेकर पी लो का इस्तेमाल करके सोए जिससे आपको राहत मिलेगी और निंद भी आयेगी।
»सभी उत्तरों को पढ़ें