9 महीने का बच्चा

Question: मेरी बेटी 9 महीने की पुरी हो गाई एच पर घुटना के बल नही चलती आर्मी की तरह रंगते एच क्या कोई कामी h

1 Answers
सवाल
Answer: घबराइए मत यदि वह अच्छे से बैठ जाती है तो वह एक दिन घुटनों के बल चलने भी लगेगी इससे पहले बच्चे पकड़ कर खड़ा होना सीखते हैं और यदि वह खुद को घसीट रही है तो देखेगा कुछ दिन बाद वह घुटने में आ ही जाएगी हां हो सकता है उसे गढ़ता हो इसलिए वह घुटने के बल नहीं चलती हो इसलिए आप कोशिश कीजिए कि नीचे थोड़ा मोटा गद्दा या चादर रख दीजिए ताकि वह घुटने के बल चलते वक्त उसे कुछ गढ़े ना
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: मेरी बेटी 10 महीने 9 दिन की हो गयी है अभी तक घुटनों के बल नही चलती है .
उत्तर: हेलो डियर कुछ बच्चे घुटनों के बल लेट चलते हैं बच्चे का वेट ज़्यादा होने के कारण भी बच्चे को घुटनों के बल चलने में टाइम लगता है बच्चे का वेट बताइये आप आपका बच्चा जब खुश हो तो आराम से उसे पीठ के बल फर्श पर लेटाएं। कम से कम 10-15 मिनट तक बच्चे को पीठ के बल लेटे रहने दें। जब तक वह आराम महसूस करने लगें आप अपने बच्चे को खिलौने के पास जाने के लिए प्रोत्साहित करें और उसे आगे चलने में मदद करें। इससे आपका बच्चा घुटनों के बल चलने की कोशिश करेगा। मगर ध्यान रहे खिलौना ज्यादा दूर ना रखें। इससे बच्चे को परेशानी हो सकती है बच्चे को आपकी तरफ घुटनों के बल चलकर आने की बजाय आप बच्चे के साथ घुटनों के बल चलें। आप और आपका बच्चा दोनों खिलौने की तरफ घुटनों के बल चलकर जा सकते हैं। ऐसा करने से आपका बच्चा घुटनों के बल चलने के लिए प्रोत्साहित होता है।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरी बेटी 9 महीने की है पर अभी तक बैठती नही है और न ही घुटनों के बल चलती है कोई परेशानी तो न होगी
उत्तर: हेलो डियर आपको टेंशन लेने की कोई जरूरत नहीं है सभी बच्चों की स्ट्रैंथ अलग अलग होती है ... आप बेबी को एक जगह पर लिटा दे और थोड़ी दूर जाकर आप कुछ खिलौने या पैक रखें जिससे बेबी आकर्षित हो और धीरे-धीरे बेबी घुटनों के बल चलना सीख जाएगी आप बेबी के पैरों और रीढ़ की हड्डी की मालिश भी अच्छी तरह करें इससे हड्डियां मजबूत होती हैं ओके
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरी बेटी नो महिने की हो गयी पर वो घुटने के बल पर नही चलती एसा क्यों
उत्तर: आप बिल्कुल भी परेशान ना हो कुछ बच्चे देर से चलना बैठना और दौड़ना सीखते हैं । आप अपने बच्चे की सुबह शाम सरसों के तेल से मालिश कीजिए । कमर और पैरों की मालिश पर विशेष ध्यान दीजिए। और आपकी बच्ची 8 महीने की हो गई है तो उसके ठोस आहार पर भी विशेष ध्यान दीजिए।
»सभी उत्तरों को पढ़ें