40 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: मेरे में मेरा डिलीवरी 12 नवंबर को है और आज पानी हल्का ब्लड आया है मैं क्या करूं मैडम बताइए

1 Answers
सवाल
Answer: आपकी बेबी का टाइम अब बिल्कुल पास है आपको ज्यादा वेट नहीं करनी चाहिए अगर आपको पानी आना स्टार्ट हो गया है या ब्लड आना स्टार्ट हो गया है तो आपको तुरंत डॉक्टर के पास चले जाना चाहिए क्योंकि आप की डिलीवरी होने वाली है यह डिलीवरी के ही सिम्टम्स होते हैं आप डॉक्टर पास चले जाइए आप की डिलीवरी हो जाएगी गुड़ लक
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: मेरा तीसरा महीना चल रहा है और मेरे पेट में हल्का हल्का दर्द रहता है और मेरे को चक्कर आते इसके लिए मैं क्या करूं प्लीज डॉक्टर बताएं
उत्तर: प्रेग्नेन्सी में हल्का फुल्का पेट में दर्द होना नॉर्मल है प्रेग्नेन्सी में होने वाले हार्मोनल परिवर्तन की वजह से ऐसा होता है ।आप परेशान ना हो।कभी कभी पेट दर्द गैस और कब्ज की वाजह से भी होने लगता है इसलिए आप सन्तुलित और पौष्टिक फ़ूड खाइए ज़्यादा से ज्यादा मात्रा में पानी पीजीए ।तनाव मुक्त रहिए।कोई भी भारी समान ना उठाये ।ज्यादा देर तक एक ही जगह पर खडे ना रहे और ना ही बैठे।रात मे एक ही करवट लेकर ना सोए।अगर ज्यादा तेज पेट मे दर्द होता है तो डॉक्टर से सलाह लीजिए। गर्भावस्था में हारमोनल परिवर्तन के कारण चक्कर आना नॉर्मल है। आप परेशान मत होइए ।आप अपनी डाइट को सुधारिए जिससे आपको इस समस्या से छुटकारा मिल सकता है आप अपने भोजन में संतुलित और पौष्टिक भोजन ही लीजिए ज्यादा से ज्यादा मात्रा में पानी पीजिए तनाव मुक्त रहिये अच्छी नींद लीजिए और अपने आप को खुश रखने की कोशिश किजिए और अगर चक्कर लगातार कई दिनों तक आते हैं तो आप अपने डॉक्टर से सलाह भी लीजिए
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मैडम मुझे सफेद पानी जाता है उसके लिए मैं क्या करूं मुझे सिक्स मंथ चल रहा है और पेट में हल्का हल्का दर्द भी होता है
उत्तर: बताओ में क्या करूं मेरी कमर में दर्द रहता ह और बजन भी बहुत bad रहा ह1 वीक में 1 किलोग्राम bad जाता ह
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मुझे हल्का सा ब्लड आया उसके लिए मैं क्या करूं
उत्तर: हेलो डियर प्रेगनेंसी के दौरान स्पॉटिंग होना नॉर्मल है इसके लिए आप बिल्कुल भी परेशान ना हो ।अगर आपको ज्यादा मात्रा में ब्लीडिंग होती है तब आप डॉक्टर से कंसल्ट करें और उनकी सलाह लीजिए। इस दौरान आप भारी सामान ना उठाएं सीढ़ी ना चढ़े।कोई भाग दौड़ वाला काम ना करें ।सन्तुलीत और पौस्तिक फूड़ खाये।ज्यादा से ज्यादा मात्रा में पानी पिए और तरल पदार्थों का सेवन करें। तनाव मुक्त रहें । ज्यादा से ज्यादा आराम करें ।मासालेदार और ओइल्य फूड़ ना खाये और अपना डॉक्टर से नियमित रूप से चेक करवाएं ।
»सभी उत्तरों को पढ़ें