9 महीने का बच्चा

Question: मेरी बेबी का वजन नही बढ़ाता तो मुजे कुछ अच्छा उपाय बताये

1 Answers
सवाल
Answer: हलों आप टेंशन ना ले , मैं आपकी प्रॉब्लम समज सकती हूँ, मै आपको कुछ टिप्स दें रही हूँ जीस्से बेबी का वेट बड़ जेएगा आप बेबी को खाने में बहुत तरह की चीज दे सकती है जैसे :- सूबह नाश्ते में दूध के साथ बादाम का पेस्ट डालकर बेबी को पीला सकती है । उसके बाद आप बेबी को डोसा , खिचड़ी, दाल का पानी , बॉयल्ड एप्पल , मैश्ड बनाना , फ्रेश जूस , दे सकती हैं । दोपहर के खाने में - दाल चवाल, दलिया, खिचड़ी दे सकती है । शाम में बेबी को मिल्क या कोई फल.. रात में आप बेबी को का सूजी खीर , या oats de सकती हैं और सोते टाइम दूध । आप बेबी का सारा खाना देसी घी में ही बनाये..
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: मेरी 35 वीक की प्रेगनेन्सी है, 2 दिन पहले अल्ट्रासाउण्ड कराया था तो पता चला कि बेबी अपनी lmp उम्र से 10 दिन बड़ा है । बेबी का वजन 2900 ग्राम है । मुझे डायबटीज की परेशानी नहीं और वजन भी नार्मल है लेकिन थायराइड की परेशानी थी और शुरू से उसकी दवा चल रही और हर महीने चेक भी करवाती हूँ तो वह भी ज्यादा नहीं है। मुझे ये जानना था कि मेरे बेबी का वजन और शरीर पहले ही क्यूँ बढ़ रहे है । क्या यह बाद में किसी परेशानी वजह तो नहीं बनेगा और मेरी डिलिवरी नार्मल हो जायेगी? प्लीज जवाब जरूर दीजिएगा।
उत्तर: अगर बच्चे का वजन 4 किलो से ज़्यादा हो गया डिलीवरी तक तो नार्मल नहीं हो पाएगी । पर ऐसा होने के चांस कम है। आपकी डिलीवरी हो भी जल्दी जाएगी क्यूंकि बच्चे की growth आगे है। इसमें डरने वाली कोई बात नही है, आपका बच्चा बिल्कुल नार्मल और ठीक है और रहेगा ।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरी बेबी 9 महिने की है उसका वजन भी बहुत कम है वजन बढ़ने के कुछ उपाय है तो बताइये .
उत्तर: आठ महीने के बच्चों का आहार चार्ट हैं : अंडे का पीला भाग चिकन चीज़ दही टोफू फूल गोभी ब्रोकली कीवी मछली ब्रेड स्टिक्स जब भी बच्चे को कोई नया स्वाद या आहार दें तो हमेशा तीन दिन वाले नियम का ध्यान रखें । जहां तक संभव हो, बच्चे को फास्ट फूड और अधिक नमक-चीनी वाला आहार खाने को न दें। बच्चे के खाने के समय को घड़ी के कांटे से न तोलें, बल्कि बच्चे की भूख के इशारों को समझें, जब उन्हें भूख लगे तभी उन्हें खाने के लिए दें। इसके साथ स्तनपान भी जारी रखें। बच्चे को खाने के लिए जब किसी चीज का टुकड़ा दें तो वह बिलकुल ही छोटा न हो, क्यूंकी ऐसे टुकड़े को बच्चा अपने दांते से काटने के लिए पकड़ नहीं सकता। इसलिए जब भी उसके लिए कोई खाने की चीज को काटें तो उसका आकार और साइज़ ऐसा हो जिसे बच्चा हाथ से पकड़ कर आसानी से अपने मुँह में ले सके। बच्चे को खाना खिलाते समय धैर्य से काम लें। हो सकता है की आप अपना समय बचाने के लिए सारा भोजन जल्दी-जल्दी उसके मुँह में देना ठीक नहीं है । अगर बच्चे ने किसी खाने को मना कर दिया है तो कुछ समय बाद फिर से उसे देने का प्रयास करें । जब आपका बच्चा खाना खा रहा हो तो उसके आस-पास ही रहें, ऐसा न हो खाते समय उसके गले में कुछ फंस जाएँ । 9महीने के बच्चे के खाने का बच्चे को भोजन निम्न समय के आधार पर दिया जा सकता है ; सुबह का नाश्ता                –     सुबह 9 बजे सुबह का छोटा नाश्ता       –    11 बजे दोपहर का खाना              –    1 बजे दोपहर बाद का नाश्ता      –    4 बजे रात का खाना                   –     7 से 9 बजे रात को यदि बच्चे को भूख लगे तो इस समय के बीच में भी स्तनपान करवा सकतीं हैं। क्यूंकी इससे बच्चे को मुख्य रूप से शक्ति और पोषण मिलता है।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरी बेबी कुछ खाती नही कोई उपाय बताये बताये महीने की पूरी हो चुकी है .
उत्तर: फल – केला, सेब, नाशपाती, आम, आड़ू, आलूबुखारा, खजुर, एवोकैडो, और पपीता। कोई खट्टे फल नहीं। सब्जियां – शकरकंद, गाजर, हरे बींस, चुकंदर, कद्दू, मटर, तुरई, पालक, राजमा। अनाज, साबुत अनाज – चावल, रागी, सूजी या रवा, जौ, साबूदाना, बाजरा, ज्वार, गेंहू और जई। दाल  – मूंग दाल, साबुत मूंग दाल दुग्ध उत्पाद – मक्खन, घी और सादा दही (दूध नहीं) बच्चे को खाना खाने के बाद उससे 2 घंटे बाद ही कुछ खाने के लिए दे। बच्चे को उसकी पसंद का खाना बना कर दें और खाने के लिए प्रोत्साहित करें । बच्चे को छाछ में थोड़ा सा काला नमक और थोड़ी सी काली मिर्च डालकर पीने को दें इससे भी बच्चे की भूख खुलेगी । बच्चों को परिवार के साथ बैठकर खाना खिलाएं जब सब लोगों को खाता हुआ देखेगा तो बच्चा भी खाने लगेगा।
»सभी उत्तरों को पढ़ें