2 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: मे माँ बनने wali हूँ मेरी पिरियड लास्ट 17 जनवरी है और मुझे टॉयलेट बहुत जादा आरहा है

1 Answers
सवाल
Answer: हेलो डियर गर्भावस्था में हमारे शरीर में बहुत सारे हारमोंस का परिवर्तन होता है जिस कारण हमारे शरीर में बहुत सारी क्रिया में भी परिवर्तन आ जाता है गर्भावस्था में बार बार यूरिन आना बहुत ही सामान्य बात है बल्कि गर्भावस्था में बार बार यूरिन आना बहुत ही अच्छा माना जाता है ज्यादा से ज्यादा पानी का सेवन करने और उसके बाद बार-बार यूरीन करने से आपको सूजन की समस्या नहीं होगी इसलिए आपको घबराने की आवश्यकता नहीं है गर्भावस्था में होने वाली एक सामान्य प्रक्रिया है इसके बारे में आप बिल्कुल भी ना सोचे आप बस अपना पूरा ख्याल रखें तनाव बिल्कुल भी ना ले गर्भावस्था में तनाव लेना हानिकारक होता है इसलिए आप ऐसा ना करें
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: मेरी लास्ट डेट 25 जनवरी है . मेरी डिलिवरी डेट क्या होगी ??? मुझे टॉयलेट भी बहुत जादा आता है . और मेरा वेट भी कम बड़ रहा है ..
उत्तर: plz कोई muje बी answer de do mere question का ..😢
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरा लास्ट पिरियड डेट 21 julai को था बट मुझे लगता है म प्रेग्नेन्ट हूँ और मुझे डिलिवरी से बहुत जादा डर लगता है मुझे क्या krnna चाहिए
उत्तर: हेलो . डियर .. आप आपके पीरियड्स खत्म होने बाद नेक्स्ट पीरियड आने की तारीख से तीन या चार दिन बाद आपको टेस्ट कर लेना चाहिए। कई महिलाओ का यह टेस्ट नेगेटिव भी आ सकता है, क्योंकि कई महिलाओ का गर्भधारण आखिरी दिनों में होता है। इसके लिए यदि आपको पीरियड नहीं होता है तो एक हफ्ते बाद दुबारा चेक कर सकते है। यदि उसमे भी नेगेटिव आता है तो एक बार आपको डॉक्टर से जाकर चेक करवाना चाहिए क्योंकि कई बार घर में टेस्ट नेगेटिव आने के बाद डॉक्टर के पास चेक करवाने से आपको सही रिपोर्ट मिल जाती है..ok
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मुझे बहुत जादा टॉयलेट होता है
उत्तर: हेलो डियर . क्या आप प्रेग्नेन्ट है ? kripiya आपना जवाब मेरे इज जवाब की टिप्पणिया में भेजे . ताकि मैं आपकी मदद केर सकूँ ..
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मैं अकेले ही अपनी बच्ची को संभल रहीं हूँ, प्लीज़ मुझे कुछ सुझाव दें। मैं बहुत हीं चिंतित हूँ, और ऐसा लग रहा है डिप्रेशन में हूँ।
उत्तर: Hello dear! पोस्टपार्टम डिप्रेशन बहुत ही आम है, और डिलीवरी के बाद अधिकांशतः महिलाएं इससे ग्रषित होती है। आपको हिम्मत से काम लेना होगा। याद रखिये की आप बहुत स्ट्रांग है, और यह बस एक फेज(phase) है जो जल्द ही चला जाएगा। आप अपने बच्चे की अच्छी तरह से मालिश कीजिये, उसे भी बहुत अच्छा लगेगा, उसके बाद आप उसे पानी से अच्छे से नहला कर, दूध पिलाते पिलाते सुलाने की कोशिश करिये, कुछ ही दिनों में वह इस रूटीन को समझ लेगी और सोने लगेगी। आप अपने पति से इस बारे में बात करिये, चुपचाप रहने से कुछ भी ठीक नहीं होगा। बच्चे की जिम्मेदारी पूरे परिवार की होती है, न ही सिर्फ माँ की। आप अपने खान-पान का ध्यान रखिये। थोड़ा बहुत ध्यान लगाने की कोशिश भी करें। कुछ चीज़ो के लिए आप कोई हेल्प भी रख सकती है घर में जो आपका काम में हाथ बटा सके। बच्चे के साथ खेलिए उसका ध्यान कुछ चीज़ो की तरफ आकर्षित करें। कुछ खिलौनो को देख कर बच्चे बहुत ही उत्साहित हो जाते है, वह भी आप खरीद कर ला सकती है। अपने आस-पड़ोस की महिलाओं से बाते करके उन्हें भी आप शाम को अपने घर बुला सकती है। उदास और हताश रहने से कुछ नहीं होगा , उससे बस सिर्फ और सिर्फ निराशा ही हाथ लगेगी। याद रखिए आप अपनी मदद खुद करेगी तो ही लोग भी आपको सपोर्ट करेंगे। यह समय बहुत ही सुहाना है आपके बच्चे और आपके लिए, फिर कभी लौट कर नहीं आएगा। इसका आनंद उठाइये और अपना ध्यान रखिये।
»सभी उत्तरों को पढ़ें