3 महीने का बच्चा

Question: मेरी बेबी 3 मंथ की होने बाली है बो दूध बहुत निकालती है और पतली भी है क्या करूं ?

1 Answers
सवाल
Answer: हाय डिअर यदि आप का बच्चा दूध निकलता है और दूध निकालने में फटा फटा दूध निकालता है या दही निकालता है अपने मुंह से दही जैसा कुछ निकालता है तो यह एक नॉर्मल बात है बच्चे अक्सर निकालते हैं आप इस टाइम पर जितना हो सके अपने बच्चे को अपना दूध पिलाएं हर दो 2 घंटे में आप अपने बच्चे को दूध पिलाएं मां का दूध बच्चे के लिए पोषण से भरपूर होता है तो वह बहुत ही अच्छा होता है और जितना हो सके अपने बच्चे की मालिश करें मालिश करने से बच्चा फूलता है और उसकी हड्डियां मजबूत होती हैं ! मालिश आप नारियल तेल से करें मैं बहुत ही अच्छा होता है बच्चों के लिए !
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: मेरी बेबी वन मंथ की है ऑर मेरी बेबी पोटी बहुत पतली करती है कभी कभी 3 बार भी कर देती मुझे बताये में क्या करु
उत्तर: hello dear Jaisa ki abhi aap ka baccha केवल 1 महीने का है और वह मां के दूध पर निर्भर है तो बच्चे इस अवस्था में छह-सात बार पॉटी कर सकते हैं इसमें परेशान होने वाली कोई बात नहीं जैसे जैसे बच्चा बड़े होने लगता है और ठोस आहार लेने लगता है तो पार्टी की मात्रा कम होने लगती है
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरी बेबी दूध बहुत निकालती है क्या करु
उत्तर: लगभग आधा युवा बच्चे नियमित रूप से थूकते हैं। थूकने के लिए चोटी की उम्र - जिसे रिफ्लक्स भी कहा जाता है - 4 महीने है। जब आपका बच्चा अपने स्तन के दूध या सूत्र के साथ हवा को निगलता है, तो हवा तरल के साथ फंस जाती है। हवा को उठना पड़ता है, और जब ऐसा होता है, तो कुछ तरल उसके मुंह या नाक के माध्यम से भी आते हैं। बेबी अपने आकार के संबंध में बहुत सारी पोषण लेते हैं, और उनमें से कुछ वास्तव में खाना पसंद करते हैं, इसलिए कभी-कभी वे overfilled और, अच्छी तरह से, अतिप्रवाह हो जाते हैं। एक नवजात शिशु पाचन तंत्र पूरी तरह विकसित नहीं होता है, या तो।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरी बेबी 1 मंथ 13 डिन की है वो गैस बहुत निकालती है क्या करु bataye
उत्तर: baby के पेट में गैस हवा जमा होने के कारण होती है। new born baby ko feed करते समय या बोतल से दूध पीते समय बहुत सारी हवा भी अंदर निगल लेते हैं। कभी-कभी रोते समय और सांस लेते समय भी हवा अंदर ले जाते है। पेट में हवा जमा होने से new born baby को पेट भरा-भरा सा महसूस होता है। पेट के अंदर हवा होने से शिशु को बहुत असहजता महसूस होती है और इसी को हम गैस का नाम देते हैं। डकार दिलवाना - डकार दिलवाने के लिए तीन तरीके हैं। आप इन तीनों को ही आजमा कर देखें। बच्चे को कंधों के ऊपर लगाएं और उसके कमर को अपने हाथ से थपथपाएं या सहलाएं और मलें। कंधे पर बच्चा तना हुआ और सीधा होता है इसलिए ऐसे में बच्चे को डकार आने में आसान होती hai , new born baby को गैस हो जाए तो क्या करना चाहिए · बच्चे को अपनी गोद में उसकी पीठ आपके पेट का सहारा लिए हुए बैठाएं। बच्चे की साइड से अपना हाथ निकालते हुए बच्चे को हल्के से आगे की ओर झुकाएं। दूसरे हाथ से बच्चे की कमर को थपथपाएं या मलें। · अपनी गोद में बच्चे को पेट के बल लिटाएं। बच्चे को एक हाथ से कसकर पकड़े रहें और दूसरे हाथ से उसकी पीठ को हल्के-हल्के मलें। · हींग का पेस्ट- हींग का पेस्ट बनाने के लिए एक चममच में थोड़ा गर्म पानी डालें और उसमें 2 चुटकी हींग डालकर पेस्ट बना लें। बच्चे की नाभि के चारों तरफ गोलाकार विधि में घुमाते हुए इस पेस्ट को लेप जैसे लगा दें। कुछ ही देर में बच्चे को दर्द से आराम मिल जायेगा। ग्राईप वाटर पुराने समय से चला आ रहा एक effective remedies है। ग्राईप वाटर में जड़ी-बूटियां और सोडियम बाइकार्बोनेट होता है जो बच्चे के पेट में गर्माहट पहुंचाती हैं और जमा हवा के बुलबुलों को तोड़कर गैस को डकार या दूसरे माध्यम से बहार कर देती हैं। सोडियम बाइकार्बोनेट अम्ल (एसिड) को भी प्रभावहीन बनाकर पेट में गैस दर्द से relief दिलाती हैं। बच्चे को गैस होने पर दो चम्‍मच ग्राईप वाटर की पीला दें। बच्चे को गैस में आरंभ आएगा। घर पर ग्राईप वाटर बनाने के लिए 50 मिलीलीटर पानी में 2 चम्मच सौफ मिलाएं और इसे उबालें। इसको तब तक उबालें जब तक ये आधा ना रह जाएँ। अब इस पानी को बच्चे को पिलायें। आप बाजार से भी ग्राईप वाटर खरीद sakte hai,
»सभी उत्तरों को पढ़ें