34 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: मेरी प्रेग्नेंसी को 34 हफ्ते पूरे हो गए है ं मेरे मेरे पैरों हाथों में सूजन रहता है इसका क्या कारण हो सकता है जवाब दीजिए और काफ़ी कमजोरी रहती है पेट में दर्द

1 Answers
सवाल
Answer: हेलो प्रेग्नेंसी के दौरान हो ने वाले हाथ पैर ों और चेहरे के सूजन को एडिमा कहते है ं । यह वाटर रिटेंशन के का रण और बी पी बढ़ने के कारण होता है जैसे -जैसे शिशु बढ़ता है तो उस का दबाव शरीर के निचले अंगों पर ज्या दा पड़ता है जिसके कारण निचले अंगों को ब्लड ले जाने वाली नसे दबती है। नसों के दबने की वजह से ही हाथ पैर चेहरे होंठ ब्रेस्ट ना क कूल्हों और आंखों के नीचे सूजन होता है। यह प्रेग्नेंसी की एक आम समस्या है आप को बस थोड़ा एक्स्ट्रा केयर कर ने की जरूरत है जैसे कभी भी आप बैठे पर लटका कर ना बैठे। सोते समय हमेशा लेफ्ट करवट सोए इससे आपके निचले नसों पर दबाव कम पर पड़ता है। और ब्लड सरकुलेशन अच्छे से होता है। आप जितना ज्यादा पानी पिएंगे आपके लिए उतना ही अच्छा रहे गा। जब सूजन ज्यादा हो जाए तो सरसों के तेल या कोई भी तेल से पैरों की मालिश करवाएं। मालिश करवाते समय ध्यान रहे ऊपर से नीचे मसाज नहीं करना है नीचे से करते हुए ऊपर की डायरेक्शन पर लेकर जाना है। चेहरे पर ज्यादा सूजन होने से थोड़ा सरसो का तेल लगाकर गुनगुने नमक पानी से सेकाई करें । खाने में नमक की मात्रा धीरे धीरे कम करें। सुबह शाम वॉक करें। हल्के एक्सरसाइज भी करें
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: मेरे हाथों में स्वेलिंग रहती है और मेरे हाथों में दर्द होता है पैरों में भी सूजन आती है
उत्तर: हेलो डियर हमारे प्रेगनेंसी में स्पेलिंग होना आम बात है इसमें घबराने की कोई बात नहीं है डियर क्युकी बेबी का और आपका वेट पैरो पर भारी पडता है.बीच-बीच में उठें और थोड़ा चले-फिरें।घर में जब भी संभव हो अपने बाईं तरफ करवट लेकर लेटें क्योंकि इससे वीना कावा नस पर दबाव नहीं पड़ता। खूब सारा पानी पीएंनियमित व्यायाम करें, खासकर कि चलना-फिरना, तैराकी, प्रसवपूर्व योग या एक्सरसाइज बाइक का इस्तेमाल। पौष्टिक व संतुलित आहार खाएं और ज्यादा नमक वाले खाद्य पदार्थ जैसे कि जैतून, नमकीन, चिप्स और नमक वाले मेवे न खाएं। ये पानी प्रतिधारण को बढ़ा सकते हैं।अगर आपकी त्वचा में ज्यादा कसाव और दर्द न लगे, तो किसी से अपने टखनों और पैरों की मालिश करवाएं। मालिश के दौरान नीचे से ऊपर की तरफ घुटनों तक जाएं। इससे पैरों से तरल पदार्थ को हटाने में मदद मिल सकेगी।कोशिश करें कि आप खुश और निश्चिंत रहें! ख्याल रखें डियर.
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मैं मेरे पैरों में बहुत दर्द रहता है इसका क्या कारण हो सकता है वह
उत्तर: हेलो डिअर, प्रेग्नेंसीय होने के बाद एक समस्या पैरो के दर्द की होती है प्रेग्नेंसीय के दौरान रक्त प्रवाह बढ़ने के कारण पैरो में दर्द होता है प्रेग्नेंसीय में आपका वेट जैसे जैसे बढ़ता है वैसे वैसे बॉडी का भार पैरो पर आने की वजह से भी पैरो में दर्द होने लगता है ऐसे में सास लेने में भी परेशानी होती है ऐसा होना नार्मल बात है , आप अपने पैरों की सरसो के तेल से मालिश करे आपको आराम मिलेगा आप अपने पैरों को गुनगुने पानी मे नमक डालकर धो दे इससे भी आपके पैरों का दर्द कम हो जाएगा , ज्यादा हाई हील सैंडिल न पहनें क्योंकि इससे आपके पैरों में और भी दर्द हो सकता हैं , आप अपने पैरो की एक्सरसाइज करें पैर दर्द में बहुत लाभ होगा ।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: प्रेगनेंसी में हाथ पैरों पर सूजन आने का क्या कारण हो सकता है और इससे क्या समस्याएं हो सकती हैं ?
उत्तर: हेलोजिओ प्रेगनेंसी में हाथ पैर पर सूजन आना आम बात है इसमें घबराने की कोई आवश्यकता नहीं है कभी-कभी लो बीपी हाई बीपी के कारण भी ऐसी सूजन आती है इसलिए आप अपने खाने में नमक का प्रयोग कम करें । इसी के साथ आप बहुत सारा पानी पिए आप जितना पानी पीएगी उसने ही आपके शरीर पर सूजन कम आएगी। इसके साथ अगर हो सकता है तो आप बाई और करवट लेकर सोने से भी आपको काफी फायदा मिलेगा। पोष्टीक और संतुलित आहार ले ।
»सभी उत्तरों को पढ़ें