14 महीने का बच्चा

Question: मेरे बेटा का jhukam nhi thik ho rha h koi tips bataye

1 Answers
सवाल
Answer: हेलो डियर छोटे बच्चों को अक्सर खांसी जुखाम सर्दी की प्रॉब्लम हो जाती है मैं आपको बेबी की खांसी सर्दी के कुछ घरेलू उपाय बताती हूं जिसकी मदद से बेबी की सर्दी खांसी में राहत मिलेगी 5 या 10 लहसुन को सरसों के तेल का तड़का अजवाइन का बीज के सन्त तड़का दें ऑर ठण्डा करकें रख लें फ़िर बेबी के सर छाती गले में मलीस करें भाप दें बेबी को अजवाइन को थोड़ा शा भून कर उसे पोटली बना कर रखें फ़िर उसको बेबी के नाक के पास सुनघऐ सर्दी या परेसानी ज्यदा होने की स्थिति में डॉक्टर से बेबी को सुलाने के टाइम पतला सा तकिया सर पर रख कर सुनाएं इससे बेबी का सर पर उठा रहेगा तो उसको सांस लेने में प्रॉब्लम नहीं होगी और बेबी अच्छे से सो पाएगी
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: mere bete ko fevar or khasi or jhukam ho gya h davai se aram nhi pd rha pls kuch bataye jisse vo thik ho jye
उत्तर: डिअर बेबी की नाक बंद रहने का कारण ज़ुकाम, ओर सर्दी हो सकती है नाक बंद होने की वजह से ओर खासी की वजह से बेबी को सास लेने में भी प्रॉब्लम होती है देर आओ इसके लिए कुछ घरेलू उपाय कर सकती है 1 शिशु की नाक में दिन में कई बार नेसल ड्राप डालने से उसे बंद नाक की समस्या से आराम मिलता है। इसका इस्तेमाल आप तब तक करें जब तक की शिशु की बंद नाक की समस्या पूरी तरह से समाप्त न हो जाये। 2 आओ बच्चे की अजवाइन की पोटली बनाकर सिकाई कीजिये ,सती कपड़े में अजवाइन को ग्राम करके बाँध ले और बच्चे की सिलाई कीजिये 3 डिअर आप बेबी को गरम पानी का भाप देने का एक बहुत ही आसान तरीका है की बाथरूम में गरम पानी का टैप खोल दीजिये, कुछ देर में जब स्नानघर भाप से भर जाये तो अपने बेबी को गोदी में लेके 15 मिनट बाथरूम के गुजारें। इतना समय काफी हो 4 आप बेबी को एक चुटकी केसर को गुन्गुने पानी में दलके उसे बेबी के छाती और पीठ व् सर में लगाए 5 कुछ दिनों के लिए जब तक की आप के बेबी की सर्दी खांसी और बंद नाक की समस्या पूरी तरह ठीक न हो जाये, बेबी के कमरे की खड़कियोँ और दरवाजों को बंद रखें। 6आप बेबी को एक चम्मच दूध में एक चुटकी हल्दी डेल फिर ठंडा होने पर बच्चे को पिलाये डियर बेबी को आप गुनगुने पनि से हाइ नहलये जायफल पीस कर नाक, छाती और माथे पर इसका लेप करने से भी बुखार में आराम मिलने लगता है। शिशु के बुखार में एक साफ कपड़ा ठंडे पानी में भिगो कर शिशु के सिर पर ठंडी पट्टी रखे। बुखार कम करने के लिए बेबी के हाथ पैर और कमर पर भी कपड़े का प्रयोग करे। ख्याल रहे बर्फ वाला ज्यादा ठंडा पानी प्रयोग ना करे। बच्चे का बुखार ठीक करने में माँ का दूध बेहद ज़रूरी है। इससे शिशु को जरुरी पोषक तत्व मिलते है जिससे बच्चे को रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: mera three months chal rha एच muje 20 days se khasi h thik nhi ho रही h koi उपचार bataye
उत्तर: हेलो ... आप अपने गले के दरद ya khansi को काम करने के लिये कुछ घरेलू उपाय करे जैसे आप aap taaze adrak k ras mai thoda honey mix kar k le sakti hai...mutthi bhar tulsi k ras ko bhi aap honey k sath le sakti hai...pani jayda piye..or jitne bhi bar piye gunguna hi पीए ... और डिन मे 4 से 5 बार नामक डालकर गर्म पनि से garara ज़रूर करे .. हल्दी वाले दूध का सेवन करे .. नर्म चीज़ें हाइ खाए .. डिन मे 2 से 3 बार अदरक .. को नमक लगाकर खायें ... काढ़ा को शहद डालकर हाइ पिये ... और सरसों के टल मे 2 से 3 काली लहसुन को कूटकर तेल को अच्छी तरह से गर्म कर के थोड़ा गुनगुना होने पर गले मे हलके हाथों से मसाज करे . ऑर कॉटन का एक कपड़ा भि gale mei लपेट कर रखें .. बहुत आराम मिलेगा . ओके .. टेक केयर ..
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: jhukam ho rha h gharelu ilaj बताये ?
उत्तर: हेलो डियर प्रेगनेन्सी में सर्दी खाँसी होना मौ स म परिवर्तन आप के खानपान में बदलाव के कारण हो सकता है आप कुछ घरेलू उपाय कर सकते हैं आप मसाले वाली चाय पीये जिसमें अदरख , लौंग, इलायची, काली मिर्च तुलसी की पत्ती और गुड डाल कर चाय बनाकर पीए | घी मे सेन्धा नमक डाल कर छाती पर लगायें |दूध मे 2 रेसे केशर के डाल कर पीये | अदरक के रस को गुड मिला कर गरम करें जब ये गाढ़ा हो जायें तब इसको दिन मे 2 बार लें | शहद का आधा चम्मच , नींबू की कुछ बूँद और दालचीनी चुटकी मिला कर दिन मे 2 बार लें |
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरे बेबी को 15 दिन से kold h thik nhi ho rha h 2 bar doctar
उत्तर: हेलो डियर अभी आपकी बीवी बहुत ही छोटी है इतनी छोटी बेबी को केवल मां के दूध के अलावा किसी भी बाहरी चीजें उपयोग नहीं कर सकते इसलिए आप अपनी बेबी को अपना दूध पिलाते रहिए क्योंकि मां के दूध में कुछ ऐसे तत्व होते हैं जो बेबी को हर प्रकार के रोगों से लड़ने की क्षमता प्रदान करते हैं एवं एंटीबायोटिक का भी काम करते हैं इसके अलावा मौसम के अनुरूप अपनी बेबी को कपड़े पहनाए बेबी को टच करने से पहले विशेष सावधानी रखें पहले हाथों को अच्छी तरह धोकर ही बेबी को टच करें क्योंकि बेबी को सर्दी है और उसे अन्य इंफेक्शन का खतरा हो सकता है बेबी के पहनने वाले कपड़े चादर नैपकिन आदि को साफ रखें ताकि बेबी को कोई अन्य इन्फेक्शन ना हो और बेबी की सर्दी जल्दी ठीक हो जाए इसके अलावा आप सरसों तेल को गर्म कर उसमें लहसुन की एक कली मिलाकर गर्म कर लें और जब यह तेल ठंडा हो जाए तब बहुत ही हल्के हाथों से बेबी को मालिश करें क्योंकि अभी आपकी बेबी बहुत छोटी है इसलिए उसकी त्वचा छिल सकती है इसके अलावा आप अजवाइन का बहुत ही हल्का सा धुआं कमरे में कर सकती हैं जितना बे भी को सहन हो सके अतिरिक्त दुआ बिल्कुल भी ना करें इस प्रकार आप अपनी बीवी को स्तनपान कराते रहिए और बेबी का ध्यान रखिए ओके टेक केयर बाय
»सभी उत्तरों को पढ़ें