15 महीने का बच्चा

Question: मेरी डिलिवरी 18 अप्रेल 2017 को हुई हे मुझे ये दुसरे बेटी हे तों मुझे 6000 वाली योजना का लाभ मिलेगा या नही प्लीज़ बताइए क्योकी हॉस्पिटल में तो बोलते हे की पहली डिलेवरी वाली को मीलेगे

3 Answers
सवाल
Answer: हेलो, ये नरेंद्र मोदी जी की प्रधान मंत्री योजना है जो की खासकर गर्भवती महिलाओ के लिए है या फिर जो मायें दूध पिलाती है उनके लिए हैं। अगर आपकी डिलीवरी सरकारी अस्पताल में हुई है तो आप इस धनराशि को क्लेम कर सकती है या फिर अगर अपने क्लेम नहीं किया है और आप अभी स्तनपान कराती है और आपकी डिलीवरी सरकारी अस्पताल में हुई थी तो भी आप इस धनराशि की हकदार है. आपको इसके लिए पास के आंगनवाड़ी गृह में जा के क्लेम करना होगा। वो आपको फॉर्म भरवाएंगे और सही तरीका बताएँगे। ये योजना उन महिलाओ के लीई है जो अपना प्रसव सरकारी अस्पताल मे कराती है और गरीबी रेखा के नीचे आते है , इज योजना से महिलाओ को प्रसव और स्तनपान के समय मदद मिल जाएगी .
Answer: हमारे गरीबी रेखा का कुपन नही हे तो मुझे 6000 वाली योजना का लाभ नही मिलेगा
Answer: पर वो बोलते हि की दुश्री वाले को नही milte
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: मेरी पहली डिलिवरी सीजेरियन थी जो मई 2017 में हुई और मेरे एक बेबी हे but मैं अब फिर से प्रेगनेट हूँ 4 month हो गये हें मुझे कोई परेशानी तो नही होगी ना और बच्चे को भी plz answer
उत्तर: Hello dear.. Koi pareshani nahi hogi. Aap. tention free rahe.. achaa sochiye aacha hi hoga.. aapna pura dhyan rakhe . dawaiya samay pe le. Achaa poshtik ahaar len. paani piye all the best
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: हेलो मेम मेरी पहली डिलेवरी 18 अप्रेल 2015 को सिजर से हुई थी टु क्या दुसरी भि सिजर से हाइ होगी अभी मुझे 9 महीना चाल रहा हे
उत्तर: हेलों आपकी पहली डिलिवरी सी सेक्शन से हुई थी आपका अगली डिलिवरी कैसे होगी यह पूरी तरह आप पर निर्भर करता है, की आप अपनी दूसरी प्रेगनेंसी कब प्लान करना चाहती है। अगर आपकी उम्र 30 साल से कम है तो आपको नार्मल डिलीवरी में कोई दिक्कत नहीं आनी चाहिएlअगर आपका पहला बच्चा सी सेक्शन से हुआ था तो आपका होने वाले बेबी के सी सेक्शन होने के चान्सेस बेध जाते है क्योकी नॉर्मल डिलिवरी के लिए एक लेडी को काफी फोर्स लगाना पड़ता है फोर्स लगाने से स्टिचेज खुल जाने या स्टिचेज में कुछ प्रॉब्लम आ सकती है कभी कभी डाक्टर ऐसे केस में नॉर्मल डिलिवरी के लिए ट्राइ करते है जब पहले बेबी और होने वाले बेबी में ज़्यादा साल का ऐज gape हो सी सेक्शन के बाद नॉर्मल डिलिवरी हो सकती है यदि प्रेगनेंसी में कोई दिक्कत न हो  सभी प्रकार की जांच नार्मल हो  बच्चे का वजन 3.5 किलो से अधिक न हो  महिला की लंबाई 154 सेंटीमीटर से अधिक होना चाहिए  महिला को अधिक मोटापा नहीं होना चाहिए समय  par पौष्टिक आहार और नियमित व्यायाम करना आवश्यक हैं।  नॉर्मल डिलिवरी के लिए आपके बॉडी में हेमोग्लोबिन लेवल 11 से 13 होना चाहिए इसलिए आप आयरन से भरपूर खाना अनाज हरी पत्तेर्दार sabjiya चना अनार एपल चुकन्दर ड्राइ फ्रूट्स खायें पानी खूब दिन में 10 से12 ग्लास पानी पीये लिक्विड फ़ूड नारियल पानी ज्यूस पीये आवरऑल ऍक्टिव रहें वॉक योगा मेडिकेशन करे स्ट्रेस ना ले पॉजिटिव रहें
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरी डिलिवरी प्राइवेट हॉस्पिटल में हुई है क्या ये योजना का लाभ मुझे मिल सकता है
उत्तर: ये योजना सिर्फ़ सरकारी अस्पताल मे प्रसव कराने वाली महिलाओ के लिए है
»सभी उत्तरों को पढ़ें