37 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: मेरा 9 महीना चल रहा ह क्या मै दाई तरफ सो सकती हूँ

3 Answers
सवाल
Answer: हेलो प्रेगनेंसी में आप जैसे सोने में कम्फर्टेबल हो वैसे सोएं लेकिन   कमर के बल पूरा जोर लगाकर सोना सही नहीं है। गर्भवती महिला को किसी एक ओर हल्‍की करवट से सोना चाहिए। इससे उसे किसी प्रकार की कोई समस्‍या नहीं hogi.हमारा हार्ट लेफ्ट साइड होता है ऐसे में बाएं ओर करवट लेकर सोना सबसे ज्‍यादा सही रहता है। इससे पेट पर भी ज्‍यादा जोर नहीं पड़ता, हार्ट बीट भी सही रहती है और ब्‍लड़प्रेशर भी कंट्रोल रहता है आप जब भी रेस्ट करे लेफ्ट साइड कर के सोएं अगर आप सोते सोते राइट साइड करवट लेती है तों कोई प्रॉब्लम नही है
  • avatar
    Jyoti Kesharwani1063 days ago

    thaiks

  • avatar
    anjali pandeytyuu1063 days ago

    वेल्कम टेक केयर

Answer: आपको जिस तरह से भी सोने मे आराम मिलें आप वैसे हि सोएं . कोई प्रॉब्लम नही होगी . ज़्यादा कोशिश करे लेफ्ट सोने का. प्रेग्नेंसी में आप जितना भी लेफ्ट करवट सो सके सोए. इससे आपको और आपके पेट मे पल रहे बच्चे को स्वस्थ बनाता है. लेफ्ट तरफ सोने से आपके और आपके शिशु की body मे रक्त का प्रवाह सही तरीके से होता है. जिससे आप के बेबी को भरपूर ऑक्सीजन और पोषण मिलता है| इससे आपके शरीर के अंदरूनी अंगो मे कम से कम दबाब पड़ता है. लेफ्ट करवट  मे सोने से बच्चे को कोई भी चोट लगने के कम से कम chances होते है.
Answer: hello dear प्रेग्नंसी के दौरांन आपको सही तरीके से सौना चाहिए।आप कभी भी एक पोजीशन में लगातार ना सोए। थोड़ी थोड़ी देर पर करवट बदलते रहिए। गर्भावस्था में बायीं करवट लेकर सोना फायदेमंद होता है।पेट के बल तो कभी भी नहीं सोना चाहिए क्योंकि इससे पेट पर दबाव पड़ता है जिससे आपकी बेबी को नुकसान पहुंच सकता है।और ज्यादा देर तक पीठ के बल सोने से भी आपकी पीठ मे दर्द होने लगेगा।आप अपने पैरो के बीच मे तकिया लगाकर भी सो सकती है जिससे आपको आराम्ं मिलेगा।
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: मुझे गर्दन मैं जलन बहुत होता ह मेरा 9 महीना चल रहा ह मै क्या करू पानी बहुत पीती हूँ
उत्तर: हेलो डियर, सीने मे जलन ऍसिडिटी की वजह से होती है ,प्रेगनेन्सी मे पाचन क्रिया स्लो हो जाती है जिसकी वजह से ऍसिडिटी गैस होता है , एक खाना से दूसरे खाना के बीच लंबा अंतराल होने से भी एसिडिटी बनने लगती . एसिडिटी की वजह से हार्टबर्न हो सकता है ठंडा दूध या एक कटोरी दही पीने से एसिडिटी में राहत मिलती है इसके साथ ही एक कप अदरक की चाय भी राहत पहुंचा सकती है, केला खाने से भी इसमें फायदा होता है. थोड़ी मात्रा में, लेकिन बार-बार भोजन खाती रहें खाना को अच्छी तरह चबाकर खाएं, रोजाना आठ से 12 गिलास पानी पीना जरुरी है, कोशिश करें कि रात को आप सोने से करीब तीन घंटे पहले अपना खाना खा लें,कई बार लेटने से भी छाती में जलन होने लगती है. खुब पानी पिय .
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरा दुसरा महीना चल रहा है क्या इन दिनों मै अण्डे खा सकती हूँ क्या ....?
उत्तर: हां खा सकते हैं अंडे में फैट मिनरल्स प्रोटीन विटामिन a&d जैसे पोषक तत्व होते हैं जो प्रेगनेंसी में आपके लिए बहुत फायदेमंद है अंडा में ओमेगा 3 फैटी एसिड और कोलिन होता है जो जो बेबी के दिमाग के विकास के लिए बहुत जरूरी होता है यह आपके कोलेस्ट्रॉल को भी कंट्रोल में रखता है प्रेगनेंसी में जितने कैलोरी की जरूरत होती है उसका बहुत हिस्सा अंडा पूरा कर देता है अंडा जितना हेल्दी होता है उसके कुछ नुकसान भी होते हैं आपका अंडा हमेशा अच्छे से उबला या पका हुआ होना चाहिए कच्चा अंडा प्रेगनेंसी में बिल्कुल भी नहीं खाना चाहिए 1 दिन में 1 अंडे से ज्यादा ना खाएं अगर आपका वेट ज्यादा है तो आप अंडा अवॉइड करें यह प्रोटीन का बहुत अच्छा स्रोत है
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरा 9 वा महीना चल रहा है क्या मै पास्ता खा सकती हूँ
उत्तर: हेलो डियर ,,,प्रेगनेंसी में आप पास्ता खा सकती हैं लेकिन केवल test के लिए कभी-कभी ही kha skti hai .. Pasta फास्ट फूड है जिसमें मैदे की मात्रा अधिक होती है प्रेगनेंसी के दौरान पाचन की प्रक्रिया धीमी हो जाती है ऐसे में पास्ता खाने से आपको एसिडिटी ,कब्ज ,पेट दर्द ,उल्टी आने की समस्या हो सकती है इसलिए अगर आपको मन करता है तो बहुत ही थोड़ी मात्रा में पास्ता खा सकती हैं | Padta खाने के बाद का पर्याप्त मात्रा में पानी पिएं या गर्म गुनगुना पानी ताकि आपका पाचन तेज हो और आपको किसी भी प्रकार की परेशानी ना हो|
»सभी उत्तरों को पढ़ें