2 महीने का बच्चा

Question: मेरी बेटी 2 महीने की हो गायी हे और इसकी मालिश के लिये फ़िगारो तेल यूज़ करने से ये काली पड़ती जा राही हें क्या करु

0 Answers
सवाल
अभी तक इस सवाल का कोई जवाब नहीं है
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: मेरी बेटी 7 महीने की हो गायी है यूज़ आहार माई क्या 2 देन चहये
उत्तर: बच्चें को मां के दूध के साथ-साथ फ्रूट जूस जैसे- संतरा, मौसमी, कीनू व सेब का जूस इत्यादि दिया जा सकता है। लेकिन ध्यान रखें कि जूस घर पर ही निकाला हुआ हो, बाजार का न हो। चावल, सूजी की खीर व दलिया को दूध में पका कर खिला सकती है। लौकी, गाजर, आलू जो उसे पसंद आए, उस का सूप बना कर दें। इन सब्जियों को मूंग की दाल की खिचड़ी में भी मिला कर दे सकती हैं। चावल और मूंग की दाल मिला कर प्लेन खिचड़ी दे सकती हैं। ग्लूकोज बिस्कुट और दूध मिलाकर दें। इडली, सांभर भी दिया जा सकता है। इन सब ठोस आहार के साथ पानी हमेशा उबाल कर ठंडा कर के ही दें और कम से कम डेढ़, 2 साल तक बच्चे को ब्रैस्ट फीडिंग कराएं।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरी बेटी 2 साल 3 महीने की है वो अभी भि बॉटल से दूध पीटी है इसकी आदत हटाने के लिये क्या करु
उत्तर: हेलो बच्चे की बोतल की आदत है तो इतनी जल्दी नहीं छूटेगी आप पहले बच्चे में धीरे-धीरे सॉलि़ड फूड खाने की आदत डालिए। और बोतल से दूध देना कम करिए। सॉलि़ड फूड से बच्चे का पेट भरेगा तो बोतल से दूध पीना अपने आप कम करने लगेगा। बोतल से दूध पिलाने में यह परेशानी आती ही है कई बार बच्चे स्कूल जाने तक बोतल से दूध पीते हैं और स्कूल जाने के बाद उनकी यह आदत छुटती है।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरी बेटी 2 साल की हे उसके सिर पर दन्दरफ़ हो गया हे उसे कम करने के लिये क्या करु मैडम
उत्तर: हेलो डियर आप बिल्कुल भी परेशान ना हो अक्सर छोटे बच्चों के सिर पर डैंड्रफ हो जाते हैं क्योंकि छोटे बच्चों का स्कीन बहुत ही सेंसेटिव होता है इसलिए आपको रोज बच्चे के सर पर नारियल तेल से मालिश करनी चाहिए और बच्चे के लिए माइल्ड शैंपू का उपयोग करना चाहिए जिससे बच्चे की स्किन को कोई प्रॉब्लम ना हो और ड्राइनेस कम हो।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: हेलो डॉक्टर! मुझे बहुत स्ट्रेस हो रहा है और ऐसा लग रहा है जैसे मैं डिप्रेशन की शिकार हूँ। मेरे पास मेरी २ महीने की बेटी है और मेरी या मेरी बच्ची की देखभाल करने वाला कोई नहीं है। मेरी बेटी जब सोती है तो बस मेरी ही गोद में होती है और जब मैं उसे बिस्तर पर लिटाने की कोशिश करती हूँ तो वह फिर से जग जाती है और रोने लगती है। प्लीज़ मुझे बताएं मैं क्या करूँ? मुझे अपने लिए समय निकालना तो दूर की बात है, मैं बाथरूम तक नहीं जा पाती हूँ। प्लीज़ मुझे कुछ उपाय बताएं।
उत्तर: Hello dear! पोस्टपार्टम डिप्रेशन बहुत ही आम है, और डिलीवरी के बाद अधिकांशतः महिलाएं इससे ग्रषित होती है। आपको हिम्मत से काम लेना होगा। याद रखिये की आप बहुत स्ट्रांग है, और यह बस एक फेज(phase) है जो जल्द ही चला जाएगा। आप अपने बच्चे की अच्छी तरह से मालिश कीजिये, उसे भी बहुत अच्छा लगेगा, उसके बाद आप उसे पानी से अच्छे से नहला कर, दूध पिलाते पिलाते सुलाने की कोशिश करिये, कुछ ही दिनों में वह इस रूटीन को समझ लेगी और सोने लगेगी। आप अपने पति से इस बारे में बात करिये, चुपचाप रहने से कुछ भी ठीक नहीं होगा। बच्चे की जिम्मेदारी पूरे परिवार की होती है, न ही सिर्फ माँ की। आप अपने खान-पान का ध्यान रखिये। थोड़ा बहुत ध्यान लगाने की कोशिश भी करें। कुछ चीज़ो के लिए आप कोई हेल्प भी रख सकती है घर में जो आपका काम में हाथ बटा सके। बच्चे के साथ खेलिए उसका ध्यान कुछ चीज़ो की तरफ आकर्षित करें। कुछ खिलौनो को देख कर बच्चे बहुत ही उत्साहित हो जाते है, वह भी आप खरीद कर ला सकती है। अपने आस-पड़ोस की महिलाओं से बाते करके उन्हें भी आप शाम को अपने घर बुला सकती है। उदास और हताश रहने से कुछ नहीं होगा , उससे बस सिर्फ और सिर्फ निराशा ही हाथ लगेगी। याद रखिए आप अपनी मदद खुद करेगी तो ही लोग भी आपको सपोर्ट करेंगे। यह समय बहुत ही सुहाना है आपके बच्चे और आपके लिए, फिर कभी लौट कर नहीं आएगा। इसका आनंद उठाइये और अपना ध्यान रखिये।
»सभी उत्तरों को पढ़ें