गर्भावस्था की तैयारी

Question: मेरी बेबी के लिए कोई फॉर्म्यूला मिल्क बता दो मेरी बेटी अभी 2 महीने की है

1 Answers
सवाल
Answer: हेलो डियर अभी आपकी बेबी केवल 2 महीने की है तो आप अपने बेबी को फॉर्मूला मिल्क ना पिलाए क्योंकि 6 महीने तक बेबी के लिए केवल मां का दूध भी जरूरी होता है इसलिए आप अपने बेबी को केवल मां का दूध पिलाएं यदि आपको बहुत कम आ रहा है तो मैं आपको दूध बढ़ाने के कुछ घरेलू उपाय बताते हैं चावल ऑर थोड़ा शा सफ़ेद ज़ीरा दूध में डालकर खीर बनाए ऑर इसे रोज खाए ऐसा करने से दूध बढ़ेगा एक ग्लास दूध में सतवर का एक चमच चुरन मिला कर पीएं शाम के टाइम पेट भर दूध ऑर डलिया खाए इस्से दूध में कमी नही होती पपीता रोज खाए इसको रेग्युलर खाने से दूध अच्छा आता है
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: क्या फॉर्म्यूला मिल्क के कोई नुकसान है क्या नवजात शिशुओं के लिए सेव hai
उत्तर: हेलो सबसे पहले मैं यह कहना चाहूँगी कि बच्चों के लिए फार्मूला दूध या पाउडर दूध, एक तरह से माँ के दूध का ही दूसरा विकल्प है। कुछ माताएँ आपने शिशु को सिर्फ़ फ़ॉर्मूला दूध देना ही पसंद करती हैं, कुछ स्तनपान और कुछ माताएँ मिश्रित आहार देना पसंद करती है यानि कि माँ का दूध और फ़ॉर्मूला दूध दोनों ही। इस श्रृंखला  के माध्यम से मैं आपको फार्मूला दूध के बारे मे विस्तृत जानकारी देने का प्रयास करुँगी। इसमे कोई संदेह नही है कि माँ के दूध की फ़ॉर्मूला दूध से कोई तुलना की जा सकती। परंतु फिर भी कई बार ऐसे हालात बन जाते है जहाँ माता को फ़ॉर्मूला फीड पर निर्भर होना पड़ता है क्योंकि दूसरा कोई विकल्प उपलब्ध नहीं होता है। अगर इस फ़ैसले से बच्चे के स्वस्थ मे कोई दुष्प्रभाव नही पड़ रहा हो, तो इसको जारी रखने मे कोई समस्या नही। चलिए, फ़ॉर्मूला फीड पर वापिस आते है। यह मूल रूप से पाउडर के रूप मे गाय का दूध ही होता है जिसे इस तरह से बनाया जाता है कि यह शिशुओं के आहार के रूप मे एकदम सही हो। आज तक, कई ब्रांडों ने फार्मूला दूध दुनिया भर मे उपलब्ध कराया है। आपके बच्चे के बच्चे के शरीर के अनुरूप कौन सा फ़ॉर्मूला फीड सही बैठेगा, इसके लिए आपको विभिन्न फ़ॉर्मूला फीड प्रयोग करके देखने पड़ सकते हैं। हालांकि सभी फॉर्मूला फीड मे एक ही तरह की सामग्री का इस्तेमाल होता है, फिर भी आपका बाल रोग विशेषज्ञ ही आपके बच्चे के शारीरिक विकास के आधार पर आपके शिशु को एक सही फार्मूला की सलाह दे सकता है। उदाहरण के लिए, ज्यादातर दूध आधारित फार्मूले जैसे   जैसे सिमिलैक एडवांस 1 और 2, एनफामिल ए + आदि सभी गाय के दूध पर आधारित होते हैं और उन बच्चों को दिया जाता है जो जन्म के समय सामान्य वजन वाले, स्वस्थ, और पूर्ण अवधि के होते हैं। कुछ फार्मूला फीड सोया आधारित होते है जैसे सिमिलैक इसोमिल, जिसमे कोई दूध से युक्त सामग्री नहीं होती है और यह उन बच्चो को दिया जाता है जिनको दूध या लैक्टोज से किसी तरह की एलर्जी या दस्त की शिकायत है। सिमिलैक्स नेओशेओर फार्मूला फीड का एक अतिरिक्त उदाहरण है जो समय से पहले यानि कि 37वें सप्ताह से पहले पैदा हुए बच्चों के लिए बढ़िया विकल्प है। बाज़ार मे तो कई सारे फार्मूला फीड के विकल्प उपलब्ध हैं, परन्तु उनमे से किसी एक को भी चुनने से पहले किसी बाल रोग विशेषज्ञ से परामर्श जरूर कर ले।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरी बेटी अभी 7 महीने की है उससे खाने के लिए क्या क्या दूं
उत्तर: हेलों आपकी बच्ची 7 महीने की है आप बच्चे को केला दलिया दालें,वेजिटेबल सूप ,सूजी ,हलवा,मूंग दाल की खिचड़ी,रागी हलवा,पांच दालों की खिचड़ी,दलीयसब्जियों की खिचड़ी,सेवइयां,सूजी ,उपमा ,गाजर का हलवा,सब्जियों का puree,ऐपल pyuri khane में दे .आप ड्राइ फ्रूट्स पाउडर डाल कर khane को और हेल्थी बना सकती है बच्ची का खाना घी में बनाये .अगर आपका बच्चा ब्रेस्ट फीड करता है तो आप अपने khane में हेल्थी चीज़ें खायें ताकि आपके बच्चे को पूरा न्यूट्रिशन मिल सकें बच्चे को बार बार फीडिंग करवायें कि पानी की कमी ना हो बच्चे को इन डाइजेस्न होने पर केवल ब्रेस्ट फीड या फ़ोर्मुला मिल्क ही pilaye .
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: क्या 2 महीने के बेबी को फुल क्रीम मिल्क दि सकते या फिर टोंड मिल्क सही रहता है ? प्रीमैच्योर बेबी है मेरा या फॉर्म्यूला मिल्क हो दू अभी ?
उत्तर: हेलो डियर बिल्कुल भी नहीं बचे को फुल क्रीम दूध 2 साल के ऊपर के बच्चों को दिया जाता है 2 साल से छोटे बच्चों को tone दूध दे सकते हैं पर अभी आपका बच्चा 2 महीने का है 2 महीने के बच्चे को उस सिर्फ और सिर्फ मां का दूध देना चाहिए यदि मां का दूध पूरा नहीं हो पा रहा है या कुछ कारण है कि जिस वजह से अब दूर नहीं मिला पा रहे हैं अपना तो इस केस में आप बच्चे को फार्मूला तो दे सकते हैं इसके अलावा छह महीने से पहले बच्चे को फुल क्रीम दूध या कोई भी बाहर का दूध बिल्कुल भी नहीं दे बच्चे की किडनी पर असर पड़ता है.
»सभी उत्तरों को पढ़ें