39 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: मेरी कमर में दर्द रहता ह कोई उपाय बताएं

2 Answers
सवाल
Answer: हेलो डियर अगर कमर में दर्द होता है तो अपने कमर की हॉट वॉटर बॉटल से सिकाई कीजिए और गर्म तेल से मसाज कराइए जब कभी भी बैठी है तकिया लगा कर बैठी है इसके अलावा कमर दर्द बहुत ही कॉमन है प्रेगनेंसी के दौरान क्योंकि सारे लिगामेंट्स खींचते हैं इसी वजह से कमर में दर्द होता है और बच्चा भी प्रेशर काफी डालता है वैसे भी आपका 39 वीक चल रहा है बच्चा अच्छा खासा बड़ा हो गया होगा और पीछे की तरफ भी काफी प्रेशर डाल रहा होगा इसी वजह से आपको कमर दर्द हो रहा है
Answer: हेलो डियर इस दौरान पीठ में दर्द होना बहुत आम है. एक ही अवस्था में बहुत देर तक बैठने या खड़ी होने से बचें बाल्म लगाकर गरम पानी से सिकाई कर लिजिए। हल्का काम ओर थोड़ा बहुत घुमने भी जाइए। केल्शियम कि टेबलेट जो डॉक्टर ने दि हैं वो लिजिए समय पर। प्रेग्नेंसी में ऐसा होता है। गर्म पानी से सिकाई करें। रात को सोते समय पैरों के नीचे तकिया लगाकर सोये।
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: mujhe kamar me bhut jyda drd rhta h.. koi upay btaye..
उत्तर: प्रेगनेंसी के मंथ में हमारे कमर पर जोर पड़ता है जिससे कमर दर्द, पीठ दर्द, पैर दर्द, पसलियों मे दर्द की शिकायत होती है। दोनो पैरो के बीच में तकिया लेकर सोये। इससे बहुत आराम मिलेंगा। आप सरसो के तेल से हलकी हलकी मालिश भी कर सकती है। कमर के दर्द पीठ और पैरो के दर्द के लिए सरसो का तेल बहुत फायदेमंद रहता है। आप थोड़ा जयाद अराम किया कीजिए. जयाद देर खड़े होकर और जयाद झुक कर काम करना अवोइड कीजिए .. खाने पीने मे पोष्टिक अहर लीजिए अगर दर्द कमज़ोरी से हुआ तो वह खाने पीने में धयान देन से ही ठीक हो जायेगा. अगर आपको ज्यादा दर्द है तो आपको डॉक्टर की सलाह जरूर लेनी चाहिए।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: Mam Meri pid me drd rhta he koi upay bayaiye
उत्तर: हेलो आपका बैक पेन एक ही पोजीशन पर ज्यादा देर रहने के कारण है। एक ही पोजीशन पर ना ज्यादा देर सोना है ना बैठना है और नहीं ज्यादा देर खड़े होना है। पेट का भार ज्यादा हो जाने के कारण एक ही पोजीशन पर रहने से हमारे बैंक पर खिंचाव होता है और जिसके कारण दर्द होता है और पैरों पर भी ब्लड सरकुलेशन अच्छे से नहीं हो पाता इसलिए पैरों पर भी दर्द होता है। आप कोई भी पेन बाम को सरसों तेल मिलाकर बैक पर लगवाए और पैरों पर लगाएं। नहाने के गुनगुने पानी में नमक डालकर नहाए। सोने से पहले गुनगुने नमक पानी से पैरों की सिकाई करें। पैरों को सिर के लेवल से थोड़ा ऊपर रखें पैरों के नीचे तकिया रख ले। ज्यादा देर खड़ी ना रहे आराम करें रात में सोने से पहले गुनगुने दूध में थोड़ा सा हल्दी मिलाकर पिए। आराम मिलेगा
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: Mam Meri pid me drd rhta he koi upay btaiye
उत्तर: हेलो डिलीवरी के बाद मां के शरीर में कैल्शियम की कमी हो जाती है। जिसके कारण शरीर में और खासकर हड्डियों में दर्द होता है। नॉर्मल डिलीवरी के बाद भी शरीर में बहुत दर्द होता है डिलीवरी के समय दो-तीन घंटे के दर्द से शरीर थक जाता है और यह थकावट डिलीवरी के बाद दर्द के रूप में सामने आता है। इसलिए डिलीवरी के बाद 3 महीने तक सुबह और शाम शरीर की मालिश होना जरूरी होता है आप शरीर में कैल्शियम की कमी पूरी करने के लिए हल्दी दूध ले। ड्राई फ्रूट लड्डू खाएं जिसमें गोंद घी हल्दी और सोंठ डाला हो। सुबह शाम सरसों तेल से शरीर की मसाज कराएं। मसाज करने से आपको बहुत आराम मिलेगा और आप की शरीर की थकावट जल्दी दूर हो जाएगी
»सभी उत्तरों को पढ़ें