2 महीने का बच्चा

Question: मेरी बेटी 2 महीने की है और वो formula milk leti है पर हर फीड के बाद वो पती कर डटी है क्या ये normal है या कुछ problem hai

2 Answers
सवाल
Answer: हेलो डियर, आपका बच्चा भी 2 महीने का है इसीलिए बच्चे को कहा जाता है मां का दूध दिया जाए क्योंकि बच्चा मां का दूध easily डाइजेस्ट कर लेता है फार्मूला milk easily डाइजेस्ट नहीं कर पाता है l अगर आप अपने बच्चे को फार्मूला मिल्क दे रही है तो आप एक हफ्ते का टाइम दीजिए क्योंकि वह बच्चे के लिए नया होता है वह दूध पीते अभी पॉटी कर देगा 1 से 2 हफ्ते बाद जब उसका शरीर उस दोस्त को डाइजेस्ट करने लगेगा तो उसे इस तरह की प्रॉब्लम नहीं होगी पर आप कोशिश करिए आप बच्चे को अपना दूध पिलाने की बहुत ज्यादा मजबूरी हो तभी उसे फॉर्मूला मिल्क देl
Answer: sahi likhe kuch samjh nhi aa rhs
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: मेरी बेटी एक साल 9 महीने की है पर वो सॉलिड फ़ूड नही खाती ! सब मसल कर देन पडता है वरन वो उलटी कर डटी है
उत्तर: हेलो डियर, अभी आपकी बेटी 9 महीने की है आपकी बेटी अभी लिक्विड फूड ही खाती है तो आप बिल्कुल टेंशन मत लीजिए उसे अभी सॉलि़ड फूड नहीं उसे सेमी सॉलि़ड फोन देना पहले स्टार्ट करिए जब वह सेमी सॉलि़ड फूड खाने लगे तब उसे सॉलिड food आप दीजिए अगर आप स्टार्टिंग me सॉलि़ड फूड denge vomit कर देगीl जैसे फ्रूट्स की ग्रेवी वेजिटेबल सूप दाल का पानी चावल का पानी यह सब अभी दीजिए दूध रोटी अच्छे से मैश करके दीजिएlजब बच्चा 1 साल का हो जाए तब आप उससे बाइट्स में देना स्टार्ट करेंl
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरी बेटी दिन की है ..वो हर फीड के बाद पोटी कarti है वो bhi पतला ....क्या ये नॉर्मल है ?
उत्तर: हेलो डियर बच्चे 40 दिन तक ऐसा करते हैं इसमें कोई घबराने वाली बात नहीं है क्योंकि उनकी पेट की गंदगी निकल रही होती है
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरी बेटी 15 महीने की है वो कुछ भी नही खाती है दूध भी ऊपर का पीटी है .कुछ भि खिलाने पर उलटी कर डटी है.है..
उत्तर: हेलो बच्चे जब शुरुआत में दूध के बाद कुछ सॉलिड चीजें लेना शुरू करते हैं तो एकदम से उन्हें एक्सेप्ट नहीं कर पाते और खाना नहीं चाहते या तो उन्हें उनका स्वाद अच्छा नहीं लगता या उनकी थिकनेस के कारण वह नहीं खाना चाहते क्योंकि उन्हें खाना गटकने की आदत नहीं होती और बच्चे उसे ठीक से पचा नहीँ पाते। और उन्हें दस्त की प्रॉब्लम होती है इसलिए बच्चों को लिक्विड के बाद डायरेक्ट सॉलि़ड ना देकर सेमी सॉलि़ड फूड देना चाहिए। सेमी सॉलि़ड फूड में सेरेलक दाल और चावल की मिक्स पतली खिचड़ी दलिया की खिचड़ी या दलिया का खीर चावल का खीर फलों की स्मूदीज या फ्रूट शेक देना शुरू करें बच्चा जब यह सब चीजें खाने लगे तो एक या दो माह बाद उसे यही सब चीजें थोड़ा गाढ़ा करके दे। और साथ में दाल चावल मसलकर और दूध रोटी मसल का या दाल रोटी मसलकर खिलाएं और जब बच्चा ऐसे भी खाने लगे तो उसके 2 महीने बाद फिर नॉर्मल खाना बच्चे को खिलाना शुरू करें स्टेप बाई स्टेप बच्चों के आहार को गाढ़ा करने से बच्चे आसानी से डाइजेस्ट कर लेते हैं और खाना भी सीख जाते हैं। इससे बेबी का वजन जरूर बढेगा।
»सभी उत्तरों को पढ़ें