27 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: मेरा ब्लड ओ निगेटिव है मुझे बताया की ब्लड बच्चे की बॉडी में जाने से खतरा होता है तो क्या करना छैये जिसे ब्लड बेबी मन जायें मेरा

1 Answers
सवाल
Answer: गर्भावस्था के दौरान अगर आपका ब्लड ग्रुप नेगेटिव है तो इससे बच्चा को कोई परेशानी नहीं होता लेकिन आपका Rh factor सेम होना चाहिए इसलिए शादी से पहले Rh factor की जांच करवाई जाती है क्योंकि पति और पत्नी का आर एच फैक्टर समान होने से बच्चे को किसी प्रकार की खतरा नहीं होती लेकिन अगर अब अलग अलग होने से बच्चों को थोड़ी बहुत परेशानी झेलनी पड़ती है यदि आपका आरएच पॉजिटिव है इसका मतलब यह होता है कि लाल रक्त कोशिकाओं की सतह पर एक खास protein मौजूद है और अगर कोशिका की satah पर यह फोटो मौजूद नहीं होता जब आप नेगेटिव होते हैं तो अब यह कंडीशन बहुत कम लोगों में होता है इसलिए ब्लड ग्रुप अलग अलग होने से फर्क नहीं पड़ता लेकिन आर एच फैक्टर अलग-अलग हो तो बच्चे पर असर होता है अगर आपका आर एच फैक्टर पॉजिटिव है और पति का नेगेटिव हो तो और आपका पॉजिटिव और बच्चे का नेगेटिव हो उस टाइम पर बच्चे का रक्त आपके रक्त से मिल जाता है तो आपके शरीर का डी antigen बच्चे की रात को बाहर तक समझकर उसके विपरीत प्रतिक्रिया दे सकता है इस स्थिति में आपका शरीर तरक्की के लिए एंटीबॉडीज का निर्माण करना शुरू कर देता है आज यही स्थिति आपका शरीर कुछ रोगप्रतिकारक पैदा कर सकता है के लाल रक्त कोशिकाओं को खत्म करना शुरू कर देता है इस स्थिति को संवेदनशील कहा जाता है इस समय दानशीलता से आपकी गर्भावस्था प्रभावित नहीं होती लेकिन लेकिन जब आप दूसरी बार मां बनती है और बच्चा आरएच पॉजिटिव होता है त एंटीबॉडी प्लेसेंटा तक पहुंचकर आपकी बेटी के शरीर में प्रवेश कर उसके लाल रक्त की कोशिकाओं को आक्रमण कर देती है ऐसे में बच्चे को एनीमिया होता है जो बच्चे के लिए बहुत ही घातक परिणाम होता है और यदि बच्चा ऐसी स्थिति में पैदा हो भी जाता है तो उनका लीवर इन कोशिकाओं को संभाल नहीं पाता इसलिए एंटी डी इंजेक्शन द्वारा इस स्थिति को नियंत्रित किया जाता है इस इंजेक्शन के द्वारा महिला के रक्त में एंटीबॉडी बनने से रोक देता है जिसके बाद बच्चा पैदा होता है तो उसका ब्लड का एक सैंपल लिया जाता है आज ब्लड ग्रुप और आर एच फैक्टर की स्थिति का पता लगाया जाता है यदि बच्चे का आरएच पॉजिटिव होता है तो ऐसे में एक और एंटी डी इंजेक्शन दिया जाता है क्या इंजेक्शन डिलीवरी के 72 घंटों के भीतर दी जाती है ताकि आपके प्रतिरक्षा प्रतिक्रिया को यह परेशानी ना दे सके
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: मेरा ब्लड ग्रुप ओ निगेटिव है मुझे क्या करना चाहिए
उत्तर: अगर आपका ब्लड ग्रुप नेगेटिव है तो आपको एक एंटी डी इंजेक्शन लेना पड़ेगा अपने डॉक्टर से इस बारे में बात कीजिए क्योंकि 28 हफ्ते से लेकर 32 हफ्ते तक एंटी डी इंजेक्शन दिया जाता है ताकि बच्चे के अंदर एंटीबॉडीज ना बने इस बारे में प्लीज अपने डॉक्टर से बात कीजिए और वह इंजेक्शन लीजिए
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: हेलो माम मेरा बेबी ब्रीच पोजिशन में है मुझे क्या karna चाहिए जिसे मेरा बेबी सही पोजिशन में आ जायें
उत्तर: Hello dear aap bilkul bhi tention na le kyu ki abhi aapka 32 week he na to baby aaram se position change karega agar 9 months me hota to dikkay thi lekin koi nahi aap daily 45 minutes walk kiya kare subhe shyam isse baby position change hone me help hogi
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरा ब्लड नही बाड़ मै क्या करु जिसे मेरा ब्लड जल्द से जल्द बड़ जायें
उत्तर: हेलो डियर आप अपना हीमोग्लोबिन आसनी से बड़ा सकती है कुछ चीज़ों को अपने खाने पीने में समिल करके चुकंदर से बहुत जल्दी खून हीमोग्लोबिन बनता है आप इसे रोज आपने खाने में सलाद या किसी भि रूप में खा सकती है खजूर को आप नियमित खाएँ तो आपको हीमोग्लोबिन की कमी दूर होगी किस्मिस ऑर अनार खाएँ ये आपका हीमोग्लोबिन बढ़ाने में काफी मदद् करेंगे
»सभी उत्तरों को पढ़ें