9 weeks pregnant mother

Question: मेरे पेड़ू में दर्द की वजह

2 Answers
सवाल
Answer: हेलों आपके pedu में दर्द है .जैसे जैसे गर्भाशय बढ़ता है, राउंड लिगामेंट्स में खिंचाव होता है, जिस कारण निचले पेट में दर्द होता है। जब आप अचानक अपनी स्थिति बदलती हैं तो दर्द तेज़ या बहुत तेज़ हो सकता है। आप ऐसे में लेफ्ट साइड लेट कर दर्द को कम कर सकती है या आपको जिस साइड दर्द हो रहा है उसके अपोजिट साइड लेट कर दर्द कम कर सकती है ऐसे कोई भी काम ना करे कि पेट में तनाव पड़े क्रॉस लेग ना बैठे दर्द अगर ज़्यादा हो तो डॉक्टर से सलाह ले पानी भरपूर पीये कभी कभी ये दर्द कब्ज़ गैस के कारण भी हो सकता है कोशिश करें कि ज्यादा देर खड़ी भी ना रहे एक ही पोजीशन में ना बैठे , अपनी पोजीशन बदलते रहे साथ ही अगर आप हील वाली चप्पल या सैंडल पहनती हैं तो अवॉयड करें जब भी आप सो कर उठे तो एकदम से ना उठे हैं पहले करवट ले फिर उठे हैं. अपना ध्यान रखें अपने खाने-पीने का ध्यान रखें.
Answer: हेलो डिअर, प्रेग्नेंसीय के शुरुआत में पेट के नीचे दर्द होना नार्मल बात है , ऐसे में दर्द होने पर पेट मे भ्रूण गर्भाश्यय में बनने की प्रक्रिया होती है इसी की वजह से पेट के निचले हिस्से में दर्द होता है, ऐसे में शुरुआती में उल्टी मिचली होने की वजह से पेट दर्द हो सकता है , अगर ये दर्द बहुत तेज होता है तो आप डॉक्टर को दिखा दे , लेकिन अगर हल्का दर्द होता है तो ऐसे में आराम करे , आराम से बैठे और उठे , अधिक से अधिक पानी पियें , हल्की सिकाई और हल्के हाथों से मॉलिश कर सकती है बहुत ज्यादा पेट के निचले हिस्से में डॉक्टर को दिखा देना चाहिए ।
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: मेरे पेड़ू में दर्द की वजह
उत्तर: हेलो डियर , अगर आपके पेट के निचले हिस्से में दर्द हो रहा है और दर्द हल्का हल्का है तो ऐसा होना नॉर्मल है लेकिन आपको कभी ऐसा लगे कि आपका पेट दर्द बढ़ रहा है तो आप देर ना करें और डॉक्टर से मिले प्रेगनेंसी में ज्यादा वजन उठाने वाला काम या कोई ऐसा काम जिसमें आपको थकावट ज्यादा लग गई तब पेट में दर्द बढ़ सकता है इसलिए आप ज्यादा भारी काम या ज्यादा झुकने वाले काम ना करें सोने की पोजिशन भी ऐसे रखें जिससे आपको पीठ और पेट में दर्द कम हो जैसे कि आप left सोए ,पीठ के बल सोने से आपकी यह तकलीफ बढ़ सकती है कोशिश करें कि ज्यादा देर खड़ी भी ना रहे एक ही पोजीशन में ना बैठे , अपनी पोजीशन बदलते रहे साथ ही अगर आप हील वाली चप्पल या सैंडल पहनती हैं तो अवॉयड करें जब भी आप सो कर उठे तो एकदम से ना उठे हैं पहले करवट ले फिर उठे हैं. अपना ध्यान रखें अपने खाने-पीने का ध्यान रखें.
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: पेट में दर्द की वजह ?
उत्तर: गर्भावस्था के दौरान पेट में दर्द, पीड़ा और मरोड़ होना सामान्य बात है। अगर आपकी गर्भावस्था एकदम स्वस्थ चल रही है, तो पेट दर्द आमतौर पर चिंता का कारण नहीं होते।  गर्भ में शिशु के होने की वजह से आपकी मांसपेशियों, जोड़ों और नसों पर काफी दबाव पड़ता है। इससे आपको पेट के आसपास के क्षेत्र में काफी असहजता महसूस हो सकती हैजैसे-जैसे आपका शिशु बढ़ता है, आपके गर्भाशय का झुकाव दाईं तरफ हो जाता है और ऐसे में आपके अस्थि-बंध (लिगामेंट) में ऐंठन या संकुचन हो सकता है। इसलिए आपको मरोड़ का दर्द दाईं तरफ ज्यादा महसूस हो सकता है।।जब भी दर्द हो, तो आराम करने से आमतौर पर मरोड़ से राहत मिल जाती है। आप निम्न तरीके भी आजमा सकती हैं: थोड़ी देर के लिए बैठ जाएं। जिस तरफ दर्द हो रहा हो, उसके दूसरी तरफ होकर लेट जाएं और आराम करें। पेट दर्द किसी ऐसी समस्या का भी संकेत हो सकता है, जो कि गर्भावस्था से जुड़ी न हो। अपेंडिसाइटिस, डिम्बग्रंथि पुटी (ओवेरियन सिस्ट), गुर्दे की पथरी, मूत्रमार्ग संक्रमण (यूटीआई), कब्ज, गैस, पेट खराब होना या पित्ताशय से जुड़ी समस्या पेट दर्द का कारण हो सकती हैं। हो सकता है आपकी गर्भावस्था की वजह से कोई समस्या उत्पन्न हुई हो। गर्भाशय में जो फाइब्राइड्स गर्भाधान से पहले आपको परेशान नहीं करते थे, वे अब आपके गर्भावती होने पर असहज महसूस करा सकते हैं। आप कैसा महसूस कर रही हैं, इस बारे में सब लिखकर रखें और डॉक्टर को बताएं। वह यह अंदाजा लगा पाएंगी कि आपकी असहजता की वजह गर्भावस्था के दर्द और पीड़ा ही हैं
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरे पेट में दर्द रहता है इसकी क्या वजह है
उत्तर: हेलो डियर, प्रेगनेंसी में utress बढ़ने की वजह से पेट की मास पेशियों में खिंचाव होता है और आपका पेट दर्द होता है अगर यह हल्का हल्का होता है तो यह नॉर्मल बात है आप बिल्कुल भी परेशान ना हो ऐसा दर्द आपकी जब तक की डिलीवरी नहीं हो जाती तब तक हल्का हल्का दर्द बना रहता है प्रेगनेंसी के शुरुआती समय में बेबी के भूर्ण बनने का प्रोसेस होता है जिसकी वजह से पेट में हल्का दर्द और ऐंठन होती है ऐसा अगर आपको होता है तो यह नॉर्मल बात है ऐसे में आप अधिक से अधिक पानी पिएं ज्यादा आराम करें और गुनगुनी पट्टी से सिकाई कर ले , आप ऐसे में हल्के हाथ से तेल लगा कर मॉलिश भी कर सकती हैं ज्यादा पेट दर्द होने पर डॉक्टर को दिखा देना चाहिए ।
»सभी उत्तरों को पढ़ें