11 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: मैं कुछ भी खाती पीती हूँ या खाली पेट भी रहती हूँ to मेंre पेट me दर्द और ऐठन होne लगती है jiske बाद मुझे फ्रेश hone जाना पड़ता है मैं क्या करूं बहुत परेशान Ho गयी हूँ

2 Answers
सवाल
Answer: खाना khane के बाद थोड़ी देर पैदल chale पानी खूब सारा पिए poore दिन में थोड़ा थोड़ा सा khaye एक sath ज्यादा कुछ भी ना khaye
Answer: आप थोड़ी थोड़ी देर m कुच्ग khate रहिय हल्का फुल्का
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: night me kuch bhi kane k baad pet me marod उठने lagti h aur tej dard bhi pet me hone lagta h aur humhe fresh hone jana padta h help me aisa kyu hota है
उत्तर: गर्भवती होने पर अब मुझे बार-बार सिरदर्द क्यों होता है? गर्भवती होने पर सिरदर्द होना कोई असामान्य बात नहीं है, विशेषकर कि पहली तिमाही में। और यदि आपको पहले भी सिरदर्द होता रहा हो, तो गर्भावस्था में यह समस्या और बढ़ सकती है। गर्भावस्था में सिरदर्द शायद हॉर्मोनों की वजह से और रक्त संचरण के तरीके में बदलाव के कारण होता है। यदि आपने कैफीन का सेवन बंद कर दिया है, तो यह भी आपके सिर में दर्द होने का कारण हो सकता है। अन्य संभावित कारणों में शामिल हैं: थकान साइनस कंजेशन गर्भावस्था में हाई ब्लड प्रेशर (जैस्टेशनल हाइपरटेंशन) तनाव और भूख धूप में ज्यादा देर तक रहना और शरीर में पानी की कमी होना (डिहाइड्रेशन) माइग्रेन वाला सिरदर्द अलग होता है। कुछ महिलाएं, जिन्हें माइग्रेन रहता हो, वे पाती हैं कि गर्भावस्था में उनकी यह समस्या कम हो गई है। वहीं, कुछ अन्य महिलाओं में गर्भावस्था में यह बार-बार व और अधिक तेज होने लगता है।  क्या सिरदर्द किसी समस्या का संकेत हो सकता है? कुछ दुर्लभ मामलों में यह समस्या हो सकती है। उदाहरण के तौर पर यदि आपको हाई ब्लड प्रेशर या पेशाब में प्रोटीन हो तो, आपका सिरदर्द, ​प्री-एक्लेमप्सिया का संकेत हो सकता है। यह गर्भावस्था में हाई ब्लड प्रेशर का गंभीर रूप है। बहरहाल, अधिकांश महिलाओं के लिए गर्भावस्था में सिरदर्द होना केवल एक असहज मगर अस्थाई साइड इफेक्ट है। गर्भावस्था में सिरदर्द का उपचार कैसे किया जा सकता है? सिरदर्द की अधिकांश दवाओं जैसे कि एस्पिरिन और आईबूप्रोफेन आदि का सेवन गर्भवती महिलाओं के लिए सुरक्षित नहीं माना जाता। हालांकि, कभी-कभार इसके लिए पैरासिटामोल ले लेना सुरक्षित है। मगर, दवा लेने से पहले अपनी डॉक्टर की सलाह अवश्य लें। आप इन सुरक्षित विकल्पों को भी आजमा सकती हैं: पता लगाएं कि सिरदर्द की वजह क्या है क्या आपके आॅफिस में हवा की आवाजाही कम रहती है और ऐसे गर्मी भरे माहौल में काम करने पर आपको तेज सिरदर्द होता है? ऐसा है, तो आप नियमित अंतराल पर बाहर ताजा हवा में जाकर सांस लें। क्या पति के साथ बहस या फिर बच्चों के पीछे भाग-दौड़ आपके सिरदर्द की वजह बनता है? इससे पहले कि ऐसी परिस्थितियां आपको शारीरिक पीड़ा पहुंचाए, आप इन्हें गंभीर न बनने देने के तरीके सोचें। सिरदर्द एलर्जी का भी संकेत हो सकता है। यदि आपको लगे कि कोई विशिष्ट गंध या भोजन आपके शरीर में गड़बड़ी और सिरदर्द पैदा करता है, तो बेहतर है कि आप उनसे दूर रहें। सिर पर पट्टी लगाना साइनस से होने वाले सिरदर्द के लिए हल्की गर्म पट्टी को अपनी आंखों और नाक पर लगाएं। तनाव से होने वाले सिरदर्द के लिए गर्दन के नीचे की तरफ ठंडी पट्टी लगाएं। जुकाम का उपचार करें Advertisement सर्दी-जुकाम और नाक बंद होने पर भी आपको सिर में दर्द हो सकता है। एक-दो बूंद पिपरमिंट या नीलगिरी (यूकेलिप्टस) का तेल डालकर भाप लेने से दर्द से राहत पाने का प्रयास करें। गर्मी से बचें जब आप बाहर धूप में जाएं तो सिर ढकने के लिए छतरी या दुपट्टा और आंखों को तेज रोशनी से बचाने के लिए धूप का चश्मा लगाएं। साथ ही, खुद को जलनियोजित रखने के लिए खूब सारा पानी पीएंं। मालिश करवाएं खुद के आराम के लिए किसी सैलून या स्पा में जाकर अच्छी मालिश करवाएं। या फिर आप चाहें तो मालिशवाली को घर पर बुलाकर भी मालिश करवा सकती हैं। तनाव व चिंता की वजह से होने वाले सिरदर्द में मालिश विशेषकर काम आती है, जिसमें गर्दन, कंधों और पीठ की मांसपेशियों को भी आराम मिलता है। यदि एसेंशियल आॅयल से मालिश करवानी हो, तो आप मालिशवाली को पहले बता दें कि आप गर्भवती हैं। कुछ एसेंशियल आॅयल का इस्तेमाल गर्भावस्था में न करना ही बेहतर है। थोड़ा-थोड़ा मगर बार-बार खाती रहें खून में शर्करा का स्तर घटना (लो ब्लड शुगर) सिरदर्द का एक आम कारण है। कोशिश करें कि आप थोड़ा-थोड़ा मगर बार-बार खाती रहें। यदि आप कहीं सफर कर रही हों,
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: Dr. Mai Jo bhi Khana Khati ho turant fresh hone ke liye Jana padta hai or pet mai dard rahta hai halka fulka btao mai Kya kri
उत्तर: खाना खाने के बाद आपको पोटी र्की प्रॉब्लम हो जाती है तो इसका वह सारे कारण है क्योंकि प्रेग्नेंसी के समय पाचन क्रिया कमजोर हो जाती है जिसके कारण आपका भोजन अच्छे से नहीं पच पाता और यह आपको खाने के तुरंत बाद पार्टी करने की प्रॉब्लम देता है इसके अलावा पर्याप्त नींद ना लेना तनाव लेना ज्यादा कार्बोहाइड्रेट वाला खाना खाना पेट में इन्फेक्शन जैसी प्रॉब्लम के कारण ऐसा हो जाता है आप इसे दूर करने के लिए अपने भोजन में एप्पल नाशपाती मटर मूली खीरा फाइबर युक्त आहार अधिक मात्रा में लें जिससे कि आपके पेट में जो भी भोजन जा रहा है वह आसानी से पच सके और पेट में जो इन्फेक्शन अपच की प्रॉब्लम है वह खत्म हो और आपको बार-बार करने की प्रॉब्लम मे राहत मिलेगी।देर रात को खाने से बचें थोड़ी-थोड़ी मात्रा में करके खाना खाएं इससे भी आपको पेट की होने वाली इस प्रॉब्लम में राहत मिलेगीl
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: Doctor mujhe 15din tak pregnancy rahti aur fir blooding hone lagti h mai kya karu bahut pareshan rahti hu
उत्तर: जब प्रेगनेंसी हो शुरू से ही बहुत ज्यादा केयर करें रेस्ट करें ऐसा कोई काम नहीं करें जिससे paet par प्रेशर pade डॉक्टर को दिखा दिया करें ताकि वो दवा denge जिससे ब्लीडिंग बिलकुल नहीं होगी
»सभी उत्तरों को पढ़ें