12 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: मै दूध नही पी पा रही हूँ गैस प्रॉब्लम हो रही है तो अगर दूध ना पीऊ तो इसे बच्चे को नुकसान तो नही मेरा तीसरा मंथ चल रहा है और आलावा मै और क्या क्या खा सकती हूँ

2 Answers
सवाल
Answer: डियर अगर गैस प्रॉब्लम की वजह से आप दूध नही पी रही है तो आप गैस के लिए आप ये उपाय करे 1 पेट में गैस का समाधान में बिना दूध वाली नींबू चाय पीने से भी आराम मिलता है। नींबू की चाय में थोड़ा काला नमक भी डाल सकते है। 2. थोड़ा सा काला नमक एक गिलास गुनगुने पानी में मिलाकर पीने से भी पेट से जुडी परेशानियों में जल्दी फयडा मिलता है।, 3, एलोवेरा जूस त्रिफला पाउडर के साथ लेने से पेट गैस दूर होती है। 4 जीरा, अजवाइन, काला नमक और छोटी हरड़ एक सामान मात्रा में पीस कर भोजन के बाद दो से पांच ग्राम की मात्रा में गुनगुने पानी के साथ ले। इस होम रेमेडी से पाचन ठीक होता है और पेट से जुडी समस्याओं से छुटकारा मिलता है। 5. नींबू का रस दो छोटे चम्मच और थोड़ा सेंधा नमक हल्के गरम पानी में मिलाकर पिने से भी पेट की गैस का इलाज कर सकते है।। डियर आप अगर दूध के अलवा कुछ लेना चाहती हो तो आप तो आप उसे रोज़ बादाम दे खाने को बादाम में कैल्शियम भरपूर मात्रा में होता है आप दही, चेडर चीज और कोटेज चीज आदि कैल्शियम के कमी को दूर करते है लेकिन कम फैट वाली चीजों को लेना चाहिए जिससे अनावश्यक कैलोरी से बचा जा सके।कुछ अन्य सब्जियाँ जसे पालक, केले, भिण्डी, और मछलियाँ जैसे ट्राउट, सेलमन और सेरडीन आदि भी कैल्शियम से भरपूर होती है। सोया बेवरिज और टोफू भी कैल्शियम के अच्छे स्त्रोत होते है।
Answer: hello dear अगर आपको दूध पीने मे प्रॉब्लम हो रही है तो आप दूध से बनी चीज़े भी खा सकती है ।आप अपने आहार चार्ट मे निम्न खद्या पदार्थ शमिल कर सकती है 1. नियमित रूप से एक गिलास दूध। 2. मौसमी फल का कटोरा 3. सलाद का कटोरा 4. चैपेटिस 5. विभिन्न प्रकार के दालों का बाउल 6. फाइबर समृद्ध खाद्य पदार्थ जैसे जई, अनार के बीज आदि 7. veggies का कटोरा 8. लौह और कैल्शियम समृद्ध आहार 9. अजिनोमोटो से बचें 10. कोई गैसी भोजन नहीं 11. बहुत सारे पानी पीएं 12. दही, मक्खन और सौंफ़ बीज शामिल करें 13. वाष्पित और कैफीनयुक्त पेय से बचें 14. सूखे फल
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: मै 1 मंथ प्रेग्नेन्ट हूँ क्या मैं एग खा सकती हूँ उसे गैस प्रॉब्लम तो नही होगा ना
उत्तर: हेलो हा आप एग खा सकती है अंडे में सेलेनियम, विटामिन जैसे ए और डी होते हैं जो कि गर्भावस्था के दौरान आवश्यक हैं। अंडे में बहुत सारा प्रोटीन, फैट, मिनरल और अन्‍य पोषक तत्‍व पाया जाता है अंडे में ओमेगा 3 फैटी एसिड होता है जो कि शिशु के पूरे शरीर के साथ दिमाग का अच्‍छे से विकास करता  है कभी भी कच्‍चा या आधा उबला अंडा नहीं खाना चाहिये। इससे आपके शरीर में इंफेक्‍शन फैल सकता है। यह इंफेक्‍शन दस्त और उल्टी आदि की समस्‍या पैदा कर सकता है। ठीक से उबला हुआ या पकाया अंडा ही खाएं।दिन भर में दो अंडे से ज़्यादा ना खायें
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: हेलो क्या मै छोटी मछली खा सकती हूँ इसे कोई प्रॉब्लम तो नही हीगा ना
उत्तर: हेलो डियर,,aap10 week ki pregnet hai,, प्रेगनेंसी के दौरान आप फिश ले सकते हैं यह baby के vikasमें यह बहुत ही अच्छा है |इससे बेबी का शारीरिक व मानसिक विकास बढ़ता है मछली में ओमेगा-3 पाया जाता है जो कि बेबी के मानसिक विकास को बढ़ाने के साथ-साथ प्रेगनेंसी में होने वाले उदासी ,मानसिक तनाव ,मानसिक रूप से परेशानी ,थकावट आदि समस्याओं को दूर करने में बहुत ही महत्वपूर्ण है प्रेग्नेंसी में मछली के प्रयोग से baby में विकार की स्थिति कम होतीhai.. फिश में विटामिन की प्रचुर मात्रा में होता है जो कि बेबी के स्किन के निर्माण में बहुत ही ज्यादा महत्वपूर्ण होता है|
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: हेलो क्या मै ग्लूकोज पी सकती हूँ ? इसे बेबी को कोई नुकसान नही होगा ना
उत्तर: हेलो डियर जब आपको विकनेस लगे तभी आप ग्लूकोस दीजिए और बहुत ज्यादा मात्रा में ना पीजिए क्योंकि प्रेगनेंसी के दौरान वैसे भी शुगर लेवल बढ़ जाता है इसलिए इस बात का ध्यान रखें अगर आपका शुगर लेवल कंट्रोल है तो कभी-कभी आप ग्लूकोस पी सकती हैl
»सभी उत्तरों को पढ़ें