5 साल का बच्चा

Question: मेरी 5 साल की बेटी है वह थोड़ी सी काली गोरा करने के लिए मैं क्या करूं

2 Answers
सवाल
Answer: हेलो डियर जैसा कि आ प ना े बताया कि आपकी बेटी 5 साल की है और वह थोड़ी सी का ली हो गई है तो उसे गोरा बनाने के लिए तो को ई ऐसा तरीका नहीं है कि जिससे आप बेबी को गोरा कर सके क्योंकि आपके बेबी का कलर माता पिता के जींस पर आधारित होता है कभी -कभी अनुवांशिक कारणों के कारण भी बच्चे का कलर मां के मां बाप के कलर से अलग हो जाता है इसलिए बेबी को गोरा बनाने के लिए तो कोई तरीका नहीं है आप बेबी की स्किन में ग्लो जरूर ला सकती हैं इसके लिए आप नीम्न टिप्स अपना सकती हैं आप बेबी के चेहरे को साफ कच्चे दूध से रोज साफ करें बेबी का चेहरा धोने के लिए साबुन का उपयोग न करें . चेहरा धोने के लिए बेसन का उपयोग करें बेबी के फेस पर रोज नींबू शहद लगाए । आप के फेस पर बादाम पेस्ट + कच्चे दूध लगाएं। इन सब उपायों को करने से बेबी की स्किन में ग्लो आ जाएगा
Answer: हेलो डियर अगर बच्चे का रंग डल है तो ऐसा हो ना जन्मजा त होता है इसके लिए कुछ भी किया नही ं जा सकता है इसलिए आप परेशान ना हो बेबी का रंग जैसा है वैसा ही रहेगा बस आप उसकी अच्छे से केअर करें , साफ सफाई का विशेष ध्यान रखें अच्छे कपड़े पहनाए बच्चे को अच्छे से डाइट दें आपका बच्चा स्वस्थ रहे वही अच्छा है ।
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: मेरी 5 साल की बेटी है उसको के क्रिस्टल है मैं क्या करूं
उत्तर: हेलो डिअर , आप के प्रश्न का जवाब इसी तरह के दुज़रे प्रश्न में दिया जा चुका है आप इसे देख ले और चेक कर ले आपकी हेल्प हो जाये ।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरी बेटी साल की है उसका वज़न बहुत ज़्यादा बड़ गया है .. कम करने के लिए क्या करूं बताइये
उत्तर: hello बच्चे का वजन कम करने के लिए सबसे पहले आप उसके खाने पीने का ध्यान रखें । बच्चे को ग्रीन वेजिटेबल्स फ्रूट अनाज खिलाएं। फास्ट फूड जंक फूड चॉकलेट पेस्ट्री पिज़्ज़ा बर्गर पास्ता नोडल से दूर रखें इसमें मौजूद ट्रांस एजुकेटेड पेट बच्चों में चर्बी बढ़ाता है। टीवी मोबाइल और कंप्यूटर से दूर रखें। टीवी देखते समय कोई भी खाने पीने की चीजे या स्नेक्स ना दें। फिजिकल एक्सरसाइज जैसे साइकिलिंग स्किपिंग स्विमिंग करवाएं। आउटडोर गेम खेलने के लिए बच्चे को उत्साहित करें। अभी उम्र कम है अभी से आप बच्चे का वेट कंट्रोल कर लेंगे तो आपके बच्चे के लिए अच्छा रहेगा। उम्र बढ़ने के साथ-साथ मोटापा भी बढ़ेगा और बच्चे के लिए बीमारियों का कारण होगा
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरे 5 साल की गुड़िया है जिसे रात में बाथरूम करने की समस्या है तो मैं उसके लिए क्या करूं
उत्तर: हेलो अगर आप का बच्चा बिस्तर पर पे शाब कर ता है तो बच्चे को आदत डालिए की वह सो ने से पहले पेशाब जरूर करें ।  अगर बच्चा कभी जल्दी सो जा ये तो उसे गोद में उठाकर बाथरुम ले जाएँ  अगर बच्चा अके ले सोता है तो उसके कमरे में हल्का रौशनी वाला बल्ब लगाएं ताकि रात में उठकर वह स्वंय भी बिना किसी मदद के बाथरुम जा सके  रात 8 बजे के बाद जयादा पानी ना दें ं  अगर बच्चा फिर भी कभी बिस्‍तर पर पेशाब कर दे तो उसे मारें नही ंं बल्कि प्यार से समझाएं  सोने से 1 घंटा पहले खानाखिला देना चाहिए   बच्चे को सोते से जगाकर कुछ भी खाने और पीने को नहीं देना चाहिए बिस्तर पे पिशाब करना कोई गंभीर समस्या नहीं है। इस सेबचने केलिये आप तिल और गुड़ को साथ मिला कर उसका मिश्रण बना लें। इसे खिलाने से बच्चे का बिस्तर पे पिशाब नही करेगा । अंदाज से 10 ग्राम आवंला और 10 ग्राम काला जीरा साथ मिलकर पीस लें। इसमें लगभग इतनी ही मात्रा में चीनी पीस कर मिला दें। इस मिश्रण को हर दिन बच्चे को पानी के साथ खिलने से बच्चे को बिस्तर पे पिशाब नहीं हो गा । आवंला को बारीक़ पीस कर रोज ाना शहद के साथ 3 ग्राम सुबह और शाम खिलने से भी लाभ पहुँचता है।  हर दिन पांच मुनक्का बच्चों को खिलने से बच्चों का बिस्तर में पेशाब करने का रोग ख़तम हो जाता है।  प्रतिदिन दो अखरोट और बीस किशमिश बच्चों को खिलाने से बिस्तर में पेशाब करने की समस्या दूर हो जाती है। एक कप ठण्डे फीके दूध में एक चम्मच शहद मिलाकर सुबह-शाम चालिस दिनों तक बच्चे को पिलाइए और तिल-गुड़ का एक लड्डू रोज खाने को दीजिए। अपने बच्चे को लड्डू चबा-चबाकर खाने के लिए कहिये। इससे बच्चे की बिस्तर पर पेशाब करने की आदत से आपको छुटकारा मिलेगा।
»सभी उत्तरों को पढ़ें