7 महीने का बच्चा

Question: मेरी बेटी 5 महीने की है उसको masudo में खुजली होरही है ऑर बार बार poty kar रही hai plz

1 Answers
सवाल
Answer: हेलो डियर बेबी के मसूड़ों में खुजली हो रही है और वह पार्टी कर रही है तो यह दांत आने के लक्षण हो सकते हैं अकसर बच्चे दाँत निकलने के टाइम भूत परेसाम होते है ऑर इन्हें उलटी ऑर दस्ट का समना करना पड़ता है बेबी के उलटी दस्ट को कम करने या रोकने के कुछ उपाय मै आपको बता रही बेबी को इन्फेक्शन से बछऐ क्युकी बेबी दाँत आने के टाइम में मसूड़ों में खुजली होने के कारण कोई भि चीज़ ओतहकर मुह में दाल लेते जिस वज़ह से इनफेक्शन होता है ऑर उलटी ऑर दस्ट की प्रोनल्म होटी है नमक ऑर चीनी का बराबर मात्रा में घोल बनाए ऑर बेबी को दिन भर पानी की जगह इसी को पिलाएं बेबी को फीड बन्द ना करें बेबी को केला खिलाए ऑर सूप भि दें पेट भर एक बार में ना खिलाए दिन भर kuvh कुछ खिलाते रहें जादा तकलीफ़ होने से डॉक्टर से राय लें
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: हलो मेम मेरी बेटी 8 महीने में है उसको बहुत जुखाम ऑर खासी हो रही है
उत्तर: हेलो डियर आपकी बच्चे को सर्दी है nebulize करवायें बच्चे को राहत मिलेगी बच्चों का इम्यून सिस्टम बहुत कमज़ोर होता है जीस्से उन्हें कफ और कोल्ड हो jata hai.मौसम में बदलाव के कारण sardi ,khasiआने par आप bacche को गरम रखें l ऐसे कपड़े pahnaye की हलकी गर्माहट bani रहें l रूम को भी गरम रखने का प्रयास करे lसोते टाइम सर हल्का उंचा कर के sulaye,bacche ko आराम मिलेगाl बच्चे को आराम करवायें बच्चा जीतन आराम करेगा उतनी जल्दी ठीक होगा l khane में गरम चीज़ों का यूज़ करे l सरसों के तेल में लहसुन और हींग गरम कर लेऔर हलके हाथों से बच्ची के चेस्ट back और पैरो के तलवो में मालिश करे अगर आप ब्रेस्ट फीड माँ है तो khane में सन्तुलित और healthy चीज़ें खायें जिसके कारण बच्चे को न्यूट्रिशन मिल सकें और बच्चे को पानी की कमी ना हो बच्‍चों के लिए सुरक्षित वेपर रब का इस्‍तेमाल करें। वेपर रब से बच्‍चे की नाक, छाती, गला और कमर पर मालिश करें। इससे बच्‍चों को सुकून भी ठंडक का अहसास होता है और उन्‍हें सांस लेने में आसानी होती है।बच्चे को संक्रमण से बचाने के लिये अपना और बच्चे का हाथ साफ रखे। बच्चे को कुछ खिलाने से पहले हैण्ड वाश करे बच्चों के सर्दी-खांसी में अजवाइन का काढ़ा पिलायें। सर्दी-खांसी के दौरान सूप बहुत आरामदायक भोजन होता है। आप सब्जियों का गर्म सूप ,चिकन सूप दे सकती हैं। ये सूप बच्चे की प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाते हैं।problem jyada ho to doctor se salah le. ,
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरी बेटी 14 महीने की है उसको बार बार जुखाम हो जता है
उत्तर: हेलो मैम कफ एंड को ल्ड के लिए कुछ घरेलू नुस्खे आप अप्लाई कर सकते है ं जैसे आप अपने बेबी की लिक्विड डाइट बढ़ा दीजिए.. उनको गुनगुना पानी पिलाएं... बेबी को स्लांटिंग पोजीशन में ले टाये जिनसे उनकी नोज ब्लॉक ना हो और वह अच्छे से सांस ले पाए. जब बेबी सो रहे हो तो रूम में स्टीमर चला कर छोड़ दें ं .. ध्या न रख ें बेबी के पास या बेबी के मुंह पर स्टीम नही ं देनी है, बेबी के थोड़ी दूर पर स्टीमर रख दे... 15 से 20 मिनट रूम में स्टीमर चला कर बंद कर दीजिए... बेबी को ऐसी से दूर रखें.... फैन नॉर्मल ही चलाएं... अगर आप ऐसी चला रहे हैं तो बेबी को फुल स्लीव्स के कपड़े पहनाए. बेबी की नोज को साफ रखें. आप 3 से 5 पीस लहसुन के लीजिए और उसे छीलकर एक काले धागे में पिरो दीजिए... रात को सोते वक्त बेबी के गले में या तकिए के पास रख दीजिए.. लहसुन की स्मैल से बेबी की नोज भी खुली रहेगी और उनका कोल्ड भी ठीक हो जाएगा.. अगर आपकी बेबी बॉटल फीड लेते हैं, दिन में सिर्फ एक बारी दूध में 1-2बूंद शहद मिलाकर बेबी को दीजिए... रात के टाइम सोते वक्त यह ज्यादा असर करेगा. एक-दो दिन यह घरेलू नुस्खे अपनाकर देखिए यदि बेबी को फीवर या कुछ और तकलीफ होती है तो अपने डॉक्टर को कंसल्ट करें .
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरी बेटी 8 महीने की होने वाली है वह दिन में 5 से 6 बार पॉटी कर रही है क्या उसको देना चाहिए प्लीज बताइए
उत्तर: हेलो डियर बच्चे को लूज मोशन हो रहे हैं तो सबसे पहले आप अपने बच्चे के आस-पास साफ-सफाई का खास ख्याल रखेंगंदे हाथ मुंह में डालने से बच्चे को लूज मोशन की समस्या होने लगती है अपने बच्चे के हाथ और खिलौने बार-बार साफ करते रहे इसके अलावा अभी आप अपने बच्चे को चावल का पानी साबूदाने का पानी दे इससे बच्चे के दस्त रुकेंगे और अगर बच्चे के दांत निकल रहे हैं तो अपने बच्चे को कैलकेरिया फॉस की गोलियां नहीं बहुत ही सेव रहती है कोई प्रॉब्लम नहीं होती बाकी अगर आप स्तनपान करवाते हैं तो बहुत ही अच्छा है जितना स्तनपान करवाएंगे उतना अच्छा रहेगा उतना जल्दी बच्चा ठीक होगा यदि बच्चे के लूज मोशन बिल्कुल भी नहीं रुक रहे हैं तो प्लीज आप डॉक्टर से जरूर कंसल्ट करें पानी बार-बार पिलाते रहें ताकि पानी की कमी ना हो इस बात का खास ख्याल रखें
»सभी उत्तरों को पढ़ें