9 महीने का बच्चा

Question: मेरा baby बॉय 8 महिने का हे उसको 6 दिन से सर्दी हो रही है डॉक्टर से दवाई बी लि है पर अभी भी उसको अराम नही है नाक आ रही है उसको क्या करु कुछ बँटाइए

4 Answers
सवाल
Answer: आपका बेबी अभी 8 month का है और उसे cough,cold हुआ है, आप चिंता ना करें.थोड़ा भी weather चेंज होने से कोल्ड और कफ aur jhukam की परेशानी होने लगती है ,इसलिए .कुछ चीज़ का ध्यान रखे जैसे सर्दी खासी जुकाम होने पर आप बच्चे को ज्यादा से ज्यादा अपना दूध पिलाने की कोशिश करें शाम होते ही बेबी को गरम कपड़े पहना का रखे ,1कटोरी सरसों तेल मे अजवाइन और लहसन ki5-6 कली को पका ले फिर उसी तेल से दिन मे 3-4 बार मालिश करे .लहसन और अजवाइन को तवे पर सेक कर muslin के कपड़े मे बाँध कर पोटली बना दे और बेबी के बेड के पास रख दे ,इससे भी बेबी का कोल्ड जल्दी ठीक होगा . बाथरूम मे गरम पानी का स्ट्रीम भर दे और बेबी को लेकर thori देर बैठे ऐसा करने से उसका बन्द नाक खुल jayega और उसे राहत भी मिलेगी रात मे सोते समय पैर के तलवे मे विक्स से मालिश करकें सॉक्स पहना दे इससे भी शरीर गरम रहेगा और बेबी जल्दी ठीक हो jaaega.
Answer: २ से ३ लहसुन की कली को आधा चम्मच अजवाइन क साथ पीस कर उसकी पोटली बना दे. और उसको बच्चे के सोने की जगा के बाजु में रखे , ऐसे रखे की उसकी स्मेल उसे आये पर वो उसको डायरेक्ट टच न हो. आप उसके सोने की जगा क आजु बाजु २- ४ ड्रॉप्स नीलगिरि आयल बी लगा सकते हो. उसकी स्मेल से भी उसे रहत होगी. बच्चे को ज्यादा ब्रैस्ट फीडिंग करवाते रहे. एक बर्तन में 2 ग्लास जितना पानी ले| उसमें एक छोटा चम्मच अजवाइन थोड़ा हल्दी पाउडर एक छोटा टुकड़ा अदरक थोड़े तुलसी के पत्ते चुटकी भर मरी का पाउडर डालकर उसे अच्छी तरह से उबालें| उसे जान कर रख ले और दिन में दो से तीन बार एक छोटे चम्मच इतना बच्चे को दें| इससे बच्चे को सर्दी में काफी राहत मिलेगी|
Answer: आप पहले यो नसोक्लेअर यूज़ कीजिए 2 या 3 din me बन्द हो जाएगी नाक बहन और घूरे दि उसमें 6 दाने अध्यन जारा सी हींग और 20 20 बार काजु बादम chhuhara और जयफर घिसे और 2 kismis घूति सर्दी ठीक होगी मैं आपने बच्चे को देती हु सही होता एच
Answer: और सोते टिम अज्वयन और लहसुन का टल लाग दि
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: मेरा बेबी 10 महिने का हे उसको बहुत दिन से सर्दी खासी हों रही हे इसका कुछ घरेलू उपऐ बटाये
उत्तर: हेलो आपका बेबी 10 महीने का है बच्चे को जुखाम है nebulize करवायें बच्चे को राहत मिलेगी बच्चों का इम्यून सिस्टम बहुत कमज़ोर होता है जीस्से उन्हें कफ और कोल्ड हो जाता है.मौसम में बदलाव के कारण सर्दी खासी आने पर आप बच्चे को गरम रखें l ऐसे कपड़े पहनाये की हलकी गर्माहट बनी रहें l रूम को भी गरम रखने का प्रयास करे lसोते टाइम सर हल्का उंचा कर के सुलाये,बच्चे को आराम मिलेगाl बच्चे को आराम करवायें बच्चा जीतन आराम करेगा उतनी जल्दी ठीक होगा lखाने में गरम चीज़ों का यूज़ करे l आप उसे घी और कपूर का मिश्रण लगा सकते है। पहले घी ले और उसे हल्का गर्म करें, फिर उसमे कपूर के कुछ टुकड़े डाल दें और पिघलने दें। ठंडा हो जाने के बाद इसे आप उसकी छाती, पीठ और तलवे पर लगाएं। उसे आराम मिलेगा। आप उसे सरसों के तेल को गर्म कर उसमे अजवाइन और लहसुन डालें ,फिर जब वह ठंडा हो जाए तो उसे उसकी छाती और पीठ पर अच्छी तरह से लगाएं।अगर आप ब्रेस्ट फीड माँ है तो खाने में सन्तुलित और हेल्थी चीज़ें खायें जिसके कारण बच्चे को न्यूट्रिशन मिल सकें और बच्चे को पानी की कमी ना हो lबच्‍चों के लिए सुरक्षित वेपर रब का इस्‍तेमाल करें। वेपर रब से बच्‍चे की नाक, छाती, गला और कमर पर मालिश करें। इससे बच्‍चों को सुकून भी ठंडक का अहसास होता है और उन्‍हें सांस लेने में आसानी होती है।बच्चे को संक्रमण से बचाने के लिये अपना और बच्चे का हाथ साफ रखे। बच्चे को कुछ खिलाने से पहले हैण्ड वाश करेlबच्चों के सर्दी-खांसी में अजवाइन का काढ़ा पिलायें।सर्दी-खांसी के दौरान सूप बहुत आरामदायक भोजन होता है। आप सब्जियों का गर्म सूप ,चिकन सूप दे सकती हैं। ये सूप बच्चे की प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाते हैं।जीरे और मिश्री दोनों को महीन पाउडर में पीस लें। जब भी आपके बच्चे को खांसी आती है तो उसे यह मिश्रण दे बच्चे के खाने में हल्दी हीङ्ग का प्रयोग करे बेबी को कुछ दिन फ्रूट्स चॉकलेट ठण्डी चीज़ें घी देना अवोइड करे ये कफ को badhate है बच्चे को कुछ देर सँवरे 8 से 10 बजे की धूप में ज़रूर ले जायें ताकि बच्चे को सूर्य के प्रकाश से विटामिन डी मिलें विटामिन डी बच्चे के सर्दी को कम करने और ग्रोथ में हेल्प फूल हैlडायपर समय पर बदले प्रोबेल्म ज़्यादा हो तो डोक्टर से सलाह ले .
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: है ैलो मैम मेरा बेटा 6 महीने 18 दिन का हे उसे सर्दी खाँसी हो गाई ह ठीक नहीं हो रही दवाई से भी घरेलू उपाय बँटाइए
उत्तर: हेलो डियर अभी आप का बेबी बहुत छोटा है , इसलिए आप कुछ घरेलू नुस्खे अप्लाई कर ें जिससे बेबी को फर्क पड़ेगा जैसे आप बेबी की लिक्विड टाइट बढ़ा दीजिए, जितना हो सके ब्रेस्ट मिल्क दीजिए.. गुनगुना पानी पिलाते रहिए.. बेबी को स्लांटिंग पोज़िशन पर ले ट आइए जिससे वह अच्छी तरह से सांस ले पाए और उनकी नोज ब्लॉक ना हो... जब बेबी सो रहे हो तो रूम में स्टीमर चला कर छोड़ दें ं .. ध्या न रख ें बेबी के पास या बेबी के मुंह पर स्टीम नही ं देनी है, बेबी के थोड़ी दूर पर स्टीमर रख दे... 15 से 20 मिनट रूम में स्टीमर चला कर बंद कर दीजिए... बेबी को ऐसी से दूर रखें.... फैन नॉर्मल ही चलाएं... अगर आप ऐसी चला रहे हैं तो बेबी को फुल स्लीव्स के कपड़े पहनाए. बेबी की नोज को साफ रखें. आप 3 से 5 पीस लहसुन के लीजिए और उसे छीलकर एक काले धागे में पिरो दीजिए... रात को सोते वक्त बेबी के गले में या तकिए पिलो के पास रख दीजिए.. लहसुन की स्मैल से बेबी की नोज भी खुली रहेगी और उनका कोल्ड भी ठीक हो जाएगा... दो -तीन दिन मैं फर्क ना पड़े या बेबी को फीवर हो जाए तो अपने डॉक्टर से कंसल्ट करें .
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मुझे कुछ दिनों से बतहरुम बाली जगें पे बहुत खुजली हो राही है मि क्या करु मेन दवाई भि ले लि पर कुछ अराम नही है आप कुछ घरेलू उपाय बँटाइए plz .
उत्तर: हेलो डियर अगर आपको यूरिन में इंफेक्शन हो रहा है या पेन हो रहा है या इचिंग हो रही है तो उसका बहुत बड़ा कारण क्लीनिंग है आप अपने प्राइवेट पार्ट्स की प्रॉपर क्लीनिंग करे जब भी आप वॉशरूम जाए अपने प्राइवेट एरिया को हमेशा ड्राई रखें टिशू पेपर से हमेशा उसको क्लीन करें प्राइवेट पार्ट्स को कभी भी वेट नहीं rakhe क्योंकि वेट होने से भी कुछ इचिंग या हल्का सा इंफेक्शन ho jata hai इसलिए प्रॉपर क्लीनिंग का बहुत ध्यान रखें और जो भी आप पेंटीज यूज करें प्रॉपर कॉटन की अच्छी क्लॉथस की यूज़ करें एंड पानी भी कुछ ज्यादा पिए खाने की डाइट मेंटेन करें , नहाने के लिए जो जो साबुन आप यूज करती है उसी साबुन से आप अपने प्राइवेट पार्ट को भी क्लीन करिएl कोई भी खुशबू वाली चीज लाइक डियो और परफ्यूम v wash na यूज करें l नहाने टाइम कुछ बूंदे नींबू के रस की पानी में मिला लीजिए इसके अलावा नीम की पत्तियों को पानी में बॉईल कर लीजिए और उस पानी को अपने नहाने वाले में पानी में मिलाकर नहाई ए इससे क्योंकि नीम एंटीबैक्टीरियल का काम करता है आपको इचिंग me आराम मिलेगा|
»सभी उत्तरों को पढ़ें