11 महीने का बच्चा

Question: मेरी बेटी 11 महीने की हो गयी हे वो आज कल कुछ भी खा नही रही हे बहुत कमज़ोर हो रही हे सर्दी जुकाम बार बार होता हे

2 Answers
सवाल
Answer: बच्चों में ज्यादातर यही समस्या हम देखते हैं कि वह खाना नहीं खाते ठीक से इस वजह से उनका अंदर से आंतरिक शक्ति इम्यून सिस्टम अच्छा नहीं बनता और उन्हें बार-बार सर्दी खांसी और बुखार होता रहता है.बच्चे को समय से खाना दे . उसके भूक के होने का वेट नही करे . क्यू की बच्चे बाटा नही पाते .. वो चिदचिदते है या रोते है . आप समय तय करिए फ़िर उसी समय पे खिलायें पिलाया और सोने का टाइम भी कोशिश करे की सेट हो . टाइम लगेगा सोने का टाइम सेट होने में लेकिन अच्छा रहटा है बच्चे के लाइए समय से खाना पीना और सोना होतो . लंच में खिचड़ी या दाल रोटी दे . या डोसा इडली दे . रात में दूध रोटी या दाल चावल दे . बहुत अच्छे से पका हुआ और तज़ा बना खाना खिलायें . और अच्छे से मॅश किया हुआ . बडे़ टुकडे़ नही हो . मॉर्निंग में फ़लो दे शाम को थोड़ा सब्जियो का सूप दे . आप ध्यान रखे आपका baby दिन में 4 बार याने उठते साथ , दोपहर में ,शाम को , और रात में सोने से पेहल।। आपका दुध ले और 3 टाइम याने नाश्ता , दोपहर का भोजन फिर रात का खान।। जो भी आप ताज़ा बनाये वह थोड़ा थोड़ा खै। आप डेरी प्रोडक्ट दिया करे। जैसे घर का बना दही , पनीर आप बाकी ये सब दे सकती है।। Chawal kheer , सूजी की kheer , गाजर की kheer ,ल्वाकि की kheer।मूँग दाल की खिचडी मासूर दाल की खिचडी दाल चवाल दाल रोटी दुढ रोटी केला शीक फ्रुइट्स की स्मूथिएस काधी चवाल आते का हल्वा सूजी का हल्वे सब्जीयू का सूप काऊ मिल्क याने gaay का दुध pine नहीं द.
Answer: डियर आप बेबी को थोड़ा रिलीफ dene के लिये कुछ टिप्स यूज़ कर सकती है . बेबी के छाती ,pero or hatho k talu par और पीठ पर सरसों के तेल मे 2 से 3 लहसुन की कलियां डालकर गर्म कर के लगायें .. तुलसी के पत्तों के रस को हनी के साथ भि दें .. बेबी के रूम को थोड़ा गर्म रखें .. और अजवाइन की पोटली से बेबी के चेस्ट को सेक करे .. कफ़ निकल जयगा .. बच्चे को खिलाते समय उन्हें कहानिया सुनाएँ, उनसे बातें करें... बच्चे का टाइम टेबल बनाएं, उन्हें किसी भी टाइम न खिलाने लग जाएँ ..bcche k sath jabरदस्ती न करें, यदि उनका मन नहीं हैं तो थोड़ी देर बाद खिलाएं...baby.के लिए उनका मनपसंद खाना बनाएं, जो की हेल्थी भी ho...baby के लिए खाने में रंगीन सब्जियों का इस्तेमाल करें, जिसे देखकर बच्चा खुश हो जाएँ ..बच्चो को थोड़ी-थोड़ी देर बाद की बजाय उनके मांगने पर खिलाएं ऐसे में बच्चा आराम से खा सकेगा, परंतु यदि बच्चा अपने आप नहीं मांगता हैं तो आप उसे खिलाएं....बच्चों के साथ खेलें, जिससे उनका शरीर थकेगा और उन्हें भूख लगेगी....
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: मेरी गुड़िया 11 महीने की हो गाई हे कल रात से उस से दस्त लग रहे हे वो रात से उल्टी भी बहुत कर रही हे और कुछ खा भी नही रही हे क्या करे हम
उत्तर: हैलो डियर--सबसे पहले ध्यान रखें कि आपका बच्चा पर्याप्त मात्रा में स्तनपान कर रहा है या दूध पी रहा है ताकि बच्चे के शरीर पर पानी की कमी ना हो आप बच्चे को ORSका घोल भी बीच बीच में जब भी बच्चा पौटी करे या उल्टी करे ।कभी कभी देखा गया है कि दस्त अपने आप ही ठीक हो जाता है अगर दस्त कुछ घंटों में ज्यादा बनी रहे तो यह चिंता का विषय हो सकता है अगर बच्चा कुछ घंटों से लगातार।तीन चार, बार से अधिक पतली बदबूदार और ग्रीन पौटी और उल्टी हो तो तुरंत अपने डॉक्टर से बात करें और अपने बच्चे को खाने में खिचडी़ चावल दाल दही केला दे सकते हैं। बच्चे को किसी डॉक्टरी सलाह के बिना कोई भी दवाई ना दे।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरी बेबी 2 महीने 22 दिन की हो गयी हे | उसको सर्दी जुकाम हो गया हे , बहुत तेज खाँसी भी चल रही हे | क्या करूँ ?
उत्तर: हेलों आप की बेबी 2 महीने 22 दिन की है .आपका बेबी अभी बहुत छोटा है ऐसे में मेडिसिन आप बेबी को डॉक्टर की सलाह ले कर ही दे बच्चे को कफ है तो बेबी को nebulize मशीन से करवाये बच्चे को कफ से राहत मिलेगी बच्चों का इम्यून सिस्टम कमज़ोर होता है ऐसे में बच्चे को कपड़े ऐसे पहनाये कि गर्माहट बनी रहें कमरे को भी गरम रखने की कोशिश करे .आप उसे घी और कपूर का मिश्रण लगा सकते है। पहले घी ले और उसे हल्का गर्म करें, फिर उसमे कपूर के कुछ टुकड़े डाल दें और पिघलने दें। ठंडा हो जाने के बाद इसे आप उसकी छाती, पीठ और तलवे पर लगाएं। उसे आराम मिलेगा। आप उसे सरसों के तेल को गर्म कर उसमे अजवाइन और लहसुन डालें ,फिर जब वह ठंडा हो जाए तो उसे उसकी छाती और पीठ पर अच्छी तरह से लगाएं बच्चे को आराम करवाये बच्चे जितना आराम करेगा उतनी जल्दी रिकवर करेगा अगर आप ब्रेस्ट फीड माँ है तो खाने में सन्तुलित और हेल्थी चीज़ें खायें जिसके कारण बच्चे को न्यूट्रिशन मिल सकें और बच्चे को पानी की कमी ना हो lबच्चे को संक्रमण से बचाने के लिये अपना और बच्चे का हाथ साफ रखें बच्चे को फीड कराते समय पहले हैण्ड वाश करेl बच्चे को फीड कराते समय और सुलाते समय बच्चे का सर कुछ ऊपर रखें इसके लिए आप पतली तकिया का यूज़ कर सकती है ऐसे में बच्चे को साँस लेने में आसानी होगी आप अजवाइन भून ले उसे एक कपड़े में बाँध कर पोटली बना ले फिर उसे बच्चे के बच्चे के बैक चेस्ट तलवो पर सीकाई करे धयान रहें अजवाइन ज़्यादा गर्म नही होना चाहिए .बच्चे को कुछ देर सँवरे 8 से 10 बजे की धूप में ज़रूर ले जायें ताकि बच्चे को सूर्य के प्रकाश से विटामिन डी मिलें विटामिन डी बच्चे के सर्दी को कम करने और ग्रोथ में हेल्प फूल हैlधुप दिखाने के लिए बच्चे को सीधे धुप में न रखें।डायपर समय पर बदले प्रोबेल्म ज़्यादा हो तो डोक्टर से सलाह ले
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरी बेटी का वजन 8.6kg है और वो 11 महीने की है क्या वो अंडर वेट है और वो कुछ खा भी नही रही
उत्तर: हेलो डियर आपकी बेटी का वजन बिल्कुल बराबर है आप बिल्कुल टेंशन ना ले और अगर आपकी बेटी कुछ नहीं खा रही है तो उसे फोर्स ना करे हो सकता है कि उसे भूख ना हो जब उसे भूख लगेगी वह खुद मांगेगी|
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरी बेटी 11 महिने की हे 2,3 दीन से वो बिल्कुल सूखी पोटी कर राही हे कुछ भी नही खा रही हे
उत्तर: डियर मैं आपके साथ कुछ टिप्स शेयर करती हूं जो कि आपको हेल्प करेंगे कि बच्चा खाना खा पाए पहला दीप यह है कि आप बेबी के साथ खेल खेलें उसके साथ ही बेबी को खाना खिलाएं बेबी को खाना खिलाते टाइम ऐसा नहीं लगना चाहिए कि यह एक पनिशमेंट है क्योंकि कई मां कई माई क्या करती हैं कि बच्चे को जबरदस्ती खाना खिलाती हैं इससे बच्चे का मन ऊब जाता है बच्चा नहीं खाना खाता है इससे बचने के लिए बेबी को खेल खेल में खाना खिलाएं और इसके लिए आप बच्चे के लिए कुछ टॉय ले सकते हो या बलूंस या फिर कोई भी बर्तन जिससे बेबी बिजी रहे खेल खेल में और आप खाना खिलाने में और कॉन्स्टिपेशन के लिए नीचे दिए गए टिप्स को फॉलो करें आपको बहुत ही मदद मिलेगी -बेबी के खाने में थोड़ा घी का उसे करे।। -किशमिश को रात में भिगो कर सुबह उस्का पानी डो -गुनगुना पानी डिजिये -पेट के हल्के गरम तेल से मालिश करो -पापाया दो खाने के ली -हींग को नाभि पर लगये -बेबी को पेट के बल लेतायी -जितना पानी दोगे उतना बेबी की कब्ज की समस्या में राहत मिलेगि -दही २ब्ज़े से पहले ज़रूर दें एक कटोरी दही डेली ज़रूर दें
»सभी उत्तरों को पढ़ें