36 weeks pregnant mother

मेरी डिलिवरी 1 dec को हो गया ह मेरी बेबी को पीलिया है तो क्या sarvar करनी chahiye

सवाल
हेलो आप के बेबी को पीलिया हुआ है आप परेशान ना हो बेबी का बिलिरुबिन ज़्यादा होने पर बेबी को जोइन्दिस हो जाता है जो कि लगभग सभी बच्चे को होता है आप घबराये नही ये bado को होने वाले पीलिया जैसे नही होता है बच्चे के बॉडी में एक्स्ट्रा रेड ब्लड सेल्स होती है जिसे बॉडी बर्थ के बाद तेजी से कम करती है . लेकिन बॉडी से उसका इज प्रोसेस से निकालने वाला बिलिरुबिन उतनी तेजी से बहार नही हो पाता . और बॉडी येल्लो कलर की दिखने लगती है . ये कुछ समय मेन ठीक हो जाता है इसका सिम्पल सा इलाज है कि कुछ दिनों तक दिन में चार बार  15 मिनिट तक धुप दिखाना काफी होता है। किसी इलाज की जरुरत नहीं पड़ती और धुप दिखने भर से पीलिया ठीक हो जाती है। धुप दिखाने के लिए बच्चे को सीधे धुप में न रखें। यें और डॉक्टर बच्चे को कुछ समय के लिए बच्चे को ब्लू लाइट में रखते है जीस्से भी बच्चे का पीलिया ठीक होता है वैसे ये पीलिया 10 दिन में अपने आप भी ठीक हो जाता है.पीलिया में बच्चे को लगातार स्तनपान कराते रहना चाहिए या formula milk देते रहना चाहिए। इससे मल मूत्र के जरिये शरीर से बिलीरुबिन निकाल जायेगा। 
आप ko किन वीक पर baby hua apka isme to 36 week दिखता he सी एस hua ya नॉर्मल ऑर baby कितने kg he
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: मेरी 2 दिन बेबी को पीलिया हो गया है
उत्तर: हेलो आपका बेबी 2 दिन का है बच्चे को पीलिया हो गया है आप परेशान ना हो बेबी का बिलिरुबिन ज़्यादा होने पर बेबी को जोइन्दिस हो जाता है जो कि लगभग सभी बच्चे को होता है आप घबराये नही ये bado को होने वाले पीलिया जैसे नही होता है बच्चे के बॉडी में एक्स्ट्रा रेड ब्लड सेल्स होती है जिसे बॉडी बर्थ के बाद तेजी से कम करती है . लेकिन बॉडी से उसका इज प्रोसेस से निकालने वाला बिलिरुबिन उतनी तेजी से बहार नही हो पाता . और बॉडी येल्लो कलर की दिखने लगती है . ये कुछ समय मेन ठीक हो जाता है इसका सिम्पल सा इलाज है कि कुछ दिनों तक दिन में चार बार  15 मिनिट तक धुप दिखाना काफी होता है। किसी इलाज की जरुरत नहीं पड़ती और धुप दिखने भर से पीलिया ठीक हो जाती है। धुप दिखाने के लिए बच्चे को सीधे धुप में न रखें। यें और डॉक्टर बच्चे को कुछ समय के लिए बच्चे को ब्लू लाइट में रखते है जीस्से भी बच्चे का पीलिया ठीक होता है वैसे ये पीलिया 10 दिन में अपने आप भी ठीक हो जाता है.पीलिया में बच्चे को लगातार स्तनपान कराते रहना चाहिए या formula milk देते रहना चाहिए। इससे मल मूत्र के जरिये शरीर से बिलीरुबिन निकल जाएगा
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरा बेबी को पीलिया हो गया है में क्या करु
उत्तर: नवजात बच्चों में पीलिया एक आम समस्या है छोटे बच्चों में बड़ों की तुलना में लाल रक्त कोशिकाओं का प्रभाव अधिक होता है इसके परिणाम स्वरुप बच्चों में बिलीरूबिन का उत्पादन भी बहुत ज्यादा होता है बिलीरुबिन का उत्पादन रक्त प्रवाह में होता है और जो छोटे बच्चे होते हैं उनका लीवर इतना ज्यादा परिपक्व नहीं होता जिससे कि इससे छुटकारा पा सके जिसके कारण बिलीरूबिन का कंसंट्रेशन रक्त मैं बढ़ने लगता है औरhyperbilirubinemia हो जाता है छोटे बच्चों में कुछ कारणों की वजह से पीलिया होता है अगर बच्चे समय से पहले जन्म लेते हैं जिसके वजह से लीवर का अच्छे से विकास भी नहीं हो पाता लीवर का विकास अच्छे से नहीं हो पाने के कारण वह बिलीरुबिन का निष्कासन नहीं कर पाते जब बच्चे को मां का दूध पर्याप्त मात्रा में नहीं मिलता तो भी पीलिया होता है कभी-कभी मां और बच्चे का ब्लड ग्रुप एक जैसे नहीं होते जिसके कारण से बच्चे का आरबीसी मां के द्वारा शरीर में उत्पादित एंटीबॉडीज द्वारा नष्ट कर दिए जाते हैं इसके कारण बच्चे के रक्त में बिलीरुबिन की मात्रा बढ़ जाती है इसकी वजह से बच्चों में बहुत सारे लक्षण दिखाई देते हैं जो सबसे पहला लक्षण है बच्चे की त्वचा का गाना पीला हो जाना बच्चे का पीलिया का पता आपको 72 घंटे के बाद ही ज्यादा पता चलता है अगर बच्चा बहुत ज्यादा सोता है और तेज होता है तो उनको पीलिया की परेशानी होती है अगर बच्चा सही तरीके से दूध नहीं पीता है तो भी उसको पीलिया की परेशानी होती है यदि बिलीरुबिन का देवल 25 ग्राम से ज्यादा हो जिसकी वजह से बच्चे का झंडा इमेज और मृत्यु भी हो सकती है इस अवस्था में बच्चे को फोटो थेरेपी में रखा जाता है इसलिए अगर आप घर पर हो और पता चलता है कि बच्चे को पीलिया है तो उसे तुरंत हॉस्पिटल लेकर जाना चाहिए यह फोटो थेरेपी एक प्रकार की ऐसी therepy पर होती है जिस पर नीली और हरी लाइट होती है जो यार लाइट बिलीरूबिन के अणुओं के आकार और संरचना को संशोधित करती है जिसके कारण बच्चे लैट्रिंग और सुसु करने लगते हैं फिर इसके द्वारा बिलीरुबिन की मात्रा बाहर निकल जाती है और अगर बच्चे की piliya बहुत गंभीर समस्या में हो तो उस समय बच्चे का थोड़ा सा ब्लड लिया जाता है और मां के रक्त में उपस्थित बिलीरुबिन और एंटीबॉडी स्कोर पतला करके से बच्चे की शरीर में डाला जाता है
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरी डिलिवरी को 1 मंथ हो गया अभी मुझे सर्दी जुखाम हो गया है क्या karu
उत्तर: आप हर्बल चाय ले या फिर पानी गरम करें उसमें नींबू और दो चम्मच शहद मिलाकर पिए यह भी आपको बहुत फायदा करेगा आप नमक डालकर पानी गरम करें और गरारे करें इस पानी से आपका कफ बाहर आएगा आप स्टीम भी ले सकती हैं इससे कफ तुरंत ढीला होता है और काफी आराम मिलता है आप गर्म दूध में हल्दी डालकर पी सकते हैं उससे भी आपको बलगम में काफी आराम मिलेगा गर्म सूप इसमें आपको राहत मिलेगी इसमें मौजूद प्याज लहसुन अदरक और काली Mirch जैसे मसालेदार पदार्थ आपके गले को काफी आराम पहुंचाएंगे
»सभी उत्तरों को पढ़ें