15 महीने का बच्चा

Question: मेरा बेबी टू मंथ का hai use bhut sardi h to kya kare

3 Answers
सवाल
Answer: छोटे बच्चों को सर्दी खांसी जुकाम और कफ से राहत के लिए कुछ घरेलू उपाय 1) सर्दी होने पर छोटे बच्चे का सिर हमेशा थोड़ी ऊपर रखें जिससे उसे सांस लेने में परेशानी ना हो। 2) खड़ी हल्दी को गर्म तवे पर हल्का सेंक लें और उसमें सरसों तेल की कुछ बूंदें मिलाकर उसे घोष कर पेस्ट बना लें इस पेस्ट से बच्चे का मालिश करें इससे बच्चे की शरीर में गर्माहट आएगी और उसे सर्दी से राहत मिलेगी 3) सरसों का तेल गर्म करके उसमें थोड़ी सी अजवाइन और लहसुन की कुछ कलियां डालकर पका लें ठंडा होने पर इसी तेल से बच्चे के पूरे शरीर में मालिश करें 4) सर्दी होने पर बच्चे को ठंडी हवाओं से बचाएं कान ढक कर रखें पैरों में मोजे पहनाकर रखें अक्सर बच्चों को सर्दी ठंडी हवा से होती है 5)को भी मेडिसीन बिना डा. सलाह के न दें।
Answer: हेलो डियर बेबी को आमतौर पर सर्दी हो ही जाती है आप बेबी को पुरी बाजू के कपड़े पहनाये और बेबी की साफ़ सफ़ाई का पूरा ध्यान रखे ।बेबी के कमरे का तापमान नॉर्मल रखिये।बेबी की सर्दी को दूर करने के लिए आप निम्न उपाय अपना सकती है---- @सरसों के उबलते तेल में लहसुन और लौंग डालें और इस तेल तो कोल्द करके बेबी की छाती पर लगाने से भी खांसी मे आराम मिलता है। @पैन पर कुछ अजवायन के बीज भूनें और इसे साफ सूती कपड़े पर रख दें, और पोटली की तरह से बना लें। इससे बच्चे की छाती, पैरो के तलवो, हथेली और पीठ पर सीकाई किजिए। #अपने बच्चे के पैरों के तलवो मे vicks रगड़ें और सूती या ऊनी मोजे पहनाए।
Answer: Hello...dear आप की बेबी अभी बहुत छोटी है..आप उसकी चेस्ट पर काऊ घी क साथ सेन्धा नमक मिलकर रब करे...सरसों क तेल को २ स३ लहसुन की कलियां डालकर गए कर क भी बेबी क बैक चेस्ट और हाथ पेरों मई अच्छे से रब करे...बaबी को थोड़े गर्म रूम में रखे.....यसे बेबी को रिलीफ हो जयga...ओर आप अज्वाइन की पोटली से बेबी की छाती को सेक करे।cough से रहत मिलेगी...अधिक प्रॉब्लम लगे तो आप डॉक्टर क पास ले जा सकती है...ok..take care
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: मaम मेरा बेबी टू मंथ का हो gia hai muje kabj rehti hai iske liae kya krna chaiea
उत्तर: हेलो dear आप बोहोत से घरेलु नुस्के अपना सकते हो किसी मेडिसिन के क्युकी मेडिसिन्स FEEDING MOMS अवोइड करि जाती है क्युकी की ये आपके लिए और आपके बच्चे के लिए ठीक नहीं होगी। आप निम्बू पानी ले सकते हो हल्के गरम पानी के साथ मोर्निंग में, आप टिल फ्रूट्स खा सकते हो जैसे राइसिन (किसमिश), डेट्स (खजूर) जो की आपकी कॉन्स्टिपेशन को ठीक करने में हेल्प करेगा और आप योगर्ट (दही) भी खा सकते हो जो की आपका दिसजेस्टिव ठीक करती है सबसे में इम्पोर्टेन्ट ये है की पानी खूब पीएं खाना खाने के तुरंत बाद पानी नहीं लें कोशिश करें हमेशा खाना खाने के बाद हल्का गुनगुना पानी पीएं गुड लक ।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरा बेबी टू मंथ का है नाभि फूल गायी है क्या कोई सलुशन hai
उत्तर: यदि बच्चे की नाभि बड़ी हो गई हो full गई हो या फिर अंदर नहीं जा रही हो तो ऐसे में आपको चिंता करने वाली बिल्कुल भी बात नहीं है| जब मां के पेट में bachha रहता है तो उसी से गर्भनाल जुड़ा रहता है जिसके द्वारा बच्चे को पूरा न्यूट्रिशन और ऑक्सीजन मिलता है जिसके द्वारा बच्चे का पूरा ग्रोथ होता है| लेकिन जब बच्चे की पैदा होने के बाद गर्भनाल को कट किया जाता है तो कुछ वेस्ट जो अंदर की ओर होती है vah sithil ho jati hai काम करना बंद कर देती है और नाभि के पीछे की साइड में गैप हो जाता है और बच्चे जब कुछ हलचल करते हैं कुछ एक्टिविटी करते हैं तो उस समय बच्चे की aante जो होती हैं वह उस gape के अंदर आ जाती है जिसकी वजह से नाभि फूल जाती है, बाहर निकल जाती है अगर बच्चे की नाभि बाहर है और वह रोता है तो वह उसके कारण नहीं होता क्योंकि इसमें किसी प्रकार का दर्द नहीं होता। इसके लिए डॉक्टर के पास भी कोई दवाई नहीं होती क्योंक nabhi अपने आप अंदर जाती है इसे अंदर जाने के लिए दो से ढाई साल भी लग सकते हैं। नाभि को अंदर जाने के लिए आप कुछ घरेलू उपाय भी कर सकते हैं अगर बच्चे क जैसे जैसे vikas होते जाता है तो यह आते भी अपनी जगह पर चली जाती है जिसके वजह से ना भी क l भी बाहर निकलना बंद हो जाता है यह पूरी तरह से ठीक हो जाता है इसलिए आप बिल्कुल चिंता ना करें। अगर आप नाभि पर हल्के दबाव डालते हैं तो भी इसके वजह से नाभि जल्दी अंदर जाता है जैसे आप 1 coin Ko बच्चे के नाभि पर चिपका कर रखें ताकि बच्चों का दबाव पड़े तो वह अपनी स्थिति पर चला जाए सिक्कों को चिपकाने के लिए आप स्टेराइलtap का इस्तेमाल करें ताकि बच्चे को किसी प्रकार का इन्फेक्शन ना हो|
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरा बेबी टू ईयर का hai मि दूसरा बेबी चाहती
उत्तर: अगर आपका पीरियड रेग्युलर है और 28 से 30 दिनों का साइकल है तो, आप अपने पीरियड के 11से 22दिन के बिच जरूर कोशिश करे क्युकी हमारा एग ज्यादातर पीरियड के 14 दिन को ovulate होता है, और वह हमारे योनि में सिर्फ 24 घंटे से 48 घंटे ही जीवित रहता है। इसी बीच अगर कोशिश करे तो आपके Pregnancy के चांस बढ़ जाते हैं।पुरुषो के शुक्राणु महिलाओँ की योनि में ३ से ४ दिन जीवित रह सकते हैं।इस्लिय ओवुलेशन के २ से ३ दिन पहले और बाद में भी कोशिश करनी चहिय। अगर आपका सी सेक्शन से आपरेशन हुआ है तो एक बार बेबी प्लॅन करने से पहले डॉक्टर से सलाह ले ...
»सभी उत्तरों को पढ़ें