9 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: प्रेग्नैन्सी मे ब्लीडिंग होना weekness का कारण हो सकता है

1 Answers
सवाल
Answer: हेलों आप 9 वीक्स प्रेगनेट है कमजोरी के कारण ब्लीडिंग नही होती है .शुरुआत प्रेग्न्सी में कुछ लेडिज को ब्लीडिंग होती है .इस तरह का रक्तस्त्राव तब होता है, जब गर्भावस्था के हार्मोन आपके सामान्य माहवारी चक्र को दबाने लगते हैं, मगर वे पूरी तरह ऐसा नहीं कर पाते और कुछ समय के लिए आपकी माहवारी जारी रहती है। आपकी सामान्य माहवारी आने के समय पर यह रक्तस्त्राव एक से ज्यादा बार भी हो सकता है।कभी-कभी ग्रीवा मुलायम होने लगती है, इस स्थिति को सर्वाइकल इरोजन भी कहते हैं। इसकी वजह से गर्भावस्था के शुरुआती दौर में रक्तस्त्राव हो सकता है। योनि में इन्फेक्शन होने पर भी ऐसा हो सकता है कभी कभी सेक्स के बाद भी ब्लीडिंग हो सकती है .घबराये नही हलकी स्पॉटिंग नॉर्मल होता है पर हम प्रेगनेंसी में कोई रिस्क नही ले सकते है .आप ऐसे में डॉक्टर से सलाह ले ताकि आप निशिन्त हो पाये कि सब नॉर्मल है और आपका बेबी सुरक्षित है आपको डॉक्टर रेस्ट करने की सलाh और कुछ मेडिसन दे सकती है अभी आप ज़्यादा से ज़्यादा आराम करे .आप अभी थकान वाले काम ना करे और ना भारी सामान उठा ये ना सरकाये क्रॉस लेग ना बैठे झुक कर काम ना करे सीढ़ी ना chade पैर लटका के ना बैठे जब भी लेटें पैरो के नीचे तकिया लगा कर सपोर्ट दे और हील्स ना पहनें .संतुलित और हेल्थी आहार ले
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: हेलो मेम प्रेगनेंसी म ब्लीडिंग होना गर्भपात का कारण है या किसी ऑर वजह से भी हो सकता है
उत्तर: हेलो डीआर अगर कंटिन्यूज ब्लीडिंग हो रही है तो गर्भपात का भी निशान हो सकता है लेकिन बहुत बार placenta अपनी जगह से थोड़ा सा हट जाता है जिस वजह से भी ब्लीडिंग होती है , या फिर बहुत बार यूट्रस के ऊपर बहुत ज्यादा तेज गति में ब्लड सर्कुलेशन होता है जिस वजह से भी ब्लीडिंग होती है तो अगर आप को ब्लीडिंग हो रही है प्लीज एक बार जाकर के डॉक्टर को दिखा लीजिए और चेक कराइए ताकि प्रॉपर reason पता चल जाए क्यों ब्लीडिंग हो रही है
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: पेट मे दर्द होना का कारण
उत्तर: hello प्रेगनेंसी में पेट में दर्द होना बहुत ही सामान्य बात है. यह दर्द बहुत ज्यादा नहीं होना चाहिए. थोड़ा बहुत दर्द सामान्य बात है .इसमें आपका दर्द अगर ऊपर हो रहा है तो गैस्ट्रिक प्रॉब्लम होती है .अगर यह दर्द lower एब्डॉमिनल है तो उसकी वजह अलग होती है. प्रेगनेंसी में गैस बनना बहुत ही सामान्य बात है आप घबराएं नहीं. प्रेगनेंसी में प्रोजेस्ट्रोन हार्मोन में भी बढ़ोतरी होने की वजह से गैस और कब्ज की दिक्कत होती है. जब प्रोजेस्ट्रोन का लेवल बढ़ता है तो गेस्ट्रो इंटेस्टाइनल ट्रेक धीमा पड़ जाता है .तब खाया गया खाना बहुत धीमे धीमे पचता है और गैस और कब्ज की शिकायत होने लगती है. अगर आप गैस की प्रॉब्लम और कब्ज की प्रॉब्लम से बचना चाहती हैं तो बहुत ही सादा खाना खाएं और समय पर खाएं और अपने खाने में फाइबर जैसी चीजों को ज्यादा ले घरेलू उपचारों से आप को बहुत आराम मिलेगा. जैसे जीरे का शरबत बनाकर रखें एक गिलास पानी में एक चम्मच कच्चा जीरा पीस के डालने पर शक्कर डालने| चित्र खोलकर रख लें दिन भर में थोड़ा थोड़ा पिया. खाना खाने के बाद आधा चम्मच अजवाइन का चूर्ण ले ले| ध्यान रखें आपका पानी पीना बहुत जरूरी है. इससे भी आपको गैस में राहत मिलेगी. अपनी नींद समय पर ले कोई भी भारी खाना बहुत सारा एक साथ ना खाएं. खाना चबा चबा कर खाएं . दिन भर में थोड़ा-थोड़ा खाते रहे. प्रेग्नेंसी में (लोअर एब्डोमिनल )पेट के निचे daard कभी कभी होता है। Lower abdominal मतलब कि पेट के नीचे की तरफ अगर आपको दर्द हो रहा है तो उसका kard यह है कि आपका यूट्रस अब बढ़ रहा है. राउंड लिगामेंट्स में खिंचाव होने के कारण आप नीचे की तरफ दर्द महसूस करती हैं और यह दर्द फर्स्ट ट्राइमेस्टर में बहुत ही नॉर्मल है. अपना ध्यान रखे । भरी सामान नहीं उठए। बहुत समय तक खड़े नहीं रह। बैठा ते समय या लेते समय आपने पैरो को ऊपर की और थोड़ा ucha रखे। Paani बहुत पिए । पोषतीक और हल्का आहार ले। Jyada दर्द होने पे तुरंत ही डॉक्टर को दिखाए। take care
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: पेट दर्द का कारण क्या हो सकता है?
उत्तर: हेलो डियर हल्का फुल्का पेट दर्द तो आपकौ पूरी प्रेग्नंसी मे ही होगा ।जैसे-जैसे प्रेग्नन्सी बढ़ती है बेबी का वजन भी बढने लगता है और baby की ग्रोव्थ के बढ़ने के साथ-साथ उतरुस में मांसपेशियों में खिंचाव पैदा होने लगता है जिसकी वजह से पेट दर्द जैसी प्रॉब्लम होने लगती है ।कभी कभी पेट दर्द गैस या कब्ज की वजह से भी होता है। पेट दर्द को दूर करने के लिए आप निम्न उपाय अपना सकती हैं- आप लगातार एक ही स्थिति में खड़ी ना रहे ,ना ज्यादा देर तक कहीं पर बैठे ।संतुलित और पौष्टिक भोजन ही करें । ज्यादा से ज्यादा मात्रा में पानी पिए । तनाव मुक्त रहें । जमीन पर पैरों को मोड़ कर ना बैठे । एक ही स्थिति में ज्यादा देर तक ना सोए। और अगर आपको ज्यादा पेट दर्द हो रहा है तो आप तुरंत ही अपने डॉक्टर से मिलें ।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
Healofy Proud Daughter