27 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: मेरी टाँग मे दर्द रहता है

1 Answers
सवाल
Answer: हेलो डियर आप परेसान ना हों पेट में बेबी होने के वजह से पूरा भार पैर पे ही पड़ता है इसलिए पैर में दर्द होता है आप पैर में गुनगुने तेल से मलीस करें ऑर उनचि हिल के सेन्दिल ना पहनें सिम्पल फ्लैट्स स्लीपर पहनें इस्से आपके पैरों ऑर एड़ियों को आराम मिलेगा व्यायाम करें ऑर मॉर्निंग वाक करें सोते टाइम पैर में तकिया लगाकर सोएं इसे आपको दर्द में कुछ आराम मिलेगा
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: मेरी एक टाँग मे काफी दर्द rhe
उत्तर: गर्भवस्था के दौरान बहुत साडी परेशानिओ से गुजरना पड़ता है उनमे से ये पैरो में दर्द प्रमुख समस्या है और ये दर्द रात में और बढ़ जाता है इस समय वजन बढ़ जाने के कारन पैरो में दर्द होता इससे आपका पुरे शरीर का वजन पैरो पर पड़ता है और पैरो में थकन होती है इस दौरान आपका गर्भाशय का आकर बढ़ जाता है जिसके कारन पैरो कि नसे डाब जाती है और वह तक ब्लड अच्छे से नहीं पहुँच पात इस दौरान आपके शरीर में मैग्नेसीउम्, पोतसीउम्, कैल्सियम कि कमी हो जाती है इससे कारन दर्द होता है दरद से रहतpane का सबसे अच्छा उपाय एक्सरसाइज है स्ट्रेचिंग करना आपको सुबह शाम लाभदायक होगा पईड़ो के दर्द से रहत paneके लिए आप रात में सोने से पहले हलके गरम पानी मी३०मिनट डूबकर रखे बहुत आराम मिलता है इस दौरान आप अपने पैरो को मोड़ कर ज्यादा देर नाबैथे
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरी कमर मे दर्द रहता है
उत्तर: पेट का भार लगातार नीचे की ओर होता है, इसलिए इस समय मांसपेशियों का पर दबाव ज्‍यादा होता है महिला के अंदर हर समय हो रहे हार्मोन में बदलाव भी दर्द का कारण बनते हैं दर्द को अगर कम करना है तो रात को सोते समय पीठ के बजाय करवट लेकर ही सोएं कमर पर कम दबाव पडें, इसके लिए अपने घुटनों के नीचे तकिया लगाकर सोएं, अपने घुटनों के बीच तकिया लगाकर सोने से भी आप कमर दर्द से बच सकते हैं इस समय हल्‍के तथा ढीले-ढाले कपड़े पहनने चाहिये, टाइट कपड़े पहनने से शरीर में खून का दौरा कम होने लगता है और इसी कारण मांसपेशियां दर्द होने लगती हैं, इसलिए सूती के आरामदायक कपड़े ही पहनने चाहिये, इसी के साथ हाई हील चप्‍पलें या जूते भी कमर की मांसपेशियों पर असर डालते हैं, जिस कारण दर्द होता है.
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरी एक टाँग मे बहुत दर्द रहता हें
उत्तर: हैलो डियर---कभी-कभी मांसपेशियों और हड्डियों पर पड़ने वाले दबाव के कारण पैरो मे दर्द के साथ सूजन और ऐंठन भी हो सकती है यह दर्द और सुजन बच्चे के जन्म के साथ ही खत्म हो जाता है यह कभी किसी तो कभी किसी पैर में होता है यह परेशानी ज्यादातर प्रेगनेंसी में महिलाओं को होता ही है यह दर्द गर्भाशय में बच्चे के बढ़ने के कारण पड़ने वाले दबाव के कारण होता है दर्द से राहत के लिए आप पैरों और तलवों में हल्के गुनगुने सरसों तेल से मालिश ले सकती हैं नमक कम खायें।पैर के नीचे तकिया लेकर सोऐं।दर्द वाले की स्थिति में आप ज्यादा देर तक चले नहीं ना खड़े हो आपको आराम करना चाहिए और आपको फ्लैट आरामदायक नरम चप्पले पहननी चाहिए
»सभी उत्तरों को पढ़ें