1 महीने का बच्चा

Question: मेरे बच्चे k पेट में Ethan होती रहती h और पोती भी कई बार करता h इसके लिए क्या करे

1 Answers
सवाल
Answer: छोटे बच्चे के अंगड़ाई लेने का मतलब उनके पेट में गैस बनना है जिसके कारन बच्चे दूध कि उल्टी भी करने लगते हैं।गैस की वजह से बच्चा ऐंठता या अंगड़ाई लेता ऐसे में बच्चे का मुंह लाल हो जाता है और पेट भी दरद करता है इससे बच्चे को बचाने के लिये कुछ घरेलू उपाय हैं.बच्चे को स्तनपान के बाद डकार दिलाएं, क्योंकि इससे बच्चे के पेट का गैस बाहर निकलेगा। डकार दिलाने के लिए बच्चे को अपने कंधे पर सुला कर हाथों से पीठ को सहलाएं इससे बच्चे का डकार निकेगा जिससे गैस की समस्या खतम होगी बच्चे के पेट में गैस को कम करने के लिए बच्चे के पैरों को हल्के से उठायें, जैसा कि आप मालिश के समय सायकल चलाने के समान चलायें इससे बच्चे के पेट से गैस बाहर होगी।बच्चे के पेट में गैस की समस्या होने पर अपने बच्चे के पेट को हल्के हाथों से गुनगुने सरसों के तेल से मालिश कर सकती हैं। आप ऐस खाने से बचे जिससे कि बच्चे को गैस की समस्या हो। माँ के गलत खान-पान की वजह से बच्चे को गैस होता है। बच्चे को बिना डाक्टरी सलाह के कोई मेडिसीन न दें।
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: मेने bacche k liye pucha tha mere bacche k pet m gess ban ri kya kare
उत्तर: हेलो डियर आप परेशान ना हो छोटे बेबी को अक्सर गैस की प्रॉब्लम होती है क्योंकि वह दूध पीते समय हवा पी लेते हैं और हवा उनके पेट के अंदर चला जाता है जिस वजह से बच्चों को गैस की प्रॉब्लम होती हैइसलिए आप बेबी को दूध पिलाया तो अपने से बिल्कुल चिपकाकर पिलाया था कि बेबी का मुंह आपके निप्पल में पूरा रहे और कहीं से भी हवा आने की जगह ना रहे आप बेबी को अपने से जितना ज्यादा चिपकाकर पास में दूध पिलाएंगे आप कभी भी उतना ही कम हवा घुट के गा हर दूध पिलाने के बाद तुरंत डकार दिलाएं क्योंकि डकार के माध्यम से ही गैस बाहर आती है इसलिए बेबी को दूध पिलाने के तुरंत बाद डकार दिलाना बहुत जरूरी है ज्यादा प्रॉब्लम होने से आप डॉक्टर से सलाह ले सकते हैं
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: खाना खाते ही मेरे पेट में ethan होती h और पोती लगती h क्यों
उत्तर: आप 15वीक प्रेग्नेंट है गर्भावस्था के दौरान पेट में दर्द, पीड़ा और मरोड़ होना सामान्य बात है।  गर्भ में शिशु के होने की वजह से आपकी मांसपेशियों, जोड़ों और नसों पर काफी दबाव पड़ता है। इससे आपको पेट के आसपास के क्षेत्र में काफी असहजता महसूस हो सकती है। थोड़ी देर के लिए बैठ जाएं।जिस तरफ दर्द हो रहा हो, उसके दूसरी तरफ होकर लेट जाएं और आराम करें।हल्के गर्म पानी से नहाएं।जहां दर्द हो रहा हो उस क्षेत्र में गर्म पानी की बोतल या गेहूं की छोटी पोटली से सिकाई करें। अगर आप गर्म पानी की बोतल का इस्तेमाल करें, तो इसमें गर्म पानी भरें (खौलता हुआ पानी नहीं) और ध्यानपूर्वक इसे तौलिये या किसी मुलायम कपड़े में लपेट लें। वहीं दूसरी तरह, गेहूं की पोटली एक कपड़े की पोटली होती है जिसमें गेहूं की भूसी भरी होती है। इस पोटली को माइक्रोवेव में कुछ मिनटों तक गर्म करना होता है। यह पोटली आपके शरीर के आकार के अनुसार ढल जाती है और एक घंटे या इससे ज्यादा के लिए गर्म रहती है।आराम करें
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: mere beta poti daily krta h pr krta bhot jor lga k h or poti b bhot sakht hoti h kya ye constipation h or isko normal krne k liye kya kru?
उत्तर: हेलो डियर आप घबराएं नहीं छोटे बच्चों को पोटी की प्रॉब्लम होती ही है आप कुछ टिप्स यूज़ करके बेबी की पॉटी रेगुलर करवा सकती हैंआपको आपकी बेबी का खास ख्याल रखना होगा आप अपनी बेबी को खाने में लिक्विड चीजें ज्यादा दे नारियल का पानी, फ्रूट जूस , दलिया, खिचड़ी यह सब चीजें ज्यादा खिलाएं और खूब सारा पानी पिलाएं.. जितनी बार भी पानी पिलाएं हल्का गुनगुना कर कर ही पिलाएं.. और अगर फिर भी बेबी की पॉटी की प्रॉब्लम ना हो तो तकलीफ बढ़ने से पहले आप बेबी को डॉक्टर के पास ले जाए जिससे बेबी की तकलीफ कम हो सके ओके टेक केयर
»सभी उत्तरों को पढ़ें