17 महीने का बच्चा

Question: मेरी बेबी को बोहोत तेज जुकाम हो रही हे क्या करु

1 Answers
सवाल
Answer: छोटे बच्चों को सर्दी खांसी जुकाम और कफ से राहत के लिए कुछ घरेलू उपाय---- 1)अजवाइन सरसो तेल और लहसुन की दस कलियां लेकर उसे पकाए, ठंडा होने पर बच्चे की मालिश करे। 2)बच्चे का सिर सोते समय ऊपर रखे, जिससे वह आसानी से साँस ले सके। 3)सर्दी-खांसी में बच्चे को अजवाइन का काढ़ा पिलायें। 4)खांसी सर्दी के दौरान सूप और चिकन सूप दे सकती हैं। ये प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाता हैं। 6)निंबु रस, दालचीनी पाउडर और शहद का मिश्रण तैयार करें। यह सर्दी और खांसी के लिए बहुत अच्छा होता है। 7)शहद और लहसुन मिलाकर पेस्ट बनाएं। दिन में एक या दो बार इसे दें अगर बच्चे को आराम न हो और सर्दी जुकाम के साथ अगर बच्चे को बुखार हो तो अपने मन से कोई मेडिसीन न दें डाक्टर से कंसल्ट करें।
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: मेरी बेटी 9 महिने की हे उसको बोहोत तेज बुखार हो राही हे क्या करु
उत्तर: हेलो आपके बेबी को फीवर है ऐसे में आप डॉक्टर को दिखाये फीवर आना वाइरल इन्फेक्शन भी हो सकता है और बेबी फीवर में बहुत वीक हो जाते है ..बच्चे को आराम करवायें बच्चा जितना आराम करेगा जल्दी रिकवर करेगा बच्चे को आप बार बार फीडिंग करवायें ताकि बच्चे को पूरा पोषण मिलें और बच्चे को पानी की कमी ना हो बच्चे को आप फीवर ज़्यादा होने पर गीले टावल से उसकी बॉडी को poche या ठण्डे पानी की pattiya भी रख सकती है ताकि बच्चे का tempurature कम हो बच्चे को कुछ ना कुछ खिलाते रहें खाना लाइट हो पका हुआ होना चाहिए आप बच्चे को दाल का पानी, चावल का पानी, दलिया, खिचड़ी ,केला खिलाय.खाली पेट मेडिसिन ना दे
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: बेबी को जुकाम हो गया हे चार दिन हो चूकें हें क्या करु नाक बह रही हे
उत्तर: बच्चे की सर्दी को ठीक करने के लिए आपको भी अपना ध्यान रखना होगा जब तक बच्चे की सर्दी ठीक नहीं हो जाती तब तक आप को उबला हुआ पानी ही पीना है तथा कोई भी ठंडी चीजें आपको नहीं खानी है क्योंकि आप जो कुछ भी खाते हैं उसका सीधा असर बच्चे पर होता है तीखा मिर्च मसाले वाला कुछ भी नहीं खाना है इस प्रकार का जो बच्चे को नुकसान करें इसके साथ-साथ कुछ घरेलू उपाय हैं जिन्हें आप अपना सकते हैं यह बहुत ही कारगर उपाय हैं एक कप सरसो के तेल में अजवाइन और लहसुन की दस कलियां लेकर उसे पकाए, थोड़ा ठंडा होने पर उससे बच्चे की मालिश करे। सरसों के तेल, लहसुन और अजवाइन में कीटाणु-रोधक और विषाणु-रोधक गुण होते हैं। यह आपके बच्चे को काफी मात्रा में आराम प्रदान करने में सहायता करता है।  सहजन की कोमल हरी पत्तियों को तोड़ें। एक मोटी पेनी वाली कढ़ाई में १/२ कप नारियल तेल गर्म करें और उसमें मुट्ठीभर सहजन की पत्तियां डालें। पत्ते सूख जाने के बाद, आप कढ़ाई को आंच से हटा सकती हैं। सर्दी, खांसी और कफ जमा होने पर इस तेल को अपने बच्चे के बालों के तेल के रूप में प्रयोग करें।  बच्चे को मौसम के अनुसार कपड़े पहनाएं।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरी बेबी 2 महीने 22 दिन की हो गयी हे | उसको सर्दी जुकाम हो गया हे , बहुत तेज खाँसी भी चल रही हे | क्या करूँ ?
उत्तर: हेलों आप की बेबी 2 महीने 22 दिन की है .आपका बेबी अभी बहुत छोटा है ऐसे में मेडिसिन आप बेबी को डॉक्टर की सलाह ले कर ही दे बच्चे को कफ है तो बेबी को nebulize मशीन से करवाये बच्चे को कफ से राहत मिलेगी बच्चों का इम्यून सिस्टम कमज़ोर होता है ऐसे में बच्चे को कपड़े ऐसे पहनाये कि गर्माहट बनी रहें कमरे को भी गरम रखने की कोशिश करे .आप उसे घी और कपूर का मिश्रण लगा सकते है। पहले घी ले और उसे हल्का गर्म करें, फिर उसमे कपूर के कुछ टुकड़े डाल दें और पिघलने दें। ठंडा हो जाने के बाद इसे आप उसकी छाती, पीठ और तलवे पर लगाएं। उसे आराम मिलेगा। आप उसे सरसों के तेल को गर्म कर उसमे अजवाइन और लहसुन डालें ,फिर जब वह ठंडा हो जाए तो उसे उसकी छाती और पीठ पर अच्छी तरह से लगाएं बच्चे को आराम करवाये बच्चे जितना आराम करेगा उतनी जल्दी रिकवर करेगा अगर आप ब्रेस्ट फीड माँ है तो खाने में सन्तुलित और हेल्थी चीज़ें खायें जिसके कारण बच्चे को न्यूट्रिशन मिल सकें और बच्चे को पानी की कमी ना हो lबच्चे को संक्रमण से बचाने के लिये अपना और बच्चे का हाथ साफ रखें बच्चे को फीड कराते समय पहले हैण्ड वाश करेl बच्चे को फीड कराते समय और सुलाते समय बच्चे का सर कुछ ऊपर रखें इसके लिए आप पतली तकिया का यूज़ कर सकती है ऐसे में बच्चे को साँस लेने में आसानी होगी आप अजवाइन भून ले उसे एक कपड़े में बाँध कर पोटली बना ले फिर उसे बच्चे के बच्चे के बैक चेस्ट तलवो पर सीकाई करे धयान रहें अजवाइन ज़्यादा गर्म नही होना चाहिए .बच्चे को कुछ देर सँवरे 8 से 10 बजे की धूप में ज़रूर ले जायें ताकि बच्चे को सूर्य के प्रकाश से विटामिन डी मिलें विटामिन डी बच्चे के सर्दी को कम करने और ग्रोथ में हेल्प फूल हैlधुप दिखाने के लिए बच्चे को सीधे धुप में न रखें।डायपर समय पर बदले प्रोबेल्म ज़्यादा हो तो डोक्टर से सलाह ले
»सभी उत्तरों को पढ़ें