10 महीने का बच्चा

Question: मेरी बेटी को पसीना बहुत आता है क्या ये नॉर्मल है ऐसा क्यू होता है ?

1 Answers
सवाल
Answer: कभी-कभी बच्चे के बहुत पसीना आने से मां को बहुत परेशानी झेलनी पड़ती है पसीना आना बहुत कोमल होता है लेकिन बहुत ज्यादा पसीना आने का कुछ कारण होता है ज्यादातर बच्चे को सोने के टाइम ही बहुत पसीना आता है तो यह एक बहुत गंभीर समस्या हो सकती है ऐसे में बच्चे को सांस लेने में परेशानी होती है और कभी-कभी ज्यादा पसीना आने के कारण से हूं बहुत ज्यादा गहरी नींद में चले जाने से उसके उठने में बहुत परेशानी होती है कई बार बहुत ज्यादा पसीना आने के कारण बच्चे के हृदय में कोई परेशानी होने का भी संकेत दिलाता है ऐसे में बेबी को ज्यादा उड़ाकर ना सुलाएं उसे भी जितना ही गर्व महसूस होगा उसको उतना ही पसीना आएगा बच्चे को भी उतना ही गर्मी लगता है जितना की मां को कभी-कभी बच्चे के शरीर में विटामिन डी 3 की कमी होने की वजह से भी बहुत पसीना आता है इसके लिए आप बच्चे को रोज धूप में थोड़ी देर खिलाएं बच्चे के शरीर में पानी की कमी ना होने दें अगर आपको कुछ परेशानी लग रही होगी तो उस टाइम आप तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें क्योंकि बच्चों का बहुत पसीना आना मुसीबत लाता है लेकिन अगर ऐसे नॉर्मल ही पसीना आ रहे होंगे तो आप घबराइए नहीं आप अपने रूम का टेंपरेचर सामान्य रखें
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: मेरी बेटी को सिर मै बहुत पसीना आता है रात को बहुत ज़्यादा
उत्तर: कभी-कभी बच्चे के बहुत पसीना आने से मां को बहुत परेशानी झेलनी पड़ती है पसीना आना बहुतcommon होता है लेकिन बहुत ज्यादा पसीना आने का कुछ कारण होता है ज्यादातर बच्चे को सोने के टाइम ही बहुत पसीना आता है तो यह एक बहुत गंभीर समस्या हो सकती है ऐसे में बच्चे को सांस लेने में परेशानी होती है और कभी-कभी ज्यादा पसीना आने के कारण से हूं बहुत ज्यादा गहरी नींद में चले जाने से उसके उठने में बहुत परेशानी होती है कई बार बहुत ज्यादा पसीना आने के कारण बच्चे के हृदय में कोई परेशानी होने का भी संकेत दिलाता है ऐसे में बेबी को ज्यादा उड़ाकर ना सुलाएं उसे भी जितना ही गर्व महसूस होगा उसको उतना ही पसीना आएगा बच्चे को भी उतना ही गर्मी लगता है जितना की मां को कभी-कभी बच्चे के शरीर में विटामिन डी 3 की कमी होने की वजह से भी बहुत पसीना आता है इसके लिए आप बच्चे को रोज धूप में थोड़ी देर खिलाएं बच्चे के शरीर में पानी की कमी ना होने दें अगर आपको कुछ परेशानी लग रही होगी तो उस टाइम आप तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें क्योंकि बच्चों का बहुत पसीना आना मुसीबत लाता है लेकिन अगर ऐसे नॉर्मल ही पसीना आ रहे होंगे तो आप घबराइए नहीं आप अपने रूम का टेंपरेचर सामान्य रखें
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: Dr. मेरी बेटी को पसीना बहुत आता है क्यू?
उत्तर: पसीना निकलना बहुत ही नॉर्मल बात है इसके लिए आपको घबराने की जरूरत नहीं है बच्चों में जो गर्मी होती है वह उनके पसीने के तेरी यही निकलती है इसलिए बच्चों के सर से ज्यादा पसीना आता है क्योंकि उनके शरीर की गर्मी पसीने के रूप में बाहर आती है आप बेबी को ज्यादा कंबल या रजाई उड़ा करना सुनाएं आप बेबी को पतला सा कंबल उड़ा कर सुनाएं और पूरे सर से ना उदाए बेबी के सीने से ही कमल को dhank कर सुनाएं दोनों हाथों को बेबी का खुला छोड़ दे इसे ढके ना इससे बेबी आराम से सो पाएगा बेबी को सुलाने के लिए बहुत ज्यादा गर्मी ना रखें ऐसे कमरे में सुनाएं जहां से बाहर की हवा आती हो हल्की-फुल्की बिल्कुल सील बंद कमरे में ना सुनाएं जिससे बेबी को bechainiबहुत गर्मी महसूस हो यदि बेबी का शरीर गर्म है और पसीना आ रहा है तो डॉक्टर से सलाह नहीं क्योंकि हो सकता है कि फीवर की वजह से ऐसा हो सकता है
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरी बेटी को बहुत पसीना आता है सोते पर बहुत पसीना आता है बाल भी जाता है उसके पूरे
उत्तर: हेलो डियर ,बच्चो में पसीना आना बहोत आम बात है |ऐसा उनके शरीर में अधिक गर्मी पैदा होने के कारण होता है। पसीने के रूप में शरीर की गर्मी निकल जाती है।शुरुवाती दिनों में बच्चे की पसीना पैदा करने वाली ग्रन्थियाँ सिर्फ सर में सक्रिय रहती हैं। धीरे-धीरे वे शरीर के अन्य हिस्सों में भी विक्सित होकर सक्रिय रूप से काम करने लगती हैं। पसीने की ग्रंथियों की संख्या एक वयस्क के बदन में एक समान रहती है। नई ग्रंथियाँ पैदा होना बंद हो जाती हैं। अगर आपका बच्चा पसीना बहाता है तो यह उसकी अच्छी सेहत और मस्तिष्क के स्वास्थ्य की निशानी है।एक नवजात बच्चे की हार्ट-बीट यानि हृदयगति 130 बीट्स प्रति मिनट होती है। जबकी एक वयस्क की हार्ट-बीट 70-80 बीट्स प्रति मिनट होती है। एक बच्चे की चहल-पहल भी वयस्क के मुकाबले ज़्यादा होती है। इस कारण उनमें अधिक पसीना पैदा होता है।
»सभी उत्तरों को पढ़ें