33 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: मेरा प्लेगेन्त निचे है ऑर पेट मि दरद भि होता है क्या karu

2 Answers
सवाल
Answer: iska matlab aapka placenta niche gharbhasye ke muh ki taraf juda h. placenta aapke grbhasye ki diwar and bache ki nabhi se juda hota h.ye bache ko khana pani provide karta h. jab ye niche ki taraf ho to aapko savdhabi bartni chahia. jese bhari kaan na kare, vajan na uthaye, jaya chale fire nahi, sex na kare. nahi to bleeding ho sakti h. aur ye koi bimari nahi h placenta kahi pe hi jud sakta h. aapke abhi niche h par time ke saathbye upar bhi aasakta h. islia chinta ki koi baat nahi. mera bhi 15 week me pleceta niche ki traf tha par 20 week me upar aagaya tha.islia aapka nhi jab next scan karaoge tab tak upar aajayega. aap tenson free rahiye.
Answer: हेलो डियर placenta आपका नीचे है तो आपको पूरा आराम करना चाहिए बहुत देर खड़े होकर कोई भी काम ना करें और आपको दर्द का हल्का है तो कोई बात नहीं लेकिन अगर यह दर्द थोड़ा भी ज्यादा हो रहा है और रुक रुक के बढ़ता जा रहा है या किसी प्रकार की बिल्डिंग है या वॉटर ब्रेक है तो तुरंत डॉक्टर के पास जाएं
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: मुझे पेट ऑर कमर मि दरद होता है क्या karu
उत्तर: हेलो डियर प्रेगनेन्सी मे कमर दर्द होना नॉर्मल है ये एक प्रकार का लक्षण होता है जो की प्रेगनेंसी मे आम है | बेबी का वेट बढ़ने की वजह से आप के बॉडी और कमर पर इसका सीधा पड़ता है जिस से कमर दर्द होना शुरू हो जाता है | जब भी आप को कमर दर्द हो आप पीठ के बल ना सो कर बाई करवट लेकर सोयें | एक ही पोजिशन मे लगातार ना खड़े रहें और ना ही बैठे | हाई हील के जूते चप्पल ना पहनें | संतुलित भोजन वा पर्याप्त नींद लें | गुनगुने सरसों के तेल से मालिश करें | गरम पानी की बोतल से सीकाई करें |
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: माम मुझे लोअर पेट मि दरद रहटा है ऑर बैक मि बी पेन होता है गैस bhi बहुत जादा बंटी है पेट दरद कबी भि हाॅन लागत है अचानक से क्या karu
उत्तर: Hello प्रेगनेंसी में गैस बनना बहुत ही सामान्य बात है आप घबराएं नहीं. प्रेगनेंसी में प्रोजेस्ट्रोन हार्मोन में भी बढ़ोतरी होने की वजह से गैस और कब्ज की दिक्कत होती है. जब प्रोजेस्ट्रोन का लेवल बढ़ता है तो गेस्ट्रो इंटेस्टाइनल ट्रेक धीमा पड़ जाता है .तब खाया गया खाना बहुत धीमे धीमे पचता है और गैस और कब्ज की शिकायत होने लगती है. अगर आप गैस की प्रॉब्लम और कब्ज की प्रॉब्लम से बचना चाहती हैं तो बहुत ही सादा खाना खाएं और समय पर खाएं और अपने खाने में फाइबर जैसी चीजों को ज्यादा ले घरेलू उपचारों से आप को बहुत आराम मिलेगा. जैसे जीरे का शरबत बनाकर रखें एक गिलास पानी में एक चम्मच कच्चा जीरा पीस के डालने पर शक्कर डालने| चित्र खोलकर रख लें दिन भर में थोड़ा थोड़ा पिया. खाना खाने के बाद आधा चम्मच अजवाइन का चूर्ण ले ले| ध्यान रखें आपका पानी पीना बहुत जरूरी है. इससे भी आपको गैस में राहत मिलेगी. अपनी नींद समय पर ले कोई भी भारी खाना बहुत सारा एक साथ ना खाएं. खाना चबा चबा कर खाएं . दिन भर में थोड़ा-थोड़ा खाते रहे. प्रेग्नेंसी में (लोअर एब्डोमिनल )पेट के निचे daard कभी कभी होता है। Lower abdominal मतलब कि पेट के नीचे की तरफ अगर आपको दर्द हो रहा है तो उसका kard यह है कि आपका यूट्रस अब बढ़ रहा है. राउंड लिगामेंट्स में खिंचाव होने के कारण आप नीचे की तरफ दर्द महसूस करती हैं और यह दर्द फर्स्ट ट्राइमेस्टर में बहुत ही नॉर्मल है. अपना ध्यान रखे । भरी सामान नहीं उठए। बहुत समय तक खड़े नहीं रह। बैठा ते समय या लेते समय आपने पैरो को ऊपर की और थोड़ा ucha रखे। Paani बहुत पिए । पोषतीक और हल्का आहार ले। Jyada दर्द होने पे तुरंत ही डॉक्टर को दिखाए। take care
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मुझे पेट के निचे भऊत दरद होता है ऑर पेर के निचे भि बहुत दर्द होता है ऐसा kiu
उत्तर: हेलों आप 33 वीक प्रेगनेट है अब तक आपका बेबी हेड डाउन पोजिशन में आ चुका हुआ होता है . उसके वेट के कारण आप नीचे की ओर दर्द और प्रेशर का अनुभव करती है आपको पैरों में भी दर्द है . अगर दर्द ज्यादा है तो आप डॉक्टर से सलाह लें ताकि आप निश्चिंत हो पाए कि आपका बेबी सुरक्षित है . तभी आप ज्यादा से ज्यादा आराम करें कोई भी थकान वाले काम ना करें सोते समय पैरों के नीचे पिलो लगाकर सपोर्ट दे.जब भी chale सपोर्ट ले के च लें आप पैरों की लिए हलकी हलकी एक्सर्साइज करे आप गुनगुने पानी में नमक डाल कर पैर डुबोए आपको पैर दर्द से राहत मिलेगी आप सरसों के तेल से पैरों की मालिश करे ब्लड सर्कुलेशन बढ़ने से आपका दर्द कुछ कम होगा कैल्सीअम प्रोटीन से भरपूर खाना खाएं जैसे मिल्क दही पनीर एग मूनगफ़लि और गुड भूनें चने आदि धूप में 20 से 25 मिनिट डेली बैठे सूर्य के प्रकाश में पाये जाने वाले विटामिन डी आपके पैर दर्द को कम करने और बच्चे के विकास में सहायक है पर्याप्त आराम करें ताकि ऐंठन से बच सकें प्रॉब्लम ज्यादा होने पर डॉक्टर से सलाह ले ले
»सभी उत्तरों को पढ़ें