9 महीने का बच्चा

Question: मेरी बेबी को बार बार पोटी लग रही हे

3 Answers
सवाल
Answer: बच्चे जब 6 महीना के बाद thos भोजन चालू करते हैं तब उस टाइम उन भोजन को पचा पाना थोड़ा मुश्किल होता है भोजन में बदलाव की वजह से बच्चे को दस्त होना स्वाभाविक है इसलिए अगर बच्चे को दस्त हो रहा है काम कुछ घरेलू उपाय कर सकते हैं जैसे बच्चे को आप को क्या हुआ आलू खिला सकते हैं इसमें कार्बोहाइड्रेट की मात्रा ज्यादा होने की वजह से यह बार-बार हो रहे दस्त में फायदेमंद होता है आप बच्चों को अगर बार बार लेट्रिन हो रही हो क्या इस समय शरीर का पानी बाहर निकल जाता है जिसकी वजह से शरीर में पानी की कमी हो जाती हैus time हर 2 घंटे में o आर एस का घोल पिलाएं बच्चे को आप नारियल पानी भी पिला सकते हैं ऐसे बच्चों को एनर्जी मिलेगी और हो रहे दस्त से राहत मिलेगी इस टाइम बच्चे अपने मुंह में कुछ भी चीज ले लेते हैं जिसकी वजह से बच्चों को कभी कभी इंफेक्शन हो जाता है जिसकी वजह से भी दस्त होने लगती है इसलिए इस टाइम में आप साफ सफाई का ध्यान दें आप बच्चों को केला की pueriभी बना कर भेज सकते हैं बच्चे को उबला हुआ चावल का पानी भी पिला इसमें starch होने की वजह से loose motion को कंट्रोल करता है अगर बच्चे को उल्टी और दस्त 2 दिन से ज्यादा हो तो ऐसे में आप डॉक्टर की सलाह लें के के कैसे बच्चे के शरीर में पानी की कमी हो जाती है और बच्चे को परेशानी होती है
Answer: हल्लो। छोटे बच्चे को कुछ ताय नहीं होता वह कब पॉटी करेंगे कितने बार पॉटी करेंगे। निर्भर करता है की उसे फीड कितने बार दी जारही है और क्या दिया जारहा है। याने मदर मिल्क और फ़ॉर्मूल। आप अपने खाने में पौष्टिक आहार लें. ऐसा कोई खाना ना खाएं जिससे dast होते हैं .आपके दूध के द्वारा ही बच्चे तक पोषण पहुंचता है .आप जैसा खाना खाएंगे ऐसा प्रभाव बच्चे को भी पड़ेगा. आप अपना खाने का ध्यान रखें. बच्चे कई बार पॉटी करते है।। कई बार नहीं भी करत। द्यान रहे पॉटी बहुत पतली नहीं हो । पानी जैसी पॉटी जयाद नहीं होनी चाहिए और उसमे ब्लड नहीं ारः हो।अगेर ऐसी कोई समस्या है तो डॉक्टर dekhaye.
Answer: यदि आपके बच्चे को पांच छह बार से अधिक लूज मोशन हो रहे हैं तो आप बच्चे को हर 10 मिनट में वायरस का घोल दें जिससे बच्चे का शरीर हाइड्रेटेड बना रहे हो तथा हींग को गुनगुना करके बच्चे की नाभि के चारो तरफ लगाएं और उसके पेट के निचले हिस्से में भी लगाएं इससे बच्चे की गैस ठीक प्रकार से निकलेगी और मोशन में भी आराम मिलेगा बच्चे को केला खिलाएं इससे भी मोशन में आराम मिलता है यदि बच्चे को आराम ना मिले तो डॉक्टर से कंसल्ट करना चाहिए क्योंकि फिर उसको किसी प्रकार का इंफेक्शन हो गया है जिसकी वजह से मशीन कंट्रोल नहीं हो रहे हैं.
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: मेरा बेबी हरी पोटी कर रही हैं ओ भी बार बार कुछ ग्रीन ऑईल की तरहा लग रही है ?
उत्तर: Hello आप परेशान ना हो आपका baby 3 month ka hai..छोटे बच्चे में अगर हरी पोटी हो तो घबराने की कोई बात नहीं है , छोटे बच्चों में होने वाली हरी पॉटी का सिर्फ एक ही कारण है वह है मां के दूध का शुरुआती हिस्सा पीना . मां के दूध के शुरुआती हिस्से में पानी की मात्रा ज्यादा रहती है जिससे बच्चों की प्यास बुझती है, पर कभी-कभी बच्चे सिर्फ शुरूआती हिस्सा पी लेते हैं जिसकी वजह से उनको न्यूट्रिशन कम मिलता है और पोटी का कलर हरा हो जाता है ,इसलिए आप कोशिश कीजिए कि बच्चे को एक साइड से अच्छी तरह से दूध पिलाएं ,अगर आपका बच्चा जल्दी दूध पीकर छोड़ देता है तो आप अपने दूध का शुरुआती हिस्सा निकाल सकते हैं ताकि बच्चे को बीच का दूध मिले जो कि बच्चे के लिए बहुत ही अच्छा है जिससे बच्चे का वजन बढ़ेगा और और पोटी का कलर मस्टर्ड येलो कलर का होगा|
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मीयर बेबी को जनम से हि पोटी लग रही ह जितनी बार दुद पीती ह उतनी बार हि पोटी करती h
उत्तर: अगर आपका बेबी दिनभर potty कर रहा है तू इसमें चिंता की कोई बात नहीं है क्योंकि अगर छोटे बच्चे पूरे 24 घंटे में 6 से 7 बार पॉटी करता है तो वह नॉर्मल है लेकिन अगर इसे ज्यादा पोटी कर रहा है तो आपको डॉक्टर की सलाह की जरूरत है अगर उसके पार्टी की कलर में चेंजेस आए तो भी नॉर्मल है क्योंकि शुरुआत में बच्चे का पॉटी पूरे 6 महीने तक के बदलते रहता है शुरुआत में बच्चे ग्रीन पॉटी करते हैं बस इस बात का ध्यान रखिए कि बच्चा अगर सफेद या फिर काला potty कर रहा है तो आपको उसे डॉक्टर के पास ले जाना पड़ेगा बाकी किसी भी कलर की अगर potty कर रहा है तो चिंता की कोई बात नहीं होती
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरी बेबी पतला पोटी कर रही हे
उत्तर: हेलो डियर बेबी मां का दूध पीने की वजह से पतली पॉटी करते हैं ऐसा करना नॉर्मल बात है बेबी मां का दूध पीने की वजह से पतली पॉटी करते हैं ऐसे में मां का दूध बहुत पतला होता है जिसकी वजह से बेबी पतली पॉटी करते हैं ऐसा करना नॉर्मल बात है !
»सभी उत्तरों को पढ़ें