5 साल का बच्चा

Question: मेरी बेटी बेड पर शुशु कर देती है सोय सोय दिन को भी बहुत करती है क्या करू

2 Answers
सवाल
Answer: हैलो डियर - अक्सर छोटे बच्चे नींद में बिस्तर पर पेशाब कर देते है। कुछ घरेलू उपाय द्वारा बच्चों की आदत छुड़ाए जा सकती है जैसे कि रात को जब भी बच्चा नींद में छठ पटाना और रोना सा करें तो आप समझ जाएंगे उसे टॉयलेट जाना है बच्चे को सोने से पहले बाथरुम जरूर करवाएं पानी में जायफल घिसकर इसका एक चौथाई चम्मच एक कप गुनगुने दूध में मिलाकर सुबह और शाम बच्चों को पिलाने से बिस्तर गीला करने की समस्या छुटकारा मिलता है।प्रतिदिन सुबह गुनगुने दूध के साथ बच्चों को गुड़ खाने को दें इसके सेवन से शरीर में गर्मी आती है जिसे बिस्तर पर पेशाब करने में कमी आने लगती है। रात के समय हर दो घंटे में बच्चे को बाथरूम में जाकर पेशाब करवाएं सोने वाले कमरे में रात को रोशनी रखें ताकि रात को पेशाब आने पर बच्चा बाथरूम जाकर पेशाब कर सके। सुबह को बच्चे का बिस्तर गीला ना दिखने पर बच्चे की तारीफ करें। रात को सोने से पहले थोड़ी किशमिश पानी में भिगो दें और सुबह सुबह खाली पेट बच्चे को खिलाएं इस इस क्रिया को करने से बच्चों का बिस्तर गीला करने से आप उन्हें रोक सकती हैं। पानी में जायफल घिसकर इसका एक चौथाई चम्मच एक कप गुनगुने दूध में मिलाकर सुबह और शाम बच्चों को पिलाने से बिस्तर गीला करने की समस्या से छुटकारा मिलता है।
Answer: हेलो डियर, आप अपने बच्चे की पॉटी और सुसु की हैबिट डालिए lआपको 15 दिन एक नियम से अपने बच्चे को पॉटी और सुसु का टाइम फिक्स करना है और उसी टाइम पर अपने बच्चे को पॉटी और सुसु कराएं हर 1 घंटे बाद आप अपने बच्चे को बाथरूम में ले जाकर के सुसु कर आए भले ही वह सुसु करें ना करें आप इस तरह से 15 दिन उसके साथ करेंगे फिर देखना वह जब भी सुसु करेगा आपको सुसु करने से पहले बताएगाl पॉटी करने के लिए बच्चे का सुबह और शाम ka टाइम फिक्स करिए उसी टाइम पर आप उसे पॉटी करइए पहले तो बच्चा 1 हफ्ते तक उस टाइम पर पोटी नहीं करेगा बट धीमे-धीमे आप रेगुलर यह रूटीन उसके साथ फॉलो करेंगे तो आपका बच्चा उस टाइम पर daily पॉटी करने लगेगा और आपको बताएगा भीl
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: मेरा बच्ची बेड पर शुशु करती है रात को सोया सोया क्या करु
उत्तर: हेलो डियर छोटे बच्चे रात को बाथरूम बेड पर तो करते ही हैं अभी आपका बेबी छोटा है इसलिए समस्या के लिए आप सिर्फ एक ही उपाय कर सकती हैं रात को सोते समय बिल्कुल लास्ट टाइम पर अपने बेबी के लिए डायपर का इस्तेमाल करें डायपर इस्तेमाल करने से पहले उस जगह को अच्छी तरह से पूछ ले और उसमें पाउडर डालें उसके बाद डायपर का इस्तेमाल करें इससे बच्चों को ज्यादा रैशेज का डर नहीं होता है और सुबह उठने के बाद डायपर हटा दे एक डायपर का मैक्सिमम समय 5 से 6 घंटे होता है इसलिए आप डायपर का इस्तेमाल उससे ज्यादा ना करें नहीं स्किन में दिक्कत हो जाती है
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरी सात साल कि बेटी हे वो बेड पर सोते समय बेड गिला कर देती हे
उत्तर: hello अगर आपका बच्चा बिस्तर पर पेशाब करता है तो बच्चे को आदत डालिए की वह सोने से पहले पेशाब जरूर करे।  अगर बच्चा कभी जल्दी सो जाये तो उसे गोद में उठाकर बाथरुम ले जाएँ  अगर बच्चा अकेले सोता है तो उसके कमरे में हल्का रौशनी वाला बल्ब लगाएं ताकि रात में उठकर वह स्वंय भी बिना किसी मदद के बाथरुम जा सके  रात 8 बजे के बाद जयादा पानी ना दें  अगर बच्चा फिर भी कभी बिस्‍तर पर पेशाब कर दे तो उसे मारें नहीं बल्कि प्यार से समझाएं  सोने से 1 घंटा पहले खानाखिला देना चाहिए  बच्चे को सोते से जगाकर कुछ भी खाने और पीने को नहीं देना चाहिए बिस्तर पे पिशाब करना कोई गंभीर समस्या नहीं है। इससेबचने केलिये आप तिल और गुड़ को साथ मिला कर उसका मिश्रण बना लें। इसे खिलाने से बच्चे का बिस्तर पे पिशाब नही करेगा । अंदाज से 10 ग्राम आवंला और 10 ग्राम काला जीरा साथ मिलकर पीस लें। इसमें लगभग इतनी ही मात्रा में चीनी पीस कर मिला दें। इस मिश्रण को हर दिन बच्चे को पानी के साथ खिलने से बच्चे को बिस्तर पे पिशाब नहीं होगा। आवंला को बारीक़ पीस कर रोजाना शहद के साथ 3 ग्राम सुबह और शाम खिलने से भी लाभ पहुँचता है।  हर दिन पांच मुनक्का बच्चों को खिलने से बच्चों का बिस्तर में पेशाब करने का रोग ख़तम हो जाता है।  प्रतिदिन दो अखरोट और बीस किशमिश बच्चों को खिलाने से बिस्तर में पेशाब करने की समस्या दूर हो जाती है। एक कप ठण्डे फीके दूध में एक चम्मच शहद मिलाकर सुबह-शाम चालिस दिनों तक बच्चे को पिलाइए और तिल-गुड़ का एक लड्डू रोज खाने को दीजिए। अपने बच्चे को लड्डू चबा-चबाकर खाने के लिए कहिये। इससे बच्चे की बिस्तर पर पेशाब करने की आदत से आपको छुटकारा मिलेगा।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरी बेटी साल की है वो अभी बी बाथरूम बेड pr कर देती है क्या करू मै
उत्तर: 🙏 अक्सर छोटे बच्चे नींद में बिस्तर पर पेशाब कर देते है। कुछ घरेलू उपाय द्वारा बच्चों की आदत छुड़ाए जा सकती है जैसे कि ं1.)रात को जब भी बच्चा नींद में छठ पटाना और रोना सा करें तो आप समझ जाएंगे उसे टॉयलेट जाना है 2.)बच्चे को सोने से पहले बाथरुम जरूर करवाएं 3.) पानी में जायफल घिसकर इसका एक चौथाई चम्मच एक कप गुनगुने दूध में मिलाकर सुबह और शाम बच्चों को पिलाने से बिस्तर गीला करने की समस्या छुटकारा मिलता है। 4.) प्रतिदिन सुबह गुनगुने दूध के साथ बच्चों को गुड़ खाने को दें इसके सेवन से शरीर में गर्मी आती है जिसे बिस्तर पर पेशाब करने में कमी आने लगती है। रात के समय हर दो घंटे में बच्चे को बाथरूम में जाकर पेशाब करवाएं 5) क्योंकि सोने वाले कमरे में रात को हम की रोशनी रखें ताकि रात को पेशाब आने पर बच्चा बाथरूम ज्यादा पेशाब कर सके। 6) सुबह को बच्चे का बिस्तर गीला ना दिखने पर बच्चे की तारीफ करें। 7) रात को सोने से पहले थोड़ी किशमिश पानी में भिगो दें और सुबह सुबह खाली पेट बच्चे को खिलाएं इस इस क्रिया को करने से बच्चों का बिस्तर गीला करने से आप उन्हें रोक सकती हैं। 8) पानी में जायफल घिसकर इसका एक चौथाई चम्मच एक कप गुनगुने दूध में मिलाकर सुबह और शाम बच्चों को पिलाने से बिस्तर गीला करने की समस्या छुटकारा मिलता है। Take care💐
»सभी उत्तरों को पढ़ें