2 महीने का बच्चा

Question: मेरा बेटा 1 month 22 days ka है वो अवि वी patla potty karta hsi क्या karu

2 Answers
सवाल
Answer: हेलो डियर आप परेशान ना हो बेबी को बार बार पोटी लगना आम बात है। क्यूकी अभी बेबी का पाचन तंत्र बिल्कुल भी मजबूत नही होता है उसे कुछ भी पचने में अभी थोड़ी परेशानी होती है इसलिए आप जब उसे दूध पिलाती है तो बेबी पोटटय बार बार करने लगता है।आप बस अपनी बेबी को थोड़ी थोड़ी देर पर अपना दूध पिलाएं ।उसे डीहाड्रते ना होने दें। अगर आपका बेबी 12 से ज्यादा बार पॉटी कर रहा है तो अपने डॉक्टर को जरूर दिखाएं।
Answer: आप टेंशन ना लें क्योकि बेबी 6 मंथ तक ऐसी ही पोटी करते है अगर अभी से बेबी पोटी टाइट करने लगा तो आप परेशान हो jayengi . अभी वो ओन्ली दूध pita है वो भी माँ का जो कि कितना पतला होता है . इसलिए वो पतली potty करता है इसमें परेशान होने की कोई बात नही है 6 मंथ बाद वो जब थोड़ा थोड़ा कुछ खाने लगेगा और थोड़ा बहुत गाय का दूध पीने लगेगा तो potty सही करने लगेगा . ओके dear
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: मेरा बेटा महिने का एच के.आर. वो अवि कुछ वी nahi खाता
उत्तर: आप परेशान ना हो , बच्चे इज उमर मे ऐसा करते है , आप कोशिश करते रहें बच्चे को खिलाने की , बच्चा खाने लगेगा .. खाना खिलाते समय बच्चे का आप धयान खाने से हटा दे , जब भि खाना खिलऐ बच्चे को एक जगह बिठा दे , बेबी के साथ कोई गेम खेले या कोई गाना गाये , बीच बीच मे बच्चे को खिलऐ , बच्चा पुरा नही खाता है तो फोर्स ना करे , कुछ देर बाद फिर खिलायें .. अब जब आपका बच्चा 9 महीने का हो चुका है तो अब आप उसको कई प्रकार के आहार दे सकती हैं। ऐसे बहुत से आहार जो आप पुरे घर के लिए बनाती हैं और जिसमे नमक और मसाला कम हो  बच्चों को रोटी या पराठा देते वक्त उसको छोटे-छोटे टुकड़ों में तोड़ दें, अच्छी तरह पका हुआ हो और नरम हो नौ महीने पुरे होने पे आप अपने बच्चे को non-vegetarian आहार भी दे सकते हैं जैसे की अंडा , chicken, और मछली ९ महीने की आयु में, ज्यादातर बच्चे दिन में ३ आहार और एक बार थोड़ा स्नैक लेते हैं सूप  अपने बच्चे को चिकन या हैल्दी सब्जियों का सूप बनाकर de ओट्स  ओट्स बच्चे के बेहतर पेट के लिए बैस्ट है,इससे बच्चों को कब्ज की समस्या भी नहीं होगी।    सब्‍जियां  बच्चे को ऐसी सब्जियां खिलाएं जो आसानी से बच भी जाए और प्रोटीन बी भरपूर मिले,शकरकंद और उबली गाजर ऐसी ही सब्जियां . मुलायम चावल ,सूजी हलवा मूंग दाल की खिचड़ी रागी हलवा पांच दालों की खिचड़ी दलीय सब्जियों की खिचड़ी सेवइयां सूजी उपमा  गाजर का हलवा सब्जियों का puree सादी या मीठी दही बेहतर होगा कि बच्चे को सादी दही खिलाए,अगर वह नहीं खा रहा तो उसका टेस्ट चेंज करने के लिए मीठा मिला लें, याद रखें कि दही बच्चे को हमेशा सुबह के समय ही खिलाएं.
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरा बेटा 1 साल 3 महीने का है वो दूध बिल्कुल वी नही पीना चहता है क्या karu
उत्तर: हेलो डियर ऐसा होता है कि जब बच्चे कुछ नमकीन मीठा खाना स्टार्ट कर dete है तब मिल्क पीने मे इंटरेस्ट नही दिखाते ऐसे में आप कुछ दिन बच्चे को मिल्क देना अवोइड करे या मिल्क में कुछ फ्लेवर मिला कर दे जैसे चॉकलेट वनिला straberry etc आप का बेबी मिल्क नही पी रहा है तों आप बच्चे को मिल्क प्रॉडक्ट जैसे पनीर दही छाछ लस्सी मलाई दे सकती है बच्चा पनीर दही ना खायें तो आप बच्चे के खाने में पनीर किस कर डाल सकती है बच्चे की रोटी मलाई पनीर या मिल्क में आटा गून्द कर बना सकती है घबराये नही लगभग सभी बच्चे ऐसा करते है आप बच्चे को प्रोटीन कैल्सीअम अन्‍य खाने से दे कोई प्रॉब्लम नही होगी
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरा बेबी 4 month का है वो potty बहुत hard karta है क्या karu
उत्तर: फॉर्मूला दूध पीने वाले शिशु को कब्ज होने की संभावना ज्यादा होती है, क्योंकि स्तनदूध की तुलना में फॉर्मूला दूध को पचा पाना मुश्किल हो सकता है शिशु की टांगों को साइकिल चलाने के ढंग से घुमाएं इससे उसकी सख्त पॉटी बड़ी आंत में से नरम होकर थोड़ा खिसकना शुरु हो सकेगी फॉर्मूला दूध पीता है, तो उसे एक से दूसरे फीड के बीच अतिरिक्त पानी देती रहें। मगर, इसके लिए फॉर्मूला दूध में ही ज्यादा पानी न मिलाएं अगर आपके शिशु ने ठोस आहार लेना शुरु कर दिया है, तो उसे पर्याप्त मात्रा में उबालकर ठंडा किया गया पानी और फलों का जलमिश्रित रस दें
»सभी उत्तरों को पढ़ें