9 महीने का बच्चा

Question: मेरी बेबी की स्किन पहले से और ज़्यादा डार्क हॉटी जा रही है क्या करु में की मेरी बेबी की स्किन पहले जेसी गोरी हो जायें

1 Answers
सवाल
Answer: हेलो डियर अभी आपका बेबी 9मंथ का है और 9 मंथ के बेबी के कलर को फेयर करने का ऐसा कोई भी तरीका नहीं है जिससे बेबी को गोरा बनाया जा सके क्योंकि बेबी का कलर उसके माता पिता के जींस पर आधारित होता है उसके मां-बाप का जैसा रंग होता है बच्चे का भी कलर उनमें से किसी एक पर जाता है । कभी-कभी अनुवांशिक कारणों से भी बच्चे का कलर घर के किसी सदस्य पर चला जाता है आप बेबी के कलर को फेयर करने के लिए उसकी स्किन पर कोई भी चीज ना लगाएं क्योंकि छोटे बेबी की स्किन बहुत सेंसिटिव होती है और आपके द्वारा किया गए किसी भी घरेलू उपाय से बेबी की स्किन को नुकसान पहुंच सकता है।
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: हेलो मेडम क्या गन्ने का ज्यूस ऑर मॅंगो ज्यूस पी सकते है ,,ऑर स्किन पे बहुत पीम्पल हो रहें है ,,,स्किन भि बहुत डार्क हो गायी है क्या करु की मेरी स्किन पहले जैसे नॉर्मल हो जायें
उत्तर: हेलो डियर आप प्रेगनेंसी में सब कुछ खा सकती है अगर आपको शुगर का प्रॉब्लम नहीं है तो आप गन्ने का जूस पी सकते हैं मैंगो जूस पी सकते है इससे आपको बेबी को कोई खतरा नहीं होगा और आप अपनी स्कीम के बारे में पूछ रही है तो उसके लिए आपको दिन में 10 या 12 गिलास पानी पीना चाहिए इससे आपका चेहरा साफ हो जाएगा और ज्यादा पिंपल भी नहीं आएंगे .. प्रेगनेंसी में हार्मोन चेंजिंग की वजह से अक्सर पिंपल आते रहते हैं . अपना ख्याल रखना .
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरी बेटी जब पेदह हुई थी तो बहुत गोरी थी टू इयर्स तक काफी फेअर थी पर अब वो स्कूल जाती है ऑर रंग भी डार्क होते जा रहा है में ऐसा क्या करु जीस्से वो पहले जेसी हो जायें
उत्तर: नवजात शिशु जन्म के समय अक्सर गोरे लगते हैं, और कभी-कभी त्वचा में गुलाबी रंगत भी होती है। यह गुलाबी रंगत लाल रक्त वाहिकाओं से मिलती है, जो कि शिशुओं की पतली त्वचा में से दिखाई देती हैं। अधिकांश माता-पिता इसे बच्चे की त्वचा का वास्तविक रंग मान लेते हैं। मगर नवजात की त्वचा का रंग थोड़ा गहरा होने लगता है, क्योंकि त्वचा को रंग देने वाला प्राकृतिक रंजक (पिग्मेंट)-मेलानिन- का उत्पादन शुरु हो जाता है। इसलिए शुरुआत में शिशु की रंगत में बदलाव आना सामान्य है। फिर भि आप कुछ घरेलु नुस्खे ट्राइ कर सकती है . चंदन, हल्दी, केसर और दूध का पेस्ट बनाएं और इसे अपने बच्चे के शरीर पर लगाएं। इसे 10 मिनट तक सूखने के लिए छोड़ दें। उसके बाद गुनगुने पानी से बच्चे को नेहला के साफ करे बच्चे के रंग को बरकरार रखेगा साथ ही सूखेपन को भी दूर करे साबुन के इस्तेमाल की बजाये बच्चे को दूध और गुलाब जल से साफ करें। इसके आलावा आप ग्लिसरीन और क्रीम से बने baby वाश का भी इस्तेमाल कर सकते है।  
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मम मेरी स्किन डार्क ह तो क्या मीयर बेबी की भि स्किन डार्क होगी क्या? ऑर क्या खाने से बेबी की स्किन गोरी हो सकती ह
उत्तर: देखें स्किन का गोरा या डार्क में रहना यह सब कुछ भगवान का दिया हुआ समझना है ... फिर भी आपको केसर का दूध ज्यादा पीने से बेबी का कलर में फर्क आ सकता है ... यानी के केसर का दूध में पीने की वजह से बेबी का रंग गोरा हो सकता है .. और आप ज्यादा फल और उसके रस पीते रहे इसकी वजह से भी आपका बेबी का रंग गोरा हो सकता है पौष्टिक आहार अन ज्यादा लेते रहे ड्राई फ्रूट्स ज्यादा खाते रहे इन सब की वजह से बेबी कब हेल्थी ग्रोथ होता है ... अगर आपके पति का रंग गोरा रहने की वजह से आपका बेटे का या बेटी का रंग भी गोरा हो जाएगा आप टेंशन ना ले रंग से आपको कुछ भी परेशानी ना होनी चाहिए आप केसर का दूध ज्यादा पीते रहे
»सभी उत्तरों को पढ़ें