2 साल का बच्चा

Question: मेरी बेटी 2 saal ki hai baht उलटी करती है कुछ भी खिलाओ उलटी कर देती हैं खाना पिस के खाती है इसे नि खाती

1 Answers
सवाल
Answer: छोटे बच्चों को उल्टी की समस्या हमेशा होती ही रहती है क्योंकि उनके खानपान की आदतों का पता नहीं होता जो कभी भी अपने मुंह में कुछ भी डाल देते हैं जिसकी वजह से अपच की समस्या होने लगती है छोटे बच्चे की डाइजेस्टिव सिस्टम कमजोर होने की वजह से भी उनको उन उल्टी होने लगती है लेकिन बच्चे के हो रहे हो उल्टी को हमें नजरअंदाज नहीं करनी चाहिए क्योंकि इससे शरीर का पूरा पानी निकल जाता है आज फिर पानी की कमी हो जाती है बच्चा अगर खाना नहीं खा रहा है तो इसका मतलब है उसके पेट में कोई परेशानी होगी कई बार पेट में अपच होने की वजह से बच्चे खाना नहीं खाते सिर्फ उल्टियां करते हैं अगर बच्चे खाना नहीं खा रहे हैं और उल्टी कर रहे हैं तो आप कुछ घरेलू उपाय अपना सकती हैं जैसे बच्चे को गर्मी लग जाने की वजह से भी उलटी होते हैं ऐसे में आप बच्चों को पानी में नमक नींबू का रस मिलाकर दो तीन बार पिला सकते हैं इससे ज्यादा नहीं देना छोटे बच्चे को अदरक खाना पसंद नहीं होता इसलिए आपको नहीं अदरक की चाय बनाकर दे सकते हैं इससे उनकी पाचन क्रिया ठीक होगी और उल्टी भी ठीक होगा अगर बच्चे को उल्टी हो तो अनार का रस और नींबू का रस मिलाकर और उसमें थोड़ी बहुत शहद मिलाकर दे सकते हैं जिससे उनका पाचन क्रिया ठीक होगा बच्चों को कभी-कभी गैस की समस्या होने के कारण भी उल्टी होता है और खाने का मन नहीं होता तो ऐसे में आप उबले हुए चावल का पानी पिला सकती हैं 2 से 3 चम्मच इलायची के बीज ka चूर्ण बना लें और उसमें दो 3 ग्राम शहद मिलाकर बच्चे को खिलाएं आप धनिया साबुत जीरा इलायची और पुदीना सभी को समान मात्रा में लेकर पानी में भिगो दें इसके बाद जब वह पूरी तरह से ful जाए तो उसे उसी पानी में मसले aur chhane इस पानी को तीन से चार बार पिलाएं
  • avatar
    Geeta Sharma432 days ago

    थैंक्स मे ज़रूर कर के देखुंगी

समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: मेरी बेटी कुछ नही खाती जो खिलाओ उलटी कर देती है 13 month ki hai sirf dud peeti hai
उत्तर: 6 महीने बाद बच्चे को दूध के साथ साथ ठोस आहार की भी आवश्यकता होती है आप ही बचे 13 महीने की हो गई है अतः आपसे आप ठोस आहार देना शुरू करें इस अवस्था में बच्चे खाना नहीं खाते हैं अतः आप उसे बहला-फुसलाकर अनसुना कर या किसी अन्य बहाने से ठोस आहार देना शुरु कीजिए आप अपने बच्चे को इस प्रकार से भोजन करा सकते हैं.. सबसे पहले सुबह उठकर उसे मां का दूध पिलाएं । फिर नाश्ते में उसे बेसन का चीला पोहा उपमा,ragi dosa , उबला हुआ आलू इत्यादि दे सकते हैं । 2 घंटे बाद आप बच्चे को फल खाने के लिए दीजिए जैसे तरबूज खरबूजा चीकू केला खीरा अंगूर,boil apple इत्यादि। फिर दोपहर के खाने में उसे दाल -चावल ,दाल-रोटी, कर्ड-राइस ,पतली-खिचड़ी। फिर 2 घंटे बाद उसे कुछ स्नैक्स दें जैसे बिस्किट,चीज ,हलवा। इसके 1 घंटे बाद आप उसे दूध अवश्य पिलाएं। रात के खाने में दूध रोटी सब्जियों के सूप दाल खिचड़ी इत्यादि खिला सकते हैं। बच्चे को हर रोज बदल-बदल कर खाना खिलाएं।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरी बेटी कुछ खाती नही है थोड़ा खाती है तो उलटी कर देती है
उत्तर: आप अपनी बेटी को जो भी खाना खिलाए हेल्दी और टेस्टी बनाकर खिलाएं इसके अलावा उसे लिक्विड रूप में अभी खाना दीजिए क्योंकि कई बार बच्चों को जब भी सेमी लिक्विड फूड देते हैं और वह मुंह से अगर नहीं जवा पाते तो उनके गले में फंस जाता है जिससे वह उल्टी कर देते हैंl
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: माम मेरी बेटी कुछ नहीं खाती अगर थोड़ा खिलाती हूँ तो उल्टी कर देती है 1 साल की है
उत्तर: हाय डिअर आप का बच्चा सुबह से वह मीटिंग कर रह ा है हो सकता है कि कुछ उस को बैक्टीरियल इश्यूज हो यदि आपका बच्चा बोतल से दूध पीता है तो आप उसको सबसे पहले बोतल से दूध ना दें ं ं ं उसको आप स्टील के बर्तन में या कटोरी चम्मच से आप उस को दूध पिलाने की कोशिश करें क्योंकि बोतल को आप बार -बार बॉईल करके बच्चे को नही ं पिला सकते उसमें कहीं ना कहीं कीटाणु रह जाते हैं जो बच्चे की सेहत के लिए अच्छा नहीं रहते ! और यदि आपका बच्चा बहुत ज्यादा उल्टी कर रहे हैं तो उसको ओआरएस का घोल पिला दे और जितना हो सके अपने बच्चे को पानी की कमी ना होने दें शरीर में उसको आप हर थोड़ी थोड़ी देर में आप उसको कुछ खाने को दीजिए एक साथ नहीं देना है बहुत थोड़ी थोड़ी क्वांटिटी में उसको खाने के लिए आप दे दीजिए और हो सके तो अपने बच्चे को दही छाछ दे सकते हैं जिससे आपके बच्चे के पेट में ठंडक रहे और बच्चों के हाथ ों को साफ रख ें बच्चों के जो टॉयज हैं खिलौने हैं आप उनको भी साफ रखिए और जितना साफ आप अपने आसपास रख तक रख सकते हैं अपने आसपास का एरिया भी साफ रखें क्योंकि अक्सर जहां बच्चे खेलते हैं यदि वहां साफ सफाई नहीं होगी तो वही बच्चे अपना मुंह में हाथ डालेंगे और उनको इनफेक्शन होगा जिसके कारण बच्चों को डाई इनडाइजेशन की प्रॉब्लम हो जाती है तो बेहतर यह है कि आप अपने आसपास सफाई भी रखें और बच्चे का भी ध्यान रखें कि वह कहीं गंदे हाथों से ही कुछ ना खाएं और बच्चे को सैनिटाइज करते रहे यदि आपको लगता है कि आपका बच्चा बहुत ज्यादा ही परेशान है या वह ठीक नहीं हो पा रहा है तो आप इस डॉक्टर से संपर्क जरूर करें !
»सभी उत्तरों को पढ़ें