17 महीने का बच्चा

Question: मेरी बच्ची 17 महीने की है उसका डायट bataiye खाने में थोड़ा नखरे हैं मीठी चीज़ें कम पसन्द है

1 Answers
सवाल
Answer: हेलो डियर 17 महीने बच्चे को प्रॉपर खाने की जरूरत होती है आप उसको सबसे पहले सुबह उठते ही के साथ नाश्ता कर आइए जिसमें आप उसको चिल्लाई इडली डोसा अंडा कोच कॉर्नफ्लेक्स वगैरह दे सकती हैं , फिर आप करीब 3 घंटे के बाद उसे कोई फ्रूट दे दीजिए चाहे किला दे दीजिए केला सेब , चीकू पपीता कुछ भी दे सकती है , 3 घंटे के बाद आप उसको खाना दीजिए जिसमें आप उसको दाल सब्जी रोटी या फिर दाल चावल या फिर खिचड़ी दे सकती है पर ध्यान दीजिए अपने बच्चे को हरी सब्जियां जरूर खिलाएंगे , शाम को आप उसको मैं एक snack दे सकती हैं जैसे आप लोग या अंडा हो गया ड्राई फ्रूट का पाउडर हो गया उसको आप दूध में मिलाकर के पिला सकती हैं आपका बच्चा ऊपर का दूध पीता है , फिर फिर 2 से 3 घंटे के बाद उसको डिनर कर आइए और डिनर में आप दाल चावल रोटी सब्जी कुछ भी दे सकती हैं , इस तरीके से बच्चे का एक प्रॉपर्टी सेट कीजिए और उसको जितना हो सके नेचुरल खाना खाने के लिए दीजिए ताकि उसको सारे पोषक तत्व मिल सके और वह चुस्त-दुरुस्त बना रहे हैं , जैसे कि आप लिख रही हैं आपकी बेटी चीनी नहीं खाती है या मीठा पसंद नहीं है तो यह बहुत अच्छी बात है क्योंकि ज्यादा मीठा या फिर नमक बच्चों की बोन्ज़ वीक करता है इसलिए अगर आपकी बच्ची मीठा नहीं खा रही है तो उसे मीठा मत दीजिए
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: 17 महीने की बच्ची है उसका वजन बहुत कम है उसका वजन बढ़ाने के लिए कुछ उपाय
उत्तर: हेलो अगर आपके बच्चे का वजन कम है तो बच्चे का वजन बढ़ाने के लिए घी और मक्खन खिलाएं  घी और मक्खन फैट से भरपूर खाद्य है।दाल अथवा रोटी में लगाकर इसका सेवन किया जा सकता है।  दालें प्रोटीन की सबसे बड़ी स्रोत हैं। दाल के पानी में भी पर्याप्त मात्रा में प्रोटीन पाया जाता है। अगर आपका बच्चा कमजोर है तो उसका वजन बढ़ाने के लिए उसे नियमित रूप से दाल का पानी पीने को दें। इससे बच्चों का वजन तेजी से बढ़ता है।  मलाई वाले दूध में पर्याप्त मात्रा में फैट पाया जाता है। बच्चों का वजन बढ़ाने के लिये फायदेमंद होता है। अगर बच्चा दूध पीने से मना करता है तो शेक या फिर चॉकलेट पाउडर मिक्स करके उसे पिलाने की कोशिश करें। केला एनर्जी का बेहतरीन स्रोत है। कमजोर बच्चों के लिए यह बेहद फायदेमंद होता है। केले का शेक या दूध और केला बच्चे को खिलाने से उनके वजन में वृद्धि होती है। शकरकंद फाइबर ,पोटेशियम, विटामिन ए, बी और सी से भरपूर होता है, जो बच्चों के वजन को बढ़ाने में काफी मदद करता है। कमजोर बच्चों को इसका हलवा या फिर उबाल कर दूध में मिलाकर खिलाया जा सकता है।आलू में कार्बोहाईड्रेट और अंडे में प्रोटीन काफी मात्रा में पाया जाता है। कमजोर बच्चों का वजन बढ़ाने के लिए इनका सेवन बेहद जरूरी है। बच्चों को आलू या अंडा उबाल कर खिलाने से वजन बढ़ता है। हरी सब्जियां पोषक तत्वों से भरपूर होती हैं।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरी बच्ची 6 महीने की है मुझे उसका प्रॉपर डायट खाना कैसे खिलाना चाहिए क्या खिलाना
उत्तर: बच्चे अगर 6 महीने के हो जाते हैं तो हर मां की कोशिश और हर मां की एक ख्वाब रहता है कि बच्चों को अच्छी तरह से खीलाते पिलाते रहना चाहिए तो उनको बहुत सारे दौब्त्स भी आते हैं क्या खिलाना चाहिए और क्या नहीं खिलाना चाहिए .... तो इसलिए आप कुछ भी परेशान नहीं ना हो यह आप सुबह जब बच्ची उड़ती है साथ के या फिर 8:00 के समय के अंदर आप बच्चे को दूध में भीगा हुआ इडली आप खिला सकते हो या फिर आप दोसा भी खिला सकते हो और आप दोसा भी दूध में भीगा कर खिला सकते हो इसकी वजह से बाहर नरम हो जाता है और बजे के लिए खाने में आसानी हो जाती है तो इसलिए आप जरूर ऐसा करके देखें और आप दोपहर के टाइम में घर में बना हुआ दलिया या फिर ओटमील खिला सकते हो और आप अगर दलिया खिला रहे हो तो उसमें ज्यादा घी डालकर खिला सकते हो इसकी वजह से बच्चों में ताकत आता है शाम के समय में 5:00 या 6:00 बजे के समय में आप एक फल खिला सकते हो वह केला हो सकता है या फिर एप्पल सकता है या फिर गाजर भी हो सकता है गाजर हो तो आपको पहले से ही थोड़ा सा पका देना चाहिए और नरम करके खिलाना चाहिए
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरी बच्ची अभी 3 महीने की है। उसका वजन कम से कम कितन होना चाहिए?
उत्तर: बच्चे के जन्म के समय को वजन आपके शारीरिक और मानसिक विकास के साथ-साथ, आपके खान -पान पर भी निर्भर करता है। अधिकांशतः 5 महीने के अंत तक बच्चे का वजन उसके जन्म के समय वाले वजन से दौगुना हो जाना चाहिए। बच्चे का वजन हर महीने कम से कम 25 से 30 gm तक बढ़ जाना चाहिए।
»सभी उत्तरों को पढ़ें