23 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: मेरा हैमोग्लोबिन लगातार कम हो रह हे mujhe क्या karna chahiye

1 Answers
सवाल
Answer: हेलो डियर """''प्रेग्नेंसी में हारमोन keअलग-अलग प्रभाव बॉडी पर पड़ता है जिसके कारण बॉडी में HB की कमी हो जाती है सामान्यता महिलाओं की बॉडी में 12 से 14 ग्राम के बीच HBका होना बहुत ही आवश्यक है| आप अपने भोजन में गाजर ,चुकंदर ,पालक, ब्रोकली ,चुकंदर और गाजर का रस मिलाकर अनार, अनार का जूस ,किशमिश मुनक्का, सोयाबीन प्रोडक्ट, दूध के साथ मिक्स मुनक्का या दूध के साथ मिक्स किया हुआ खजूर, सभी प्रकार के ड्राइव फूड् मूंगफली, हरी पत्तेदार सभी प्रकार की सब्जियां आदि की मात्रा अपने खाने में बढ़ा दे इन सभी चीजों में हिमोग्लोबिन बढ़ाने वाले तत्व होते हैं जिसके कारण आपके शरीर में तेजी से हीमोग्लोबिन बढ़ने लगेगा | 10 से 12 गिलास पानी अपने भोजन में जारी रखें ताकि किसी भी प्रकार की पेट संबंधी समस्या ना हो ,संतुलित भोजन ,पर्याप्त आराम पर नियमित व्यायाम करें | ~टेक केयर~
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: मेरा 10 week हे muje blood बहुत कम हे 8.6 मज़े क्या karna चाहिए
उत्तर: हैलो डियर-अगर आपको गर्भावस्था के 10 सप्ताह में खून की कमी है तो आप परेशान ना हो गर्भावस्था मे़ अक्सर हिमोग्लोबिन कम हो जाती है इसमें घबराने वाली कोई बात नही।हिमोग्लोबिन 11 से 14 के बिच होना चाहीये ।अगर हिमोग्लोबिन कम है तो खान पान पर सही ध्यान देने से हिमोग्लोबिन बढा़या जा सकता है। गर्भावस्था में खुन बढ़ाने के उपाय --गाजर-चुकंदर का जूस व सलाद खून की कमी को पूरा करते हैं। रोज गाजर और चुकन्दर का रस पीएं। इससे खून की कमी ठीक हो जाती है। गाजर का मुरब्बा भी ले सकती हैं। -खून की कमी होने पर टमाटर और टमाटर का जूस भी ले सकते हैं। खून की कमी पूरी करने के लिए 10 से 12 खजूर के साथ 1 गिलास गर्म दूध पीएं। गर्भावस्था के दौरान गुड भी खून की कमी पूरी हो जाती है। रोजाना एक आंवले के मुरब्बा एक गिलास दूध केसाथ लेना चाहिए।  Take care
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरा वज़न हर महीने कम हो रह हे
उत्तर: प्रेग्नेंसी में ज्यादा भीड़भाड़, प्रदूषण और रेडिएशन वाली जगह पर जाने से बचना चाहिए। ऊबड़-खाबड़ रास्तों पर ट्रैवलिंग करने से भी बचें। मॉर्निंग सिकनेस से बचने के लिए नींबू-पानी या अदरक की चाय पी जा सकती हैं। दिनभर में चार या पांच बार तरल चीजें, जैसे छाछ, नींबू-पानी, नारियल पानी, फलों का जूस या शेक पीएं। इससे शरीर में पानी की कमी नहीं होगी। इन तीन महीनों में बच्चे के अंग बनने शुरू होते हैं। ऐसे में खाने की मात्रा से ज्यादा उसकी क्वॉलिटी पर ध्यान देना जरूरी है। प्रोटीन, कैल्शियम और आयरन से भरपूर चीजें ज्यादा खानी चाहिए। अपने खाने में दाल, पनीर, अंडा, नॉनवेज, सोयाबीन, दूध, दही, पालक, गुड़, अनार, चना, पोहा, मुरमुरे को शामिल करें। फल और हरी पत्तेदार सब्जियां भी खूब खाएं। शरीर में पानी की कमी बिल्कुल नहीं होनी चाहिए, क्योंकि डिलिवरी के वक्त काफी खून की जरूरत पड़ती है। बच्चा भी फ्लूइड में ही रहता है। हर 2 से 3 घंटों में नियमित मात्रा में कुछ ना कुछ जरूर खाते रहें। बच्चे के सही विकास के लिए आपको अपना वजन भी पहले तीन महीनों में आधा से लेकर 2 किलो तक बढ़ाना चाहिए। बच्चे के मस्तिष्क, तंत्रिका प्रणाली और आंखों के विकास के लिए अपने आहार में ओमेगा-3 फैटी एसिड के सेवन को भी बढाएं। बच्चे के दिमाग के विकास के लिए ओमेगा-3 और ओमेगा-6 बहुत जरूरी है। फिश लिवर ऑयल, ड्राइफ्रूट्स, हरी पत्तेदार सब्जियों और सरसों के तेल में यह अच्छी मात्रा में मिलते हैं। आयरन और फोलिक एसिड की गोलियां खाना भी शुरू कर दें। इससे शरीर में खून की कमी नहीं होती है। भारी वजन न उठाएं - ज्यादा डांस न करें - सीढ़ियां नहीं कूदें - हील न पहनें - ज्यादा ड्राइविंग न करें - लंबी यात्रा न करें - रस्सी न कूदें - कमर से झुकने के बजाय घुटने मोड़कर बैठें
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरा हैमोग्लोबिन कम है क्या ये ब्रेअस्त्मील्क इफ़ेक्ट krega
उत्तर: हेलो डियर बिल्कुल पड़ेगा यदि आप हेल्दी डाइट नहीं लेंगे तो बच्चा हेल्दी नहीं बन पाएगा डियर आप अपना हीमोग्लोबिन आसानी से बढ़ा सकते हैं अपनी नियमित डाइट में चुकंदर और हरी पत्तेदार सब्जि़यों के अलावा सेब, अनार, केला, अंजीर और खजूर जैसे आयरनयुक्त फलों को प्रमुखता से शामिल करें। चना, गेहूं के चोकर और रेड मीट में भी पर्याप्त मात्रा में आयरन पाया जाता है। इन चीज़ों के साथ संतरा, मौसमी, आंवला और नींबू जैसे खट्टे फलों का सेवन भी करना चाहिए क्योंकि शरीर में आयरन के अवशोषण के लिए उसके साथ विटमिन सी का सेवन अनिवार्य है, मां में यदि खून की कमी कमी होगी तो बच्चे ने भी जरूर होगी इसलिए दिए आप अपना बहुत ही ज्यादा ध्यान दें ताकि बच्चे को पूरा पोषण मिल सके और बच्चा हेल्दी बन सके:)
»सभी उत्तरों को पढ़ें