18 weeks pregnant mother

मेरी एन.टी. स्कैन में low laying palcental

सवाल
आप बिल्कुल भी घबराए नहीं और डॉक्टर के निर्देशों का ध्यान से पालन कीजिए.. Placenta एक ऐसा ऑर्गन है जो बच्चे को माता से ब्लड सप्लाई करता है और न्यूट्रीशन पहुंचाता है। इसकी पोजीशन यूट्रस में कहीं भी हो सकती है यह तो ऊपर छतरी के सामान रहेगा या आगे या पीछे या फिर कभी कभी किसी किसी केस में yeh नीचे की ओर भी अटैच हो जाता है। लो प्लेसेंटा होने की स्थिति में ज्यादातर माताओं को आराम करने की सलाह दी जाती है, क्योंकि बच्चा जैसे-जैसे ग्रोथ करता है, उसका दबाव प्लेसेंटा पर पड़ता है और आपको कभी भी ब्लीडिंग स्पोटिंग होने की संभावना रहती है। इसलिए हमेशा माताओं को आराम करने की सलाह दी जाती है । इस केस में माताओं को ज्यादा झुक कर और ज्यादा देर खड़े रहकर काम नहीं करना चाहिए ज्यादा exertion वाले एक्सरसाइज और योगा और वाकिंग भी नहीं करनी चाहिए। लो प्लेसेंटा ज्यादातर स्कैन के द्वारा शुरुआती महीनों में ही पता चल जाता है यह प्रेगनेंसी के अंत अंत तक ठीक भी हो जाता है। क्योंकि हमारी यूटरस का साइज़ बढ़ता है और प्लेसेंटा नीचे से साइड की तरफ शिफ्ट हो जाता है। इसमें घबराने की कोई बात नहीं है इसमें आपको हमेशा नॉर्मल डिलीवरी अवॉइड करने की सलाह देते हैं क्यूकी प्लेसेंटा सर्विक्स को कवर करके रखता है और नॉर्मल डिलीवरी के केस में बच्चा पहले निकलना चाहिए उसके बाद प्लेसेंटा लेकिन लो प्लेसेंटा के केस में प्लेसेंटा पहले होता है और बच्चा बाद में इसलिए हमेशा सी सेक्शन करने की सलाह दी जाती है। डॉ इस समय पर इंटर कोर्स करने से भी हमेशा मना करते हैं पूरी प्रेगनेंसी में आपको अपना खास ध्यान रखना पड़ता है अब ज्यादा हैवी सामान भी नहीं उठाई है आराम कीजिए और पौष्टिक आहार लेते रहिए हल्की वॉक कर सकते हैं।
  • avatar
    amita sood41 days ago

    thanks

  • avatar
    Pallavi Shukla Jaitly41 days ago

    placenta previa कण्डिशन me क्या humesha operation होता है नॉर्मल डिलिवरी नही होती ?

  • avatar
    Pallavi Shukla Jaitly41 days ago

    placenta previa कण्डिशन me क्या humesha operation होता है नॉर्मल डिलिवरी नही होती ?

  • avatar
    Pallavi Shukla Jaitly41 days ago

    placenta previa कण्डिशन me क्या humesha operation होता है नॉर्मल डिलिवरी नही होती ?

समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: एन.टी. स्कैन किस वीक में करवाना chaiye
उत्तर: हैलो आप ये एन टी स्कैन करवा सकती है इसमे आप बिलकल भी परेशान ना हो क्योकि ये स्कैन आपके बच्चे के लिए सुरक्षित है ।। ये आमतौर पे बच्चे के स्वास्थ जैसे एनीमिया हदय की समस्या बच्चे मे डाउन सिडोम की समस्या को जानने के लिए करवाया जाता है । यह स्कैन गभावस्था के पहली तिमाही मे भी करवा सकते है आप अपने डाक्टर से भी परामस करे।।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: एन.टी. स्कैन क्या h
उत्तर: हेलो एनटी स्कैन आमतौर पर बच्चे को जन्म देने से पहले कराया जाता है। हालांकि यह यह गर्भवती महिला की इच्छा पर निर्भर करता है कि वह एनटी स्कैन कराना चाहती है या नहीं। न्यूकल ट्रांसलुसेंसी स्कैन कराने से बच्चे के स्वास्थ्य जैसे एनीमिया, हृदय में समस्या और जेस्टेशनल डायबिटीज सहित बच्चे में डाउन सिंड्रोम के भी लक्षणों का पता चल जाता है। यह स्कैन प्रेगनेंसी की पहली तिमाहीमें कराया जाता है। एनटी स्कैन के माध्यम से बच्चे की सेहत एवं गुणसूत्र में असामान्यताओं के बारे में बहुत आसानी से पता चल जाता हैl एनटी स्कैन पूरी तरह से सुरक्षित है। इस स्कैन के दौरान गर्भवती महिला को किसी तरह का दर्द नहीं होता है। यह स्कैन कराने से गर्भवती महिला के बच्चे को भी कोई नुकसान नहीं होता है।यह स्कैन गर्भावस्था की पहली तिमाही में कराना ज्यादा फायदेमंद होता है क्योंकि इस दौरान बच्चे में कोई असमान्यता होने पर वह स्कैन में सही तरीके से पता चल जाता है ।एनटी स्कैन कराने का सबसे बड़ा फायदा यह है कि गर्भावस्था के शुरूआत में ही बच्चे में डाउन सिंड्रोंम का निदान हो जाता है जिससे डॉक्टर से समय रहते ही इस समस्या के उपचार के लिए सलाह ली जा सकती है।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: एन.टी. स्कैन क्या है
उत्तर: हैलो आप ये एन टी स्कैन करवा सकती है इसमे आप बिलकल भी परेशान ना हो क्योकि ये स्कैन आपके बच्चे के लिए सुरक्षित है ।। ये आमतौर पे बच्चे के स्वास्थ जैसे एनीमिया हदय की समस्या बच्चे मे डाउन सिडोम की समस्या को जानने के लिए करवाया जाता है । यह स्कैन गभावस्था के पहली तिमाही मे भी करवा सकते है आप अपने डाक्टर से भी परामस करे।।
»सभी उत्तरों को पढ़ें