2 साल का बच्चा

Question: मेरी बेटी 2 साल की है , मेरी बातों को बिलकुल भी नही मानती है , हेल्प मि ..

2 Answers
सवाल
Answer: हेलो डियर बच्चे की अच्छी और खराब परवरिश के लिये सबसे ज़्यादा पॅरेंट्स ही जिम्मेदार होते है आपका बेबी आपका बात नही मानता है तो ऐसा बेबी चिड़चिड़ा भी हो सकता है आप अपने बेबी को इस तरह से डील कर सकती है ऐसे में आपको अपने घर का माहौल शांत और अच्छा बनाने की कोशिश करे , अपने बच्चे के सामने कभी भी झड़ना नही चाहिए या आप अपने बच्चे के सामने परिवार के किसी भी सदस्य से उची आवाज में बात नही करनी चाहिए इससे आपके बेबी पर भी असर पड़ सकता है आप अपने बच्चे की तुलना और बच्चो से ना करे नही तो आपका बच्चा चिड़चिड़ा हो जाएगा ,अपने बच्चे को आप पूरा समय दे , अपने बच्चे को प्यार दुलार करे , आप अपने बच्चे के इंटरेस्ट का भी ख्याल रखे कि आपके बेबी को क्या पसंद है क्या नही पसन्द है उसका भी ख्याल करे ऐसा करने से आपका बेबी आपकी बात मानेगा
Answer: बच्चो का मन बहुत कोमल होता है। वे स्वभाव से ज़िद्दी नहीं होते बल्कि माता पिता का व्यवहार या माहौल उन्हें ज़िद्दी बना देता है। उन्हें सुधारने के लिए सबसे पहले आपको धेर्य रखने की जरूरत है । उसे डांट कर या मार कर समझाने की कोशिश ना करें। इससे वह अधिक उग्र हो सकता है। ३.बच्चे के जिद अथवा क्रोधित होने पर आप शांत रहें।उसको समझाए की प्यार से बोलने पर ही आपकी बात मानी जायेगी।फिर भी ना माने तो उसको नजरअंदाज करें और थोड़ी देर उससे बात ना करें पर उसकी गतिविधियों पर नजर भी रखे।वह अपने आप शांत हो जाएगा। ४.माता या पिता में से कोई भी जब उसे डांटे तो दूसरा उसको सपोर्ट ना करे। ५. बड़ों के व्यवहार से बच्चे अधिक पर्वभित होते है।इसलिए उनके सामने हमेशा व्यवहरिक संतुलन बनाए रखें।और उनसे अपना व्यवहार दोस्ताना रखें।
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: मेरी बेटी 2 साल 8 महिने की है वो बिलकुल भी खाना नही खाती कुछ उपाय बतयीये
उत्तर: हेलों आप बच्चे को डॉक्टर से सलाह कर के ज़िन्क सप्लीमेंट्स,और बी काम्पलेक्स सप्लीमेंट्स ले कर दे .. जिंक बच्चे के विकास में मदद करता है और बी काम्पलेक्स से बेबी का पाचन सही होगा और बच्चे की भूख बढ़ेगी .2 साल 8 महीने तक के होते-होते बच्चे लगभग सब कुछ खाने लगते हैं।आप जो भी खाती हैं, आप का बच्चा वो सब खा पि सकता है। स्वधानी बरतनी है सिर्फ इतनी,की आप का बच्चा जो खाये उसमे मसाला, नमक और चीनी कम यूज़ हो आपके बच्चे का खाना ऐसा होना चाहिए कि 3 बार खाना खायें और 2 बार स्नैक्स खायें साथ ही साथ बच्चे को मिल्क ज्यूस छाछ पीने को दे सकती hai,बच्चे को बैलेंस डाइट की आवश्यकता होती है, जिसमें उसे विटामिन, मिनरल, कार्बोहाइड्रेट्स और वसा मिलना चाहिये.lहर बच्चे की nutritional requirement अलग होती है। इसीलिए अपने बच्चे को khana खिलते वक्त ध्यान रखें की कौन सा khana आप का बच्चा interest से खा रहा है आप का बच्चा जितना ज्यादा खाये उतना खिलाये। अगर आपका बच्चा ज्यादा न खाना मांगे तो जबरदस्ती न खिलाएं।  आप बच्चे को दाल चावल रोटी सब्जी इडली डोसा उपमा एग सूजी की खीर आलु का पराठा सैन्ड्विच वेजिटेबल सूप खिचड़ी ओट्स ,कट लेट फ्रूट्स स्मूदि केला ऐपल पपीता चीकू शेक सब खिला सकती है खाना बच्चे का सही पका हुआ होना चाहिए आप काजू और बादाम इन्हें बच्चे के खाने में यूज़ kar k khane को और हेल्थी बना सकती है आप खुद भी पौष्टिक आहार ग्रहण करिए, क्योँकि बच्चे माँ-बाप को देख कर बहुत तेज़ी से सीखते हैं। आप अपने बच्चे को खान-पान के साथ-साथ उसके फिजिकल एक्टिविटी पर भी ध्यान दें बच्चे को आप एक्टिव बनाये वाक करवाये ..दौड़ लगवाये .बच्चे को सुबह की गुनगुनी धुप में बच्चे को हलकी एक्सर्साइज करवाये
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरी बेटी 2 साल की हो गयी है मम्मी, पापा ,पानी के अलावा कुछ नही बोलती ... प्लीज़ हेल्प मि
उत्तर: हेलो डियर, बच्चे डेढ़ साल से कुछ ना कुछ वर्ड बोलना स्टार्ट कर dete है जैसे जैसे wo grow hote है वैसे-वैसे वह बड़े-बड़े वर्ड्स बोलना स्टार्ट कर देते हैं कुछ बच्चे सेंटेंस भी बोलना स्टार्ट कर देते हैं इसलिए स्टार्टिंग में वह sentances को बोलने में अटकने lagte हैं इसलिए यह parents की जिम्मेदारी है कि वह अपने बच्चों की बातों को सुने वह क्या बोल रहा है उसको समझाने की कोशिश करें उसे समझने की कोशिश करें वह अगर कुछ रॉन्ग बोल रहा है कहीं अटक रहा है तो उसे समझाएं की नहीं ऐसे नहीं ऐसे ऐसे बोलते हैं, बच्चों को हर छोटी से छोटी चीज दिखाएं और उससे बताएं यह क्या है हर चीज प्रैक्टिकल करके दिखाएं छोटे छोटे वर्ड्स उसे सिखाएं ,बच्चे के साथ खूब बातें करें, उसे नाइट में स्टोरीज सुनाएं उसके प्रोनॉन्सिएशन पर ध्यान दें kuch टाइम बच्चे के साथ ऐसे करेंगे तो बच्चा धीमे-धीमे बोलना स्टार्ट कर देगाl
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरी बेटी 23 अपे्ल को एक साल की हो गयी है अ भी चलती नही है
उत्तर: हेलो डियर आप परेशान ना हो ।बहुत से बच्चे देर में चलना शुरू करते हैं आप बच्चे को हाथ का सहारा देकर चलना सिखाए ।उसे वाकर के सहारे चलना सिखाए। उसके पैरों की रोज मालिश करें। नियमित रूप रूप से उसे ठोस आहार खिलाएं और अपना दूध पिलाएं ।जब आप बच्चे को थोड़ा थोड़ा रोज चलाएंगे तो बच्चा अपने आप ही चलने लगेगा।
»सभी उत्तरों को पढ़ें