गर्भावस्था की तैयारी

Question: मेरा periads इनरगुलर ह इसका कोई उपाय

2 Answers
सवाल
Answer: डॉक्टर से अपने टेस्ट करायें , टेस्ट से आपको पता लग जाएगा की आपको पिरियड रेग्युलर क्यू नही है , डॉक्टर आपके पिरियड रेग्युलर करने के लिय आपका इलाज करेंगी , . आजकल ये बहुत कॉमन हो गया है , पिरियड टाइम मे ना आना और उसकी वजह से कन्सिव करने मे प्रॉब्लम आना , पर ये कोई ऐसी बिमारी नही है जो ठीक ना हो पाये . ..आप बस अपनी लाइफ स्टाइल बदले , रोज सुबा और शाम 30-30 मिनट वॉक करे , वज़न जयाद है तो कम करे. आप कन्सिव कर लेंगी .
Answer: मेरा पिरियड इररेग्युलर हे इसका कोई उपाय बताये
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: मेरा लैटिन ठीक स नही हो रहा ह कोई उपाय ह इसका तो बताई
उत्तर: hello dear ho sakta hai kabj ki wajah se aapka pet saaf nahi ho paa raha ho to aap iske liye ye upaay apna sakti hai हर रोज उच्च फाइबर युक्त भोजन खाएं जैसे कि सीरियल्स और दलहन (राजमा, छोले, रागी), साबुत अनाज की ब्रेड जैसे कि पूर्ण अनाज की चपाती और ताजा फल व सब्जियां। फल जैसे कि अमरूद, सब्जियां जैसे कि गाजर और फूलगोभी में उच्च मात्रा में फाइबर होता है। अगर आप पहले से कम फाइबर वाले आहार का सेवन करती रही हैं, तो धीरे-धीरे अपने आहार में फाइबर की मात्रा बढ़ाएं, ताकि आपका शरीर इस बदलाव के लिए तैयार हो सके। अचानक से उच्च फाइबर युक्त आहार लेने से आपको शायद पेट में मरोड़ हो सकते हैं और आपको फुलावट महसूस हो सकती है। जब आप अधिक फाइबर वाले भोजन खाती हैं, तो यह भी महत्वपूर्ण है कि आप पर्याप्त मात्रा में तरल पदाथ लें, वरना इससे कब्ज और बढ़ सकती है। रिफाइंड भोजन जैसे कि इंस्टेंट नूडल्स आदि का सेवन कम कर दें। मैदा का इस्तेमाल आमतौर पर सफेद ब्रैड, पूरी, कुलचा, नान, केक और बिस्किट बनाने में किया जाता है। अगर, ये खाद्य पदार्थ आपके रोजमर्रा के आहार के हिस्सा हैं, तो बेहतर रहेगा कि आप मैदा की बजाय इनके पूर्ण अनाज या आटे वाले विकल्प का चयन करें।  खूब सारा पानी पीएं, कम से कम एक दिन में आठ से 12 गिलास। आप ताजा फलों का रस, नारियल पानी, छाछ, नींबू पानी और लस्सी जैसे पेय लेकर भी अपने तरल पदार्थ के सेवन की मात्रा बढ़ा सकती है। माना जाता है कि सुबह-सुबह गुनगुने पानी में नींबू का रस डालकर लेने से मलत्याग में आसानी रहती है। व्यायाम करें! चहलकदमी, तैराकी, स्थिर साइकिल को चलाना और योग आदि सभी कब्ज से राहत दिलाने में मदद कर सकते हैं। साथ ही आप अधिक तंदुरुस्त और स्वस्थ महसूस करेंगी। यह जरुरी है कि आप ऐसे व्यायाम करें जो आपके तंदुरुस्ती के स्तर के अनुकूल हों। खुद को बहुत ज्यादा न थकाएं।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मुझे बहुत जादा उलति होती इसका कोई उपाय बँटायें 3 महीना चल रहा ह
उत्तर: hello dear उल्टी होना गर्भावस्था में आम बात है। अगर आपकी उल्टी सामान्य है तो घबराने की कोई बात नहीं लेकिन अगर आपको बहुत अधिक उल्टी हो रही है तो तुरंत आपको अपने डॉक्टर से सलाह लेनी चाहिए. आप चाहें तो इन घरेलू उपायों को भी आजमा सकती हैं. आप ज्यादा से ज्यादा तरल पदार्थो का सेवन करना चाहिए।  गर्भावस्था के दौरान अगर लगातार उल्टी हो रही हो और जी मिचला रहा हो तो सूखी धनिया या फिर हरी धनिया को पीसकर उसका मिश्रण बना लें. समय-समय पर ये मिश्रण गर्भवती को देते रहें. ऐसा करने से कुछ समय बाद उल्टी आनी बंद हो जाएगी.आप चाहें तो इसमें काला नमक भी मिला सकती हैं.  जीरा, सेंधा नमक और नींबू के रस को मिलाकर एक मिश्रण तैयार कर लें. कुछ-कुछ देर में इसे चूसते रहें. ऐसा करने से उल्टी काबू में आ जाएगी.
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरा सफ़द पानी पड़ता बदबु बी बुहत आती ह इसका कोई कारण तो नही ह
उत्तर: हेलो डियर, प्रेगनेंसी में सफ़ेद पानी का निकलना काफी आम बात है जो हर महिलाओं में सामान्य रूप से दिखाई देता है, ये तब तक सामान्‍य है जब तक की इसमें से गंध न आने लगे और इसका रंग लाल न हो जाए सफ़ेद पानी से आपके बच्चे को कोई खतरा नही है , बल्कि सफ़ेद पानी की वजह से आपके गर्भाशय को बाहरी बिमारियों से बचता है , जिसऐ आपका बेबी सुरक्षित रहता है , अगर कभी आपको लगें की पानी के साथ खुजली या बदबु है टु डॉक्टर को ज़रूर दिखायें हो सकता है किसी प्रकार का इन्फेक्शन हो . सफ़ेद पानी के लीई आप घबराये नही , ऐसा मेरे साथ भि हुआ है प्रेगनेन्सी मे .ऐसा मेरे साथ भि हुआ है प्रेगनेन्सी मे और बहुत सी महिलाओ के साथ भि होता होगा . चिन्ता ना करे .
»सभी उत्तरों को पढ़ें