2 महीने का बच्चा

Question: मेरे बेबी बॉय का कलर धीरे धीरे डार्क हो रा है क्या karu

3 Answers
सवाल
Answer: हेलो डियर , बेबी का जनम के बाद में जो रंग रूप होता है बेबी का रंग वैसा ही होगा jaisa बेबी जनम के बाद था बेबी होने के बाद बाहरी वातावरण में आने की वजह थोड़ा रंग बेबी का दब जाता है क्युकी बेबी पहले केवल माँ के ही गर्भ में होता है और बेबी को बाहर का हवा पानी नही लगता है इसलिए बेबी का रंग जनम के समय पर और भी साफ़ होता है पर आप इसके लिए बिलकुल भी परेशान ना हो बेबी का जो पहले वाला रंग होता है वही बेबी का असली रंग होता है बेबी रंग थोड़ा बहुत ही बदलता है पर बेबी जनम के समय पर jaisa होता है बेबी का रंग वैसा ही हो जायेगा इसके लिए कुछ भी करने की ज़रूरत नही है !
Answer: हेलो डियर यैसा कौइ तरीका नही है जिससे बेबी का कलर फ़ेयर किया जा सके ।क्यूकी बेबी का कलर उसके माता पिता के जीन्स पर आधरित होता है ।इसलिए इसको बदला नही जा सकता है।अगर आप बेबी के फेस पर कुछ भी लगती है तो उससे बेबी के फेस को नुक्सान पहुँच सकता है क्युकी बेबी की स्किन बहुत सेन्सिटिव़ होती है ।
Answer: uski jaitoon oil se malish kare
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: मेरे बेबी बॉय के बॉडी पर बोहत बाल है और उसका कलर भी थोड़ा डार्क है जबकि पहले वाले बच्चे का कलर फेअर है... क्या करु ......
उत्तर: besan our haldi se uske pith pe lagaoo usko nehlaoo to uska colour bhi acha hoga our baal bhi chale jayenge
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: क्या प्रेग्नेन्सी मि चुकन्दर का जूस पीने से बेबी का कलर डार्क हो जता है
उत्तर: चुकंदर का जूस पीने से बेबी का कलर डार्क नहीं हो सकता है यह आपको गलतफहमी है चुकंदर का जूस पीने से आपके शरीर में हीमोग्लोबिन की कमी नहीं होगी क्योंकि चुकंदर में आयरन की मात्रा बहुत ज्यादा पाई जाती है और इससे आपके शरीर में खून की कमी नहीं होगी और आप स्वस्थ रहेंगी प्रेगनेंसी के दौरान आपको कोई प्रॉब्लम नहीं होगी और आपका बच्चा भी स्वस्थ रहेगा बच्चे का रंग जेनेटिक होता है और वह परिवार के सदस्यों पर ही जाता है तो रंग में आप बहुत ज्यादा परिवर्तन नहीं कर सकते हैं ।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरा बेबी 1 ईअर का हो गया हे लेकिन धीरे धीरे उसका रंग डार्क हो रहा है कुछ उपाय बताये
उत्तर: त्वचा में मौजूद मिलानिन पिगेमेंट (milanin pigement) होता है जिसके अधिक होने पर त्वचा का रंग सांवला होता है। इसके अतिरिक्त अनुवांशिक कारणों यानी माँ बाप के रंग की वजह से भी कई बार बच्चे का रंग सांवला हो जाता है। ऐसे में परेशान होने की आवश्यकता नहीं है। क्योंकि सही समय आने पर बच्चे का रंग अपने आप ही साफ़ हो जाता है। इसके अलावा भी कुछ तरीके और उपाय है जिनकी मदद से आप अपने बच्चे के रंग को साफ़ कर सकती है। 6 महीने के बाद के बच्चों का रंग साफ़ करने के लिए फलों का रस वाकई एक जादुई उपाय है। अंगूर का रस पिलाने से बच्चे की त्वचा का रंग अच्छा होने लगता है। सेब और नारंगी जैसे फलों का रस भी उसका रंग निखारने में मदद कर सकते है।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मीयर बेबी का स्किन कलर डार्क होता जा रहा है क्या karu
उत्तर: हैलो डियर -आप परेशान न हों वैसे तो बच्चे का रंग मां बाप के रंग पर निर्भर करता है। अक्सर बच्चों का कलर जन्म के समय गोरा और धीरे धीरे डल होता जाता है इसमें आप परेशान ना हो हो सकता है धीरे धीरे बच्चा जब बड़ा होगा और मालिश तेल लगाना बंद होगा तो उसका कलर फिर से फेयर हो जाएगा।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
Healofy Proud Daughter