11 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: मेरे अन्दर बेटा हे या बेटी वह कैसे जाने

1 Answers
सवाल
Answer: भारत में लिंग जानने की अनुमति नहीं है । और क्या फर्क पड़ता है कि आपको बेटा होगा या बेटी आपको तो यह सोचना चाहिए कि बेटा हो या बेटी हो वह पूर्ण रुप से स्वस्थ हो । गर्भावस्था में और गर्भावस्था के बाद जच्चा और बच्चा दोनों का स्वस्थ रहना अति आवश्यक है
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: मेरे गर्भ मे बेटा हे या बेटी
उत्तर: लड़का होगा या लड़की ये जानने के लिए माँ को नौ महीना इंतजार करना पड़ता है आप्को,कोइ नहीं बता सकता कि लड़की है या लड़का इसलिए आप अपने दिल और दीमक को ये यकीं दिला ले आपको बुरा नहीं लग्न चाहिए भले ही लोग आपको बहुत साडी तरीके बताते है बूत कोई कभी काम नहीं करत,कभी अचानक से सही हो जाने से लोगो को लगता है हमारा तरीका सही था लेकिन ऐसा नहीं है आप अभी बस ये सोचिये कि आपके पेट के अंडर जो भी है वो आपके लिए भगवन का गिफ्ट है और सही सलामत रहे बुस और एक बात ये कोई नहीं बता पायेगा डॉक्टर्स के अलावा लेकिन उनको परमिशन नहीं है आपका बच्चा लड़की हो या लड़का आपसे बेहतर कोई नहीं जान सकता आप फील करे और खुश रहे
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मैं जानना चाहती हूं कि मेरे गर्भ में पलने वाला बच्चा बेटा है या बेटी कैसे जाने
उत्तर: हेलो डियर अगर आप को यह जा नना है कि आपको बेटा या बेटी उसे अभी से पता लगाना बहुत ही मुश्किल है इसके लिए कुछ स्पेशियल महसूस नहीं हो ता है आपको इसका इसका पता डिलीवरी से पहले नहीं लगाया जा सकता बेटा हो या बेटी इससे क्या फर्क पड़ता है हां बस जो भी बेबी वह स्वस्थ और हेल्दी होना चाहिए इसलिए आपको अपने बेबी के लिंग का पता डिलीवरी के बाद ही पता चल पाएगा आप अपना अच्छे से ख्याल रखें, अच्छी सी देत ले ताकि आपका होने वाला बेबी स्वस्थ रहे ।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरे मेरे गर्भ में बेटा है या बेटी कैसे जाने
उत्तर: हेलो बच्चा लड़का है या लड़की यह जानकर आप क्या करेंगे आप एक मां है और आपके लिए बच्चा स्वस्थ है या नहीं यह जानना जरूरी है ना कि लड़का है या लड़की। बच्चा ईश्वर की दी हुई बहुत बड़ी नेमत है। वह जो है उसे स्वीकार कर उसका स्वागत करें। दुनिया में मां बनने से बढ़कर खुशी और कोई नहीं है आप मां बनने वाली हैं इस खुशी को एंजॉय करिए यह 9 महीने एक औरत के जीवन की सबसे यादगार पल होते हैं। आप अपने बच्चे को महसूस करिए उससे बात करें और खुश रहिए। पॉजिटिव सोच रखें । ऐसे नेगेटिव बातें दिमाग में मत लाइए
»सभी उत्तरों को पढ़ें