13 months old baby

मेरी बेबी 13 महीने की हो गयी ह लेकिन लगती ऐसी ह जैसे 4 महीने की हो वजन भी 4 या 5 किलो ह बेबी का वजन ऑर लम्बाई बढ़ने के लिये क्या करे प्लीज़ बताइए please

सवाल
Hello..dear यदि आपका बच्चा खुश और सक्रिय है तो इसका मतलब है कि आपको चिंता करने की कोई ज़रूरत नहीं है बच्चों की जीन आपके बच्चे के वजन और शरीर संरचना का निर्धारण करने में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाती हैं। इसलिए यदि आप और आपके पति या तो परिवार मे कोई पतला हैं, तो अपने बच्चे से मोटा होने की उम्मीद ना करे .आप अपने बच्चे क वेट बढ़ने क लिए कुछ खाद्य पदaरथ दे सकती है... १। पक्का kela. २। ड्राई फ्रूट्स का powder ३ । फुल्ली क्रीमी मिल्क ४। क्रीमी दहि ५। फ्रूट्स juice ६। खजूर ७। नारियल का dhudh ८। बटर ९। चीz १०। पनीर ११। सोया मिल्क १२। श्रीखंड १३।चaवल १४। uraad डाल १५। नॉन वेg [ एग्ग..फिश..chicken..red meat ] een सभी से आप अलग अलग प्रकार क डिशेस बनाकर ...आप अपने बेबी को दे सकती आप के बेबी का वेट bahut कम है आप को बेबी को एक बार डॉक्टर को भि दिखा लेना चाहिए ओके
हेलो डियर आप अपने बच्चे को अंडा पोहा उबला हुआ आलू पनीर चीज दाल चावल दलिया खिचड़ी यह सब दीजिए साथ ही में अपने बच्चे की डाइट में घी और बटर का यूज़ करें अब आप अपने बेबी को ब्रेस्टफीड के साथ-साथ ऊपर क भी दूध दीजिए बेबी के लिए छोटा सा ब्रांड बना लीजिए और उसको आप छोटी-छोटी बाइट्स डालें जब बच्चा खेल रहा हो आजकल गाजर पालक चुकंदर यह सब अच्छे से मिलता है इस मौसम में आप अपने बच्चे को दे सकते हो यहां गाजर की पूरी पालक की पूरी बना कर भी दे सकते हो या मिक्स वेज का सूप दे सकते हो यदि आप चिकन खाते हैं तो बच्चे की डाइट में चिकन का सूप भी शामिल कर सकते हैं
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: मेरी बेबी 9 महिने की है उसका वजन भी बहुत कम है वजन बढ़ने के कुछ उपाय है तो बताइये .
उत्तर: आठ महीने के बच्चों का आहार चार्ट हैं : अंडे का पीला भाग चिकन चीज़ दही टोफू फूल गोभी ब्रोकली कीवी मछली ब्रेड स्टिक्स जब भी बच्चे को कोई नया स्वाद या आहार दें तो हमेशा तीन दिन वाले नियम का ध्यान रखें । जहां तक संभव हो, बच्चे को फास्ट फूड और अधिक नमक-चीनी वाला आहार खाने को न दें। बच्चे के खाने के समय को घड़ी के कांटे से न तोलें, बल्कि बच्चे की भूख के इशारों को समझें, जब उन्हें भूख लगे तभी उन्हें खाने के लिए दें। इसके साथ स्तनपान भी जारी रखें। बच्चे को खाने के लिए जब किसी चीज का टुकड़ा दें तो वह बिलकुल ही छोटा न हो, क्यूंकी ऐसे टुकड़े को बच्चा अपने दांते से काटने के लिए पकड़ नहीं सकता। इसलिए जब भी उसके लिए कोई खाने की चीज को काटें तो उसका आकार और साइज़ ऐसा हो जिसे बच्चा हाथ से पकड़ कर आसानी से अपने मुँह में ले सके। बच्चे को खाना खिलाते समय धैर्य से काम लें। हो सकता है की आप अपना समय बचाने के लिए सारा भोजन जल्दी-जल्दी उसके मुँह में देना ठीक नहीं है । अगर बच्चे ने किसी खाने को मना कर दिया है तो कुछ समय बाद फिर से उसे देने का प्रयास करें । जब आपका बच्चा खाना खा रहा हो तो उसके आस-पास ही रहें, ऐसा न हो खाते समय उसके गले में कुछ फंस जाएँ । 9महीने के बच्चे के खाने का बच्चे को भोजन निम्न समय के आधार पर दिया जा सकता है ; सुबह का नाश्ता                –     सुबह 9 बजे सुबह का छोटा नाश्ता       –    11 बजे दोपहर का खाना              –    1 बजे दोपहर बाद का नाश्ता      –    4 बजे रात का खाना                   –     7 से 9 बजे रात को यदि बच्चे को भूख लगे तो इस समय के बीच में भी स्तनपान करवा सकतीं हैं। क्यूंकी इससे बच्चे को मुख्य रूप से शक्ति और पोषण मिलता है।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: हेलो मेरी बेबी 4 मंथ की पूरी हो गयी ह . लेकिन बेटी को lose मोशन
उत्तर: हेल्लो देर डिअर दस्त होने से बच्चा सुस्त और कमजोर हो जाता है ज्यादा दिनों तक दस्त होने से शरीर में पानी की कमी हो जाती है।दस्त की वजह बेबी के खान पान में बदलाव की वजह से बेबी को डांट लग जाते है बेबी को गर्मी के कारण भी दस्त लग जाते है बेबी कहना नही पाचन इन्फेक्शन आदि डिअर आप टेंशन मत लीजिये दस्त होने पर बच्चे को दूध देना बंद ना करके भोजन में बदलाव कर दे जैसे पतली खिचड़ी दही मिलाकर दे। केला मैश करके दे। जायफल के पाउडर को गुनगुने पानी के साथ दो तीन बार बच्चे को दे। दो या तीन ग्राम बेल के गूदे को दिन तीन बार बच्चे को दे। चावल को उबालकर उसका पानी पिलाएं । बेबी के पेट मे गुनगुने पानी मे हींग म8लेक 1 चम्मच पिलाए ओर नाभि में भी लगाये इतना करने कर बाद भी फ़र्क ना दिखे तो डॉक्टर को दिखाएं ।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरी बेबी आज से 4 month ki ho गयी है और उसका वजन 4.6oo किलो है क्या करना चाहिए मुझे वजन बढ़ने क लिए
उत्तर: hello dear बच्चे का वजन बढ़ाने के लिए आप निम्न उपाय अपना सकती हैं - आप अपने बच्चे की साफ सफाई का पूरा ध्यान रखें ।अपने बच्चे को नियमित रूप से हर 2 घंटे के अंतराल पर दूध पिलाते रहे । ध्यान रखें कि बच्चे की नींद हमेशा पूरी हो। बच्चे को ज्यादा मात्रा में रोने ना दे।
»सभी उत्तरों को पढ़ें